Home /News /business /

lic ipo over 30 percent issue booked policyholders portion fully subscribed prdm

LIC IPO लांच, शुरुआती बोली में किसकी रही कितनी हिस्‍सेदारी, पॉलिसीधारकों ने लगाई सबसे ज्‍यादा बोली

सरकार इस आईपीओ के जरिये अपनी 3.5 फीसदी हिस्‍सेदारी बेच रही है.

सरकार इस आईपीओ के जरिये अपनी 3.5 फीसदी हिस्‍सेदारी बेच रही है.

लंबे इंतजार के बाद आज सुबह जब एलआईसी का आईपीओ निवेशकों के लिए खोला गया तो इसे खरीदने वालों की होड़ मच गई. लांच होने के महज दो घंटे के भीतर एक तिहाई सब्‍सक्रिप्‍शन पूरा हो चुका था. पॉलिसीधारकों ने सबसे ज्‍यादा बोली लगाई और उनके लिए आरक्षित शेयरों का 95 फीसदी हिस्‍सा बिक गया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. दो साल का इंतजार आखिरकार आज पूरा हुआ. निवेशकों के सामने LIC का IPO लांच होते ही खरीदने की होड़ मच गई. बुधवार सुबह इश्‍यू खुलने के महज दो घंटे के भीतर ही 27 फीसदी सब्‍सक्रिप्‍शन पूरा हो गया. सबसे ज्‍यादा बोली कंपनी के पॉलिसीधारकों ने लगाई है.

दरअसल, खुदरा निवेशकों को इश्‍यू प्राइज पर छूट भी दी जा रही थी. यही कारण रहा कि आईपीओ खुलते ही निवेशक टूट पड़े. कुल आईपीओ साइज का 27 फीसदी सब्‍सक्रिप्‍शन दोपहर 12 बजे तक पूरा हो चुका था. इसमें सबसे ज्‍यादा बोली पॉलिसीधारकों ने लगाई और उनके लिए आरक्षित शेयरों में से 95 फीसदी का सब्‍सक्रिप्‍शन पूरा हो चुका है. इसके बाद एलआईसी के कर्मचारियों का नंबर आता है, जिनके लिए आरक्षित शेयरों में से 46 फीसदी का सब्‍सक्रिप्‍शन दोपहर 12 बजे तक हो चुका है.

ये भी पढ़ें – LIC IPO: संसद में वित्त मंत्री की घोषणा के बाद से आईपीओ लॉन्च होने तक, सबकुछ

खुदरा निवेशकों ने भी अपने लिए आरक्षित कुल इश्‍यू साइज का 30 फीसदी सब्‍सक्राइब कर लिया है. यह तेजी बता रही है कि निवेशक इस आईपीओ को लेकर कितने उत्‍साहित हैं. साथ ही ग्रे मार्केट में लगातार बढ़ रहे प्रीमियम को देखते हुए भी निवेशकों में मोटा मुनाफा कमाने की होड़ मची है. गैर संस्‍थागत निवेशकों ने भी 12 बजे तक 5 फीसदी सब्‍सक्रिप्‍शन पूरा कर लिया था.

किसके लिए कितना साइज रिजर्व

सरकार इस आईपीओ के जरिये एलआईसी में अपनी 3.5 फीसदी हिस्‍सेदारी यानी 22.13 करोड़ शेयर बेच रही है. आईपीओ में उतारे गए कुल शेयरों में से 10 फीसदी को एलआईसी के पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित रखा गया है. इसके अलावा 0.7 फीसदी शेयर एलआईसी के कर्मचारियों के लिए आरक्षित हैं, जबकि खुदरा निवेशकों के लिए 31.25 फीसदी शेयर आरक्षित किए गए हैं.

60 रुपये तक मिल रही छूट

सरकार ने एलआईसी के आईपीओ में बोली लगाने वाले पॉलिसीधारकों को प्रति शेयर 60 रुपये और खुदरा निवेशकों को प्रति शेयर 45 रुपये का डिस्‍काउंट देने की बात कही है. एक शेयर का मूल्‍य 902-949 रुपये रखा गया है और निवेशक एक लॉट के रूप में ही बोली लगा सकते हैं. एक लॉट में 15 शेयर होंगे और अपर प्राइज बैंड के हिसाब से इसकी कुल कीमत 14,235 रुपये होगी. एक निवेशक अधिकतम 14 लॉट के लिए बोली लगा सकते हैं, जिसकी कुल कीमत 1,99,290 रुपये होगी.

ये भी पढ़ें – LIC IPO GMP: तेजी बढ़ रहा आईपीओ का ग्रे मार्केट भाव, एक्सपर्ट से समझिए निवेश करें या बचें ?

एंकर निवेशकों ने भी खूब लगाया दांव

सरकार ने एंकर निवेशकों लिए एलआईसी का इश्‍यू दो दिन पहले 2 मई को ही खोल दिया था. तब महज कुछ घंटों के भीतर ही यह ओवर सब्‍सक्राइब हो गया और एंकर निवेशकों से 5 हजार करोड़ रुपये जुटा लिए गए. ग्रे मार्केट में कंपनी के शेयर करीब 10 फीसदी प्रीमियम पर चल रहे हैं. आईपीओ 17 मई को शेयर बाजार में लिस्‍ट होगा और तब एलआईसी बाजार पूंजी के लिहाज से देश की पांचवीं सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी.

Tags: Investment and return, LIC IPO, Life Insurance Corporation of India (LIC)

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर