लाइव टीवी

LIC पॉलिसी का प्रीमियम भरना भूल गए तो न लें टेंशन, यहां जानें इससे जुड़े सभी जरूरी नियम

News18Hindi
Updated: October 20, 2019, 8:08 AM IST
LIC पॉलिसी का प्रीमियम भरना भूल गए तो न लें टेंशन, यहां जानें इससे जुड़े सभी जरूरी नियम
आज हम आपको LIC के प्रीमियम भुगतान से जुड़ी की अहम जानकारियां दे रहे है.

अगर आप किसी वजह से अपनी पॉलिसी का प्रीमियम भरना भूल गए है तो प्रीमियम भुगतान के लिए छूट दी जाती है. आइए जानें LIC की ओर से जारी सभी नियमों के बारे में...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2019, 8:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आपने भी अगर LIC (Life Insurance Corporation) की पॉलिसी ली है तो ये खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. वैसे तो  LIC ऑनलाइन प्रीमियम भरने की सुविधा भी देती है. साथ ही, एलआईसी आपको प्रीमियम भरने का ग्रेस पीरियड देती है. इससे आपको प्रीमियम भरने का और अधिक टाइम मिल जाता है. इसीलिए आज हम आपको LIC के प्रीमियम भुगतान से जुड़ी की अहम जानकारियां दे रहे है.

आइए जानें LIC प्रीमियम से जुड़ी सभी काम की बातें...

(1) LIC की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, अगर आप किसी वजह से अपना प्रीमियम भरना भूल गए है तो प्रीमियम भुगतान के लिए छूट दी जाती है. अगर आसान शब्दों में कहें तो आपने प्रीमियम निर्धारित तिथि तक नहीं भरा तब भी आपको बिना ब्याज के प्रीमियम भरने के लिए कुछ समय मिलता है. इस अवधि को ग्रेस पीरियड यानी छूट की अवधि कहते हैं (इसमें कुछ प्लान शामिल नहीं हैं). उन पॉलिसियों के लिए छूट की अवधि निर्धारित तिथि से पंद्रह दिन है जहां प्रीमियम का भुगतान मासिक है.तिमाही, छमाही या वार्षिक प्रीमियम भुगतान वाली पॉलिसियों के लिए यह अवधि एक महीना लेकिन 30 दिन से कम नहीं है.

अब सवाल उठता है कैसे और कहां LIC के प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं. आइए जानें इसके बारे में...

(2) LIC की ब्रांच में नकदी, स्थानीय चेक यानी धनादेश (चेक के भुगतान मिलने पर), डिमांड ड्राफ्ट के जरिये प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं.डीडी, चेक या मनी आर्डर डाक के जरिये भेजे जा सकते हैं. आप अपना प्रीमियम हमारी किसी भी शाखा में भर सकते हैं क्योंकि हमारी 99 प्रतिशत शाखाएं नेट द्वारा जुड़ी हुई हैं.

ये भी पढ़ें-LIC की खास पॉलिसी 1 हजार रुपये जमा करने पर मिलेगा 1 लाख, Loan की भी सुविधा

(3) कई बैंक प्रीमियम की रकम आपके खाते में काटने के निर्देश स्वीकार करते हैं . इस तरह आप अपने बैंक को निर्देश दे सकते हैं कि वह आपके खाते से प्रीमियम की रकम काटे और बैंकर चेक के माध्यम से एल.आई.सी. को पॉलिसी बांड में उल्लिखित निर्धारित तिथि तथा महीनों में दे दें.
Loading...

(4) इंटरनेट के .जरिये प्रीमियम का भुगतान इंटरनेट से सेवाप्रदाताओं जैसे एच.डी.एफ.सी. बैंक, आई.सी.आई.सी.आई. बैंक, टाइम्स ऑफ मनी, बिल जंक्शन, यूटीआई बैंक, बैंक ऑफ पंजाब, सिटी बैंक, कार्पोरेशन बैंक, फेडरल बैंक और बिल डेस्क के जरिये किया जा सकता है.

(5) प्रीमियम का भुगतान कार्पोरेशन बैंक और यूटीआई बैंक के एटीएम के जरिये भी किया जा सकता है. प्रीमियम का भुगतान इलेक्ट्रानिक क्लियरिंग सर्विस के जरिये भी किया जा सकता है. यह सेवा मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई, कोलकाता, नई दिल्ली, कानपुर, बेंगलूर, विजयवा ड़ा, पटना, जयपुर, चंडीगढ़, त्रिवेंद्रम, अहमदाबाद, पुणे, गोवा, नागपुर, सिकंदराबाद, विशाखापट्टनम में प्रारंभ की जा चुकी है.

(6) एक पॉलिसीधारक, जिसका किसी भी ऐसे बैंक में खाता हो जो स्थानीय क्लियरिंग हाऊस का सदस्य हो, अपनी इच्छानुसार ईसीएस के जरिये प्रीमियम का भुगतान कर सकता है. इस सुविधा का लाभ लेने के इच्छुक पॉलिसीधारकों को हमारी शाखाओं और विभागीय कार्यालयों में मौजूद एक फार्म भरना होगा. उसे बैंक से प्रमाणित करवाना होगा. ऐसे प्रमाणित फार्म हमारे शाखा/मंडल कार्यालय में जमा कराने होंगे.

(7) पॉलिसी भारत में चाहे कहीं भी ली गई हो, मुंबई में चर्चगेट स्थित इंडस्ट्रियल एश्योरेंस बिल्डिंग, सांताक्रूज स्थित न्यू इंडिया बिल्डिंग, बोरिवली स्थित जीवन शिखा बिल्डिंग में मौजूद सिटी बैंक कियोस्क में प्रीमियम के चेक स्वीकार किए जाते हैं.

ये भी पढ़ें-4 लाख रुपये लगाकर घर बैठे शुरू करें ये बिजनेस हर साल होगी 8 लाख रुपये की कमाई!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑनलाइन बिज़नेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 20, 2019, 5:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...