13 साल के तिलक मेहता का स्टार्टअप हुआ हिट, दो साल में 100 करोड़ कमाने का लक्ष्य

पेपर एंड पार्सल लॉजिस्टिक कंपनी के फाउंडर तिलक मेहता की उम्र महज 13 साल है. उनकी कंपनी एक साल में हिट हो गई हैं और अब 100 करोड़ रुपये की आमदनी करने जा रही है. आइए जानें उनके बारे में...

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 19, 2018, 11:41 AM IST
  • Share this:
तिलक मेहता की उम्र महज 13 साल है, लेकिन बड़ा बिजनेसमैन बनने की सभी काबिलियत उनके पास हैं. उन्होंने अपने आइडिया को बिजनेस में बदलने के लिए एक बैंकर की नौकरी छुड़वाई और उन्हें कंपनी का सीईओ बनाया, कुछ ही दिनों में उनकी कंपनी हिट हो गई.



तिलक की कंपनी ने अगले 2 साल में 100 करोड़ की आमदनी का लक्ष्य रखा हैं. आपको बता दें कि तिलक महेता की कंपनी पेपर एंड पार्सल छोटे पार्सलों की डिलीवरी करते हैं. आइए जानें इसके बारे में...



कुछ ऐसे शुरू हुई कंपनी- 13 साल के तिलक बताते हैं, 'पिछले साल मुझे शहर के दूसरे छोर से कुछ किताबों की तत्काल जरूरत थी. पिता काम से थके हुए आये इसलिए मैं उनसे अपने काम के लिए कह नहीं सका और कोई दूसरा ऐसा नहीं था जिसे कहा जा सकता था. इसी आइ़़डिया को बिजनेस बनाकर कंपनी खड़ी हुई.'





अपनी कंपनी के लिए तिलक ने घनश्याम पारेख को उनकी बैंक की नौकरी छोड़ने पर मजबूर किया और उन्हें अपनी कंपनी का सीईओ बनाया.

 



डब्बावालों की लेते हैं मदद- तिलक ने ये आइडिया एक बैंकर को बताया और उन्हें जॉब छोड़ने के लिए मानाया. बिजनेस के लिए उन्होंने खाना बांटने वाले डिब्बेवालों की मदद ली, ताकि दूर तक सामान पहुंचाया जा सके. डब्बावाले एक पार्सल को पहुंचाने के लिए 40 से 180 रुपये तक लेते हैं.



अपने बिजनेस के लिए तिलक मुंबई के डब्बावालों की मदद लेते हैं.




अब 100 करोड़ की आमदनी का लक्ष्य- 100 करोड़ की आमदनी का लक्ष्य- स्टार्टअप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी घनश्याम पारेख ने कहा कि कंपनी का लक्ष्य शहर के भीतर लॉजिस्टिक्स बाजार के 20 फीसदी हिस्से पर काबिज होना तथा 2020 तक 100 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल करना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज