शेयर होल्डर्स को सरकार की तरफ से बड़ी राहत, अब मिलेगा ये फायदा

सरकार ने लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स को लेकर बड़ी राहत दी है. सरकार ने फाइनेंस बिल में संशोधन किया है.

News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 11:06 PM IST
शेयर होल्डर्स को सरकार की तरफ से बड़ी राहत, अब मिलेगा ये फायदा
सरकार ने लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स को लेकर बड़ी राहत दी है. सरकार ने फाइनेंस बिल में संशोधन किया है.
News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 11:06 PM IST
सरकार ने लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स को लेकर बड़ी राहत दी है. सरकार ने फाइनेंस बिल में संशोधन किया है. अब अनलिस्टेड कंपनियों के शेयर्स को बेचने पर 20 फीसदी टैक्स देना होगा. फिलहाल एक साल के बाद बेचने पर 20 फीसदी और एक साल के अंदर बेचने पर 30 फीसदी टैक्‍स लगता है. यह फायदा उन्‍हीं कंपनियों के शेयर्स की बिक्री पर मिलेगा जो 31 जनवरी के बाद लिस्‍टेड हुई होंगी. बजट में LTCG टैक्‍स लगने के बाद ऐसे निवेशक भ्रम की स्थिति में थे.

क्‍या हैं वर्तमान टैक्‍स दरें
- एक साल के बाद होने वाले कैपिटल गेन पर फिलहाल किसी भी प्रकार का टैक्‍स लागू नहीं है, जबकि एक साल के अंदर यानी शॉर्ट टर्म कैपिटल गैन पर 15 फीसदी की दर से टैक्‍स लगता है.
यह टैक्‍स अनलिस्‍टेड कंपनियों के शेयर एक साल के बाद बेचने पर 20 फीसदी और एक साल के अंदर बेचने पर 30 फीसदी टैक्‍स लगता है.

नहीं मिलेगा ये फायदा
लोकसभा में पास फाइनेंस बिल में साफ है कि इंडेक्‍शन बेनेफिट फायदा नहीं मिलेगा. वर्ष 2018-19 के बजट में 14 साल के बाद 10 फीसदी की दर से लॉन्‍ग टर्म कैपिट्ल गैन टैक्‍स (LTCG) लगाया गया है. यह टैक्‍स प्रति वर्ष 1 लाख से ज्‍यादा का LTCG होने पर ही देना होगा. आपको बता दें कि  इंडेक्‍शन बेनेफिट उसे कहते हैं जिसमें कॉस्‍ट ऑफ एक्विजेशन पर महंगाई के आधार पर राहत दी जाती है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर