ITR फाइल करते वक्त की हैं ये गलती तो नहीं मिलेगा रिफंड, ऐसे घर बैठे सुधारें

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त (ITR Filling Last Date 31st August) है. कई बार हम जल्दी -जल्दी में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग में कुछ गलतियां कर देते है. जिसकी वजह से हमारा रिफंड रुक जाता है.

News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 11:49 AM IST
ITR फाइल करते वक्त की हैं ये गलती तो नहीं मिलेगा रिफंड, ऐसे घर बैठे सुधारें
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त (ITR Filling Last Date 31st August) है. कई बार हम जल्दी -जल्दी में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग में कुछ गलतियां कर देते है. जिसकी वजह से हमारा रिफंड रुक जाता है.
News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 11:49 AM IST
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल (ITR Filling Last Date 31st August) करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त है. कई बार हम जल्दी -जल्दी में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग (ITR) में कुछ गलतियां कर देते है. जिसकी वजह से हमारा रिफंड (Tax Refund) रुक जाता है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, उनके पास कई बार लोग आते हैं और बताते हैं कि रिटर्न भरने के बाद उन्हें पता चला है कि उनका बैंक अकाउंट नंबर (Bank Account Number) में गड़बड़ी हो गई है. ऐसे में घबराना नहीं चाहिए. बल्कि सीए के पास जाकर या फिर इनकम टैक्स की हेल्पलाइन (Tax Helpline) के जरिए भी इस समस्या का समाधान पा सकते है.

आज हम आपको गलत बैंक अकाउंट डिटेल्स भरने के बाद क्या करें इसकी जानकारी दे रहे हैं...

(1) सबसे पहले क्या करें- टैक्स एक्सपर्ट गौरी चड्ढा बताती हैं कि ऐसे केस में रिफंड की अमाउंट सीधे बैंक खातें में क्रेडिट नहीं हो पाएगी और आईटी डिपार्टमेंट को चेक से यह अमाउंट भेजने की रिक्वेवेस्ट करनी होगी. अगर आईटीआर अभी तक प्रोसेस नहीं की गई तो नई आईटीआर भी फाइल करना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें-5 से 10 लाख तक 10% और 20 लाख तक 20% इनकम टैक्स की सिफारिश

(I) अपना आईटीआर दाखिल करने के बाद, अगर आपको पता चलता है कि अकाउंट डिटेल्स भरने करने में कोई गलती थी, जिसमें रिफंड आना तय है, या आईटीआर दर्ज होने के बाद डिटेल्स बदल गई हैं, अपने ई-फाइलिंग खाते में लॉग इन कर चेक करें कि आपकी ITR प्रोसेस किया गया है या नहीं.



(II) अगर आईटीआर अभी तक प्रोसेस नहीं हुआ है, तो आप सही / बदली हुई बैंक डिटेल्स के साथ एक रिवाइज रिटर्न दाखिल कर सकते हैं.
Loading...

(III) अगर आईटीआर प्रोसेस हो जाता है और आपके खाते में रिफंड जमा होना फेल हो जाता है तो आपको आई-टी विभाग को एक चेक जारी करने के लिए अनुरोध करना होगा.

(IV) अगर आप एक रिवाइज रिटर्न दाखिल नहीं करना चाहते हैं और आपका आईटीआर प्रोसेस नहीं हुआ है, तो आप आई-टी विभाग को चेक जारी करने का अनुरोध करने के लिए तब तक इंतजार कर सकते हैं जब तक कि रिफंड प्रक्रिया विफल नहीं होती है.

ये भी पढ़ें-1 सितंबर से बदल रहे हैं बैंक से जुड़े ये 7 नियम, जान लीजिए रहेंगे टेंशन फ्री



(2) हमेशा रखें इन बातों का ख्याल गौरी कहती हैं कि आपको अपना आईटीआर फाइल करते वक्त आपको बैंक अकाउंट डिटेल को दो बार वैरिफाई करनी चाहिए. अगर आपने अपनी बैंक शाखा को बदलने का अनुरोध किया है, तो उस बैंक की डिटेल्स को रिफंड क्रेडिट करने के लिए न भरें.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 10:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...