रेलवे के खाने में छिपकली डालता है ये शख्स, जानिए क्या थी वजह?

ट्रेन में बैठने के बाद अक्सर लोगों को जिस चीज की चिंता रहती है वह है इंडियन रेलवे का खाना. रेलवे के खाने को लेकर अक्सर लोग चिंतित रहते हैं की वे ये खाना खाए या नहीं.

hindi.moneycontrol.com
Updated: July 25, 2019, 9:30 AM IST
रेलवे के खाने में छिपकली डालता है ये शख्स, जानिए क्या थी वजह?
फ्री में खाने के लिए छिपकली मिलता है ये शख्स
hindi.moneycontrol.com
Updated: July 25, 2019, 9:30 AM IST
ट्रेन में बैठने के बाद अक्सर लोगों को जिस चीज की चिंता रहती है वह है इंडियन रेलवे का खाना. रेलवे के खाने को लेकर अक्सर लोग चिंतित रहते हैं की वे ये खाना खाए या नहीं. खाने को लेकर असावधानी बरतने का एक केस बुधवार को सामने आया है. रेलवे को एक व्यक्ति ने बिरयानी में छिपकली निकलने की कंप्लेंट की थी. इसके बाद रेलवे अधिकारियों ने एक्शन लिया जिसमें ये सामने आया है कि ऐसा एक शख्स जानबूझकर कर रहा है. ऐसा करने के पीछे उसका मकसद रेल में फ्री खाना है. इस शख्स को अब पुलिस ने पकड़ लिया है.

जानिए क्या है पूरा मामला?
फाइनेंशियल एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, ऐसी कई शिकायतें आ जाने के बाद जबलपुर के सीनियर डिवीजनल कॉमर्शियल मैनेजर बसंत कुमार शर्मा को शक हुआ. थोड़ी जांच करने पर पता चला कि एक ही शख्स है, जिसने कई बार खाने में छिपकली निकलने की शिकायत की थी.

ये भी पढ़ें: खाली प्लास्टिक की बोतल के बदले रेलवे दे रहा है इतने रुपये!

रेलवे अधिकारियों ने जब इस शख्स को पकड़ा तो पता चला कि सुरेंद्र पाल नाम का ये शख्स 70 साल से ज्यादा की उम्र का एक बुजुर्ग है और ये कुछ वक्त से ये ट्रिक्स अपना रहा था. वो फ्री में खाना खाने के लिए अपने ही खाने में छिपकली डाल देता था.



इस शख्स ने समोसे में छिपकली निकलने की शिकायत भी की थी
Loading...

इस शख्स ने एक बार अपने समोसे में छिपकली निकलने की शिकायत की थी. फिर इसने एक बार अपनी बिरयानी में छिपकली निकलने की शिकायत की. इससे डीसीएम बसंत कुमार शर्मा को शक हुआ और उन्होंने रेलवे डिवीजन को इस शख्स की फोटो भेजकर अलर्ट किया.

ये भी पढ़ें: सावधान! अब बगैर हेलमेट बाइक चलाई तो लाइसेंस हो जाएगा रद्द

मामला समझ आने पर रेलवे अधिकारियों ने सुरेंद्र पाल को पकड़ा और पूछताछ की. उसने अपनी गलती कबूल की और खुद को बल्ड कैंसर का मरीज बताया. उसने ये भी कहा कि वो मानसिक रूप से अस्वस्थ है. अधिकारियों को अभी ये स्पष्ट नहीं है कि वो मानसिक रूप से अस्वस्थ है या नहीं लेकिन उन्होंने उसे भरोसा दिलाया है कि अगर उसने दोबारा ऐसा नहीं किया तो वो उसे किसी भी तरह की सजा नहीं देंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 9:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...