ट्रेन नहीं चलेंगी, स्पेशल ट्रेन केवल फंसे हुए लोगों के लिए, यात्रा के लिए सरकार की अनुमति जरूरी

ट्रेन नहीं चलेंगी, स्पेशल ट्रेन केवल फंसे हुए लोगों के लिए, यात्रा के लिए सरकार की अनुमति जरूरी
लॉकडाउन में बस, ट्रेन और हवाई जहाज सभी बंद रहेंगे

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) संक्रमण को रोकने के लिए जारी देशव्यापी लॉकडाउन को 17 मई तक बड़ा दिया गया है. सरकार अभी ट्रेन नहीं चलाएगी. स्पेशल ट्रेन केवल फंसे हुए लोगों के लिए हैं. यात्रा के लिए राज्य सरकार की अनुमति जरूरी होगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से लोगों को बचाने के लिए केंद्र सरकार (Government of India) ने लॉकडाउन (Lockdown Part-3) को आगे बढ़ाने का ऐलान किया है. इसी के मद्देनजर, सरकार ने घरेलू (Domestic Flights Cancelled till 17th May) और अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स (International Flights Cancelled till 17 May) के साथ ही रेल परिचालन (Indian Railway Cancel Trains) को 17 मई तक रद्द करने का फैसला लिया है.

सरकार अभी ट्रेन नहीं चलाएगी. स्पेशल ट्रेन केवल फंसे हुए लोगों के लिए हैं.  यात्रा के लिए राज्य सरकार की अनुमति जरूरी होगी. रेलवे का कहना है कि  हम कोई टिकट जारी नहीं करेंगे ना ही किसी प्रकार का अनुरोध स्वीकार करेंगे. हम उन्हीं को ट्रेन में बैठने की अनुमति देंगे जिन्हें राज्य सरकार के अधिकारी लेकर आएंगे ट्रेन में कौन यात्रा करेगा इसका फैसला राज्य सरकारें करेंगी.

उड़ानें कब शुरू होंगी इसकी कोई सटिक जानकारी नहीं है. हालांकि, एयरलाइन कंपनियों और यात्रियों को फ्लाइट सर्विसेज शुरू होने के करीब 10 दिनों पहले इसकी सूचना दी जा सकती है. DGCA ने ट्विटर पर इसकी जानकारी दी है.





ये भी पढ़ें:- आज से बदल गए हैं बैंक, रेलवे, PF, रसोई गैस से जुड़े कई नियम, जानिए आपकी जेब पर कितना होगा असर?

रद्द की  ट्रेनें
रेलवे के इस अधिकारी ने कहा कि हमने लॉकडाउन की अवधि में हुए विस्तार को देखते हुए यह निर्णय लिया है कि पैसेंजर सेवाएं 17 मई की मध्यरात्रि तक के लिए स्थगित कर दी गई हैं.

को​रोना महामारी से एविएशन सेक्टर पर मार
बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से जिन सेक्टर पर सबसे बड़ी मार पड़ी है, उसमें एविएशन सेक्टर भी एक है. कई विमान कंपनियां सैलरी कटौती, छंटनी या स्टाफ को बिना पेमेंट ही छुट्टी पर भेजना शुरू कर चुकी है.

हवाई यात्रा के लिए जरूरी होगा ये सर्टिफिकेट
देशव्यापी लॉकडाउन खत्म होने के बाद जब एयरलाइन सर्विस शुरू होगी तो हवाई यात्रा के लिए मास्क, ग्लव्स और डिस्पोजेबल कैप के अलावा आपको डॉक्टर के सर्टिफिकेट की जरूरत होगी. माना जा रहा है कि टेक्निकल कमिटी फ्लाइट्स की मिडिल सीट की बुकिंग लेने की इजाजत दे सकती है. मिडिल की सीट को खाली रखने से दो लोगों के बीच छह फीट की सामाजिक दूरी को प्राप्त करने में मदद नहीं मिलेगी क्योंकि यह दो यात्रियों के बीच केवल दो फीट की जगह की अनुमति देता.

ये भी पढ़ें:- लॉकडाउन में अगर समय से पहले तुड़वाई एफडी तो होगा बड़ा नुकसान, जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज