Home /News /business /

lic ipo latest govt may cut size sharply know when ipo is hitting the market arnod

LIC IPO: 2 मई को खुल सकता है अब तक का सबसे बड़ा पब्लिक इश्यू, साइज में भी कटौती की संभावना

मई के पहले हफ्ते में एलआईसी का पब्लिक इश्यू आने की संभावना है.

मई के पहले हफ्ते में एलआईसी का पब्लिक इश्यू आने की संभावना है.

एलआईसी के आईपीओ के जरिये सरकार 66,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती थी. मगर अब इसके जरिये  सिर्फ 30,000 करोड़ रुपये जुटाए जाने की संभावना जताई जा रही है. इसमें 21,000 करोड़ रुपये पब्लिक इश्यू के जरिये और 9,000 करोड़ रुपये ग्रीन शू विकल्प के जरिये जुटाए जाने की संभावना है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारतीय शेयर बाजार के इतिहास के सबसे बड़े पब्लिक इश्यू का इंतजार अगले महीने की शुरुआत में खत्म हो सकता है. अगले हफ्ते सरकार जीवन बीमा कंपनी एलआईसी के आईपीओ (आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) का प्राइस बैंड तय करने सहित इसके बाजार में दस्तक देने की तारीख की घोषणा कर सकती है. इसके अलावा इसके आकार में भी कटौती की जा सकती है.

एलआईसी के आईपीओ के जरिये सरकार लगभग 65,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती थी. मगर अब इसके जरिये सिर्फ 30,000 करोड़ रुपये जुटाए जाने की संभावना जताई जा रही है. इसमें 21,000 करोड़ रुपये पब्लिक इश्यू के जरिये और 9,000 करोड़ रुपये ग्रीन शू विकल्प के जरिये जुटाए जाने की संभावना है. एलआईसी आईपीओ से जुड़े सूत्रों ने बिजनेस स्टैंडर्ड को यह जानकारी दी है.

ये भी पढ़ें- LIC IPO में अनिश्चितता के कारण तीन अन्य सरकारी कंपनियों के आईपीओ में हो सकती है देरी, पढ़िए डिटेल

मई के पहले हफ्ते में आएगा आईपीओ

सूत्रों ने बताया कि एलआईसी का आईपीओ 2 मई को खुल सकता है. साइज में कटौती के बावजूद यह देश का अब तक सबसे बड़ा पब्लिक इश्यू होगा. इससे पहले पेटीएम ने आईपीओ के जरिये 18,300 करोड़ रुपये जुटाए थे. जीवन बीमा की इस दिग्गज कंपनी में सरकार अपनी 5 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है. इस कंपनी में अभी सरकार की पूरी 100 फीसदी हिस्सेदारी है.

वैल्यू में कटौती

सूत्रों के मुताबिक, कंपनी की वैल्यू भी घटाकर 6 लाख करोड़ रुपये कर दी गई है. एलआईसी आईपीओ के लिए मार्केट रेगुलेटर सेबी के पास फरवरी 2022 में जो दस्तावेज जमा कराए गए थे उसमें कहा गया था कि सरकार की योजना 12 लाख करोड़ रुपये के बाजार मूल्य पर आईपीओ के जरिये करीब 65,000 करोड़ रुपये जुटाने की हैं. जानकारों का कहना है कि एलआईसी की वैल्यू में कटौती से इसके आईपीओ के सफल होने की संभावना अब बहुत बढ़ गई है. सरकार की कोशिश है कि निवेशकों को इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा मिले.

ये भी पढ़ें- रेनबो चिल्ड्रन मेडिकेयर IPO : 27 अप्रैल को खुलेगा इश्यू, क्या रहेगा इसका प्राइस बैंड, देखिए

ग्रीन शू विकल्प के तहत आईपीओ लाने वाली कंपनी को ज्यादा निर्गम रखने का विकल्प दिया जाता है ताकि बाजार की मांग और परिस्थितियों के अनुसार आईपीओ के आकार में बदलाव किया जा सके. साथ ही कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग अच्छी कीमत पर हो. लिस्टिंग के समय यह इश्यू प्राइस से नीचे न गिरे.

Tags: IPO, LIC IPO, Life Insurance Corporation of India (LIC)

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर