शराब बिक्री से कनार्टक सरकार को राहत, 1400 करोड़ रुपये की हुई कमाई

शराब बिक्री से कनार्टक सरकार को राहत, 1400 करोड़ रुपये की हुई कमाई
शराब की बिक्री से कनार्टक सरकार को फायदा

5 मई से कनार्टक में शराब की दुकानें खुलने के बाद 2,146.48 करोड़ रुपये की बिक्री हुई है. राज्य सरकार ने शराब पर टैक्स में 17 से 25 फीसदी का इजाफा किया था.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
बेंगलुरु: कर्नाटक में शराब की बिक्री (Liquor Sales in Karnataka) की अनुमति देना स्थानीय सरकार के लिए आर्थिक मोर्चे पर राहत लेकर आई है. कैश की किल्लत से जूझ रहे कनार्टक में 5 मई के बाद से अब तक कुल 2,146.48 करोड़ रुपये की श​राब की बिक्री हुई है. कर्नाटक सरकार के रेवेन्यू विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, शराब की बिक्री सरकार की झोली में 1,387.20 करोड़ रुपये (Revenue from Liquor in Karnataka) आये हैं.

टैक्स कलेक्शन में भारी इजाफा
कनार्टक सरकार के पास यह रेवेन्यू एक ऐसे समय में आया है जब अर्थव्यवस्था में अनिश्चितता की वजह से सेंट्रल टैक्स की हिस्सेदारी कम हो गई है. देशभर में 25 मार्च से ही लॉकडाउन के बाद कई तरह के टैक्स कलेक्शन में भारी कमी आई है.

25 फीसदी तक लगाया शराब पर टैक्स



फंड में कमी की वजह से बी एस येदियुरप्पा सरकार ने शराब की पर लगने वाले टैक्स में 17 से 25 फीसदी का इजाफा किया था. हालांकि, यहां की सरकार रेवेन्यू में बढ़ोतरी के लिए कई अन्य फैसले भी लिये हैं, ताकि टैक्स में कमी की भरपाई की जा सके. गृह मंत्रालय द्वारा लॉकडाउन की वजह से राज्य सरकार को शराब की बिक्री फिर से शुरू करने में देरी भी हुई.



यह भी पढ़ें: 'वन नेशन वन राशनकार्ड' से 3 नये राज्य जुड़े, इस दिन से पूरे देश में होगा लागू

22,700 करोड़ रुपये टैक्स से कमाई का लक्ष्य
राज्यों की कमाई का एक बड़ा हिस्सा शराब पर लगने वाले टैक्स से आता है. वस्तु एवं सेवा कर के दायरे में यह नहीं आता है. राज्य सरकार ने एक्साइज से 22,700 करोड़ रुपये कमाई करने का लक्ष्य रखा था लेकिन लॉकडाउन से इसे बड़ा झटका लगा है. एक्साइट डिपार्टमेंट (Excise Department Karnataka) का कहा है कि टैक्स में इजाफा करने से सरकार के पास अतिरि​क्त 2,000 करोड़ रुपये आ सकेंगे.

मई के पहले सप्ताह में खुली थीं कर्नाटक में शराब की दुकानें
कनार्टक में 4 मई को ही शराब की दुकानें खोल दी गईं थी, जिसके बाद डिमांड में भारी इजाफा देखने को मिला. शुरुआत में केवल चुनिंदा स्टोर्स को ही खोला गया था लेकिन बाद में बार, होटर्ल और अन्य ईकाईयों को भी खोला गया है. माइक्रोब्रेवरीज को भी अपने कैंपस में बीयर बेचने की अनुमति दी गई.

यह भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट ने किसानों को दिया तोहफा! अब इस दाम पर होगी धान की सरकारी खरीद
First published: June 1, 2020, 11:07 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading