• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • LIFE INSURANCE UNDERSTAND THESE THREE WAYS HOW MUCH INSURANCE YOU SHOULD TAKE PMGKP

Life Insurance: इन तीन तरीकों से समझिए आपको कितने का बीमा लेना चाहिए

LIC Policy

कोरोना काल में जीवन बीमा की अहमियत और बढ़ी है. साथ ही इसे लेकर जागरुकता और पूछ-ताछ भी बढ़ी है. महामारी में हर कोई अपने और अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा चाह रहा है. लिहाजा हेल्थ इंश्योरेंस के साथ ही जीवन बीमा को लेकर भी लोगों का इंट्रेस्ट तेजी से बढ़ा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना काल में जीवन बीमा की अहमियत और बढ़ी है. साथ ही इसे लेकर जागरुकता और पूछ-ताछ भी बढ़ी है. महामारी में हर कोई अपने और अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा चाह रहा है. लिहाजा हेल्थ इंश्योरेंस के साथ ही जीवन बीमा को लेकर भी लोगों का इंट्रेस्ट तेजी से बढ़ा है. हालांकि ज्यादातर लोग यह तय नहीं कर पाते कि उनके लिए सही बीमित राशि ( सम अश्योर्ड) कितनी होनी चाहिए. आमतौर पर समझा जाता है कि सालाना आय का कम से कम 10 गुना जीवन बीमा कवर लेना चाहिए. हम इन तीन तरीकों से सही सम अश्योर्ड तय कर सकते हैं ...

    1- आय के आधार पर - इन तरीकों से वेतन पाने वाले लोगों की बीमित राशि का अनुमान ऐसे लगाया जा सकता है-
    आवश्यक कवर = मौजूदा सालाना आय X रिटायरमेंट के बाकी वर्ष
    किसके लिए : सैलरीड क्लास

    ऐसे समझें -  आईटी प्रोफेशनल विशाल की उम्र 30 वर्ष है. उसकी सालाना आमदनी 10 लाख रुपए है और रिटायरमेंट के लिए 30 साल बचे हैं. इस हिसाब से विशाल को 3 करोड़ रुपए के बीमा कवर की जरूरत होगी.

    यह भी पढ़ें- गिरावट के बावजूद एलन मस्क ने बिटक्वाइन को लेकर कही ये बड़ी बात, जानिए क्या होगा असर

    2- खर्च के आधार पर -
    रोज के खर्च और लोन के हिसाब से कवर का अनुमान लगाया जाता है. महंगाई पर भी गौर करना होता है.
    आवश्यक कवर = सालाना खर्च X पॉलिसी की अवधि
    किसके लिए: बिजनेस मैन
    ऐसे समझें - कार्तिक का सालाना खर्च 6 लाख रुपए है. वह 30 साल के लिए पॉलिसी लेना चाहता है. ऐसे में उसे करीब 1.80 करोड़ के बीमा कवर की जरूरत होगी. महंगाई की वजह से खर्च बढ़ेगा, जिससे बीमा की राशि भी बढ़ानी होगी.

    3- मानव जीवन मूल्य पर -
    इंश्योरेंस कवर निकालने के लिए आपको आय में से अपने ऊपर होने वाले खर्चों को घटाना होगा.
    आवश्यक कवर = सालाना खर्च- खुद पर खर्च X रिटायरमेंट में शेष अवधि
    किसके लिए : प्रोफेशनल्स
    ऐसे समझें- 30 साल का जयंत डॉक्टर है. उसकी सालाना आय 10 लाख रुपए है. वह खुद पर 3 लाख खर्च करता है. मतलब एक साल की इकोनॉमिक वैल्यू 7 लाख है. रिटायरमेंट उम्र 60 साल हो तो ह्यूमन लाइफ वैल्यू 2.1 करोड़ बैठेगी.