सिर्फ 518 रुपये महीने खर्च कर लें LIC की बेहद खास पॉलिसी, बोनस के साथ मिलेंगे ये फायदे

सिर्फ 518 रुपये महीने खर्च कर लें LIC की बेहद खास पॉलिसी, बोनस के साथ मिलेंगे ये फायदे
भारतीय जीवन बीमा निगम

LIC के जीवन लाभ एंडाउमेंट प्लान के तहत पॉलिसी धारक के साथ नॉमिनी को भी कई सुविधाएं मिलती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 8, 2019, 12:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय ​जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation of India) का जीवन लाभ एंडाउमेंट प्लान (Jeevan Labh Endowment Plan) सबसे अधिक बिकने वाले इंश्योरेंस प्लान्स में से एक है. 8 साल से लेकर 59 साल की उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध यह इस प्लन में कई तरह की सुविधाएं मिलती हैं. इस प्लान के तहत मैच्योरिटी पर या पॉलीसी धारक (Policyholders) की मौत होने पर नॉमिनी को सभी सुविधाएं उपलब्ध होती हैं. आइए जानते हैं एलआईसी के इस खास जीवन लाभ पॉलिसी के बारे में.

क्या है योग्यता
इस प्लान का लाभ 8 साल से लेकर 59 साल की उम्र का कोई भी व्यक्ति ले सकता है. इसमें प्लान में कम से कम रकम 2,000 लाख रुपये इंश्योर्ड होती है. इंश्योर्ड रकम की कोई अधिकतम सीमा नहीं है. यह प्लान अधिकतम 75 साल की उम्र में मैच्योर हो जाता है. साल के लिहाल से देखें तो इस पॉलिसी का टर्म 16 या 21 या 25 साल की होती है. 16 साल के लिए प्रीमियन भुगतान का समय 10 साल, 21 साल के लिए 15 साल और 25 साल के लिए 16 साल होता है.

ये भी पढ़ें: 31 दिसंबर तक नहीं किया ये काम तो अवैध हो जाएगा आपका पैन, इन बातों का रखें ध्यान
टैक्स के फायदे


अन्य एलआईसी प्लान की तरह ही जीवन लाभ प्लान में भी टैक्स के फायदे मिलते हैं. इस प्लान के तहत पॉलिसीधारक इनकम टैक्स के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट का लाभ ले सकता है. साथ ही, प्लान के मैच्योरिटी के समय इनकम टैक्स के सेक्शन 10 10डी के तहत टैक्स छूट का लाभ ले सकता है.

क्या हैं LIC जीवन लाभ एंडाउमेंट प्लान के फायदे
अगर इस प्लान की मैच्योरिटी तक पॉलिसीधारक जीवित रहता है तो उन्हें मैच्योरिटी की सभी सुविधाएं मिलती हैं. इसके साथ ही उन्हें रिवीजनरी बोनस और अतिरिक्त बोनस भी मिलता है. अगर इस पॉलिसी का लाभ लेने वाले व्यक्ति की मौत हो जाती है तो भी नॉमिनी को इस प्लान के तहत सभी सुविधाएं दी जाती हैं. अगर कोई रिवीजनरी बोनस या अतिरिक्त बोनस बनता है तो भी इसे नॉमिनी को चुकाया जाता है. लेकिन, इसके लिए ये जरूर ध्यान देना होगा कि सभी सुविधाएं तभी मिलती हैं, जब सभी प्रीमियम जमा कर दिया गया हो.

ये भी पढ़ें: आज ही फुल करा लें टंकी, इतने रुपये प्रति लीटर बढ़ सकता है पेट्रोल-डीजल का भाव!

क्या है कवरेज
एलआईसी के इस प्लान के तहत पॉलिसीधारकों की मौत के बाद कुल प्रीमियम का कम से कम 105 फीसदी भुगतान किया जाता है. अगर कोई रिवीजनरी बोनस बनता है तो यह सालाना प्रीमियम का 10 गुना होता है. वहीं, इस प्लान की मैच्योरिटी पूरी हो जाती है तो कुल इंश्योर्ड रकम का भुगतान तो किया ही जाता है, साथ में अगर रिवीजनरी बोनस और अतिरिक्त बोनस भी दिया जाता है.

पॉलिसीधारक के सुसाइड पर क्या होगा
अगर पॉलिसीधारक इस प्लान को लेने के 1 साल के अंदर सुसाइड कर लेता है तो उसे इस प्लान का कोई भी लाभ नहीं मिलेगा. हालांकि, जमा किए गए प्रीमियम का 80 फीसदी नॉमिनी को दिया जाता है. इसपर कोई ब्याज नहीं मिलता है.

ये भी पढ़ें: फिर दिखा चीन को लेकर डोनाल्ड ट्रंप का तेवर, कहा- कर्ज देना बंद करे विश्व बैंक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading