फ्राॅड होने पर अब बैंकों के नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर, बस एक फोन काॅल करते ही मिनटों में वापस आएगा सारा पैसा

डिजिटल पेमेंट (सांकेतिक तस्वीर)

डिजिटल पेमेंट (सांकेतिक तस्वीर)

केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने एक खास नंबर को जारी किया है. इस नंबर को सरकार ने लोगों ऑनलाइन फर्जीवाडे से बचाने के लिए जारी किया है. इस नंबर के एक डॉयल करते ही 7 से 8 मिनट के भीतर आपका सारा पैसा वापस आपके अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 9:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑनलाइन फ्रॉड (online fraud) बढ़ते ही जा रहा हैं. कोरोना संकट (Corona time) के दौरान ऑनलाइन जालसाजों ने इसका खूब फायदा उठाया और लोगों को अपना शिकार बनाया. लेकिन अब केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने एक खास नंबर को जारी किया है. इस नंबर को सरकार ने लोगों ऑनलाइन फर्जीवाडे से बचाने के लिए जारी किया है. इस नंबर के एक डॉयल करते ही 7 से 8 मिनट के भीतर आपका सारा पैसा वापस आपके अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगा.

जानें क्या है नंबर

केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 155260 है. बता दें कि आपके पैसे जिस खाते या फिर आईडी पर ट्रांसफर किया गया है. सरकार की 155260 हेल्पलाइन से उस बैंक या फिर ई-साइट को अलर्ट मैसेज पहुंचेगा. फिर आपकी रकम होल्ड हो जाएगी.
ये भी पढ़ें- पहले चरण में ये दो सरकारी बैंक होंगे प्राइवेट, आज लगेगी मुहर! सरकार ने इन बैंकों को किया शॉर्टलिस्ट, चेक करें पूरी List

जानें क्या है पूरा प्रोसेस?

अगर आप फ्राॅड के शिकार हुए हैं तो आपको सबसे पहले हेल्पलाइन नंबर 155260 पर डॉयल करना होगा. इसके बाद प्राथमिक पूछताछ के तौर पर आपका नाम, मोबाइल नंबर, फ्रॉड की टाइमिंग, बैंक अकाउंट नंबर की जानकारी हासिल की जाएगी. इसके बाद हेल्पलाइन नंबर आपकी जानकारी को आगे की कार्रवाई के लिए पोर्टल पर भेज देगा. फिर संबंधित बैंक को फ्रॉड की जानकारी दी जाएगी.जानकारी सही मिलने पर फ्रॉड वाले फंड को होल्ड कर दिया जाएगा. इसके बाद आपकी रकम आपके अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज