HC ने कहा- राणा कपूर का जुर्म संगीन, पब्लिक फंड का नुकसान गंभीर मामला

Yes Bank के संस्‍थापक राणा कपूर पर डीएचएफएल को लोन देने में गड़बड़ी करने का भी आरोप है.

Yes Bank के संस्‍थापक राणा कपूर पर डीएचएफएल को लोन देने में गड़बड़ी करने का भी आरोप है.

यस बैंक (Yes Bank) के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ राणा कपूर (Rana Kapoor) को पिछले साल मार्च में ईडी (ED) ने मनी लॉन्ड्रिंग के केस में गिरफ्तार किया था.

  • Share this:
नई दिल्ली. हाल ही में बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने यस बैंक (Yes Bank) के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ राणा कपूर (Rana Kapoor) की जमानत याचिका खारिज कर दी थी. अब हाईकोर्ट के फैसले की डिटेल्स सामने आई है. हाईकोर्ट ने जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा कि कपूर का जुर्म बहुत ही संगीन है और पब्लिक फंड का नुकसान गंभीर मामला है, इसलिए जमानत याचिका खारिज की जाती है.

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा- पब्लिक फंड का नुकसान गंभीर मामला

अपने 28 पेज के फैसले में जस्टिस प्रकाश डी नाइक (Prakash D Naik) ने कहा कि मुझे कोई कारण नजर नहीं आता कि राणा कपूर को बेल दी जाए. उन्होंने कहा, ''इसमें कोई संदेह नहीं कि यस बैंक में पड़ा पैसा पब्लिक का है, जिसका बड़ा नुकसान हुआ है.''

ये भी पढ़ें- 300 करोड़ से ज्यादा ईमेल और पासवर्ड हुए लीक, देखें कहीं आपके अकाउंट में भी तो हैकर्स ने नहीं लगाई सेंध?
मुंबई के तलोजा जेल में बंद हैं राणा कपूर

फिलहाल राणा कपूर मुंबई के तलोजा जेल में बंद हैं. पिछले साल जुलाई में मुंबई की एक स्पेशल कोर्ट ने कपूर की जमानत याचिका खारिज कर दी थी जिसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट का रुख किया था. राणा कपूर को पिछले साल मार्च में प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग के केस में गिरफ्तार किया था. केंद्रीय एजेंसी राणा कपूर, उनकी पत्नी और तीन बेटियों के खिलाफ भी मनी लांड्रिंग की जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें- IRCTC की नई सुविधा! यात्री ट्रेन, फ्लाइट के साथ अब बुक कर सकेंगे बस का टिकट, जानिए प्रोसेस



दिसंबर तिमाही में बैंक ने घाटे से उबरकर कमाया मुनाफा

गौरतलब है कि यस बैंक को वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में 150.7 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है. बता दें कि वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में बैंक को 18,560 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. इसकी वजह से बैंक की हालत खराब हो गई थी. वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही में यस बैं‍क की ब्याज से आय 2,560.4 करोड़ रुपये रही है, जो वित्त वर्ष 2020 की समान तिमाही में 1,064.7 करोड़ रुपये रही थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज