होम /न्यूज /व्यवसाय /

LIC IPO के इंतजार में बैठे निवेशकों के लिए जानने लायक कुछ जरूरी बातें

LIC IPO के इंतजार में बैठे निवेशकों के लिए जानने लायक कुछ जरूरी बातें

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सरकार इसी सप्ताह आईपीओ की टाइमिंग पर एक अहम फैसला ले सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सरकार इसी सप्ताह आईपीओ की टाइमिंग पर एक अहम फैसला ले सकती है.

सरकार ने अभी तक एलआईसी के आईपीओ की लॉन्च डेट का खुलासा नहीं किया है. हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सरकार इसी सप्ताह आईपीओ की टाइमिंग पर एक अहम फैसला ले सकती है.

नई दिल्ली. सरकार ने अभी तक एलआईसी के आईपीओ की लॉन्च डेट का खुलासा नहीं किया है. ऐसे में एलआईसी आईपीओ की बाट जोह रहे निवेशकों का इंतजार लंबा होता जा रहा है. हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सरकार इसी सप्ताह आईपीओ की टाइमिंग पर एक अहम फैसला ले सकती है.

सरकार द्वारा आईपीओ के ड्राफ्ट पेपर फाइल किए जा चुके हैं, लेकिन रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे तनाव से पूरी दुनिया और दुनिया को अलग-अलग बाजारों में फैली अनिश्चितताओं के बीच आईपीओ की तारीख का निर्णय नहीं हो सका है. इससे पहले समझा जा रहा था कि 31 मार्च से पहले ये आईपीओ बाजार में आ जाएगा.

ये भी पढ़ें – Stock Market: दो दिन में  ही निवेशकों की झोली में आए 5.9 लाख करोड़ रुपये

सरकार एलआईसी में अपनी हिस्सेदारी बेचकर लगभग 60,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. यदि आप इसके आईपीओ में निवेश करना चाहते हैं तो आपको इससे संबंधित कुछ बातों के बारे में जरूर जान लेना चाहिए.

एलआईसी ड्राफ्ट पेपर्स

भारत सरकार ने एलआईसी का आईपीओ लाने के उद्देश्य से 13 फरवरी 2022 को बाजार नियामक के पास रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (DRHP) जमा करवा दिए थे. इन पेपर्स में पिछले साल सितंबर को खत्म हुई तिमाही तक के वित्तीय परिणाम भी बताए गए थे. इस डीआरएचपी को सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) का अप्रूवल भी मिल चुका है.

ये भी पढ़ें – बदले नियम : अब IPO निवेशकों को UPI और SMS से मिलेगी जानकारी

सरकार ने मार्च में फिर से दिसंबर में खत्म हुई तिमाही तक के परिणाम अपडेट करके फिर से ड्राफ्ट पेपर जमा कराए थे. इसमें दी गई जानकारी के अनुसार, वित्तीय स्थिति के अनुसार जीवन बीमा निगम ने अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में 235 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया. अप्रैल-दिसंबर 2021 में शुद्ध लाभ एक साल पहले के 7.08 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,671.57 करोड़ रुपये हो गया.

एलआईसी आईपीओ की तिथि

जमा किए गए ड्राफ्ट पेपर्स के आधार पर सरकार के पास एलआईसी का आईपीओ लॉन्च करने के लिए 12 मई तक का समय है. यदि इस समय के दौरान आईपीओ लॉन्च नहीं किया गया तो फिर से ड्राफ्ट पेपर जमा करने की आवश्यकता होगी.

ये भी पढ़ें – जब सेंसेक्स 4000 अंक डूबा, इन स्मालकैप शेयर्स ने डबल डिजिट में दिया मुनाफा

एलआईसी आईपीओ का साइज

सरकार चालू वित्त वर्ष में 78,000 करोड़ रुपये के विनिवेश लक्ष्य को कम करने के लिए एलआईसी में लगभग 31.6 करोड़ या 5 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचकर 60,000 करोड़ रुपये से अधिक की उम्मीद कर रही है.

एलआईसी आईपीओ की वैल्यू

30 सितंबर, 2021 तक एलआईसी की एंबेडेड वैल्यू 5.4 लाख करोड़ रुपये आंकी गई है. एंबेडेड वेल्यू वह होती है, जिसमें कंपनी के कन्सोलिडेटेड शेयरहोल्डर्स की वैल्यू को मापा जाता है. यह वैल्यू अंतरराष्ट्रीय एक्चुरियल फर्म मिलिमन एडवाइजर्स (Milliman Advisors) द्वारा आंकी गई है. हालांकि, डीआरएचपी में एलआईसी के बाजार मूल्यांकन का खुलासा नहीं है, लेकिन इंडस्ट्री के मानकों के अनुसार यह एंबेडेड मूल्य का लगभग 3 गुना हो सकता है.

Tags: LIC IPO, Life Insurance Corporation of India (LIC)

अगली ख़बर