होम /न्यूज /व्यवसाय /झटका : आपकी मैगी और चॉकलेट को निगल रही महंगाई, कॉफी पर भी टेढ़ी नजर, ये कंपनी बढ़ाने वाली है दाम

झटका : आपकी मैगी और चॉकलेट को निगल रही महंगाई, कॉफी पर भी टेढ़ी नजर, ये कंपनी बढ़ाने वाली है दाम

नेस्ले इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सुरेश नारायणन का कहना है कि फूड और कमोडिटी की बढ़ती महंगाई चिंता का विषय है.

नेस्ले इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सुरेश नारायणन का कहना है कि फूड और कमोडिटी की बढ़ती महंगाई चिंता का विषय है.

Nestle To Hike Price : खाने-पीने की वस्तुएं भी अब लोगों की पहुंच से बाहर होने लगी हैं. आलम यह है कि खुदरा महंगाई आरबीआई ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. लगातार बढ़ रही महंगाई आम लोगों को झटका पर झटका दे रही है. कभी मकान की कीमतों में इजाफा हो रहा है तो कभी पेट्रोल-डीजल की महंगाई लोगों की जेब ढीली कर रही है. खाने-पीने की वस्तुएं भी अब लोगों की पहुंच से बाहर होने लगी हैं. आलम यह है कि खुदरा महंगाई (Retail Inflation) आरबीआई (RBI) के तय ऊपरी लक्ष्य 6 फीसदी के पार निकल गई है.

आने वाले समय महंगाई की मार और पड़ने वाली है. आपकी दो मिनट में बनने वाली मैगी (Maggi) और चॉकलेट (Chocolate) को भी महंगाई धीरे-धीरे निगर रही है. कॉफी पर भी उसकी टेढ़ी नजर है क्योंकि किटकैट और नेस्कैफे बनाने वाली कंपनी नेस्ले (Nestle) जल्द ही अपने उत्पादों की कीमतें बढ़ाने वाली है.

ये भी पढ़ें- LIC Jeevan Saral Pension Plan: एक बार निवेश कर पाएं 12000 हजार की पेंशन, रिटायरमेंट के बाद आसान होगा जीवन, जानें पूरी डिटेल्स

उपभोक्ताओं पर बोझ डालना जरूरी
नेस्ले ने चेतावनी दी है कि वह अपने उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी करेगी. नेस्ले इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सुरेश नारायणन का कहना है कि फूड और कमोडिटी की बढ़ती महंगाई चिंता का विषय है. कंपनी अपनी लागत को घटाने के लिए अब कुछ बोझ उपभोक्ताओं पर डालना चाहती है. इसलिए कीमतों में इजाफा करना अब जरूरी हो गया है.

ये भी पढ़ें- कल की सुरक्षा के लिए सुरक्षित प्लान में करें निवेश, जानें क्या है पूरी स्कीम

3.1 फीसदी तक बढ़ सकते हैं दाम
नेस्ले ने कहा कि उसने बढ़ती परिचालन लागत की भरपाई के लिए कंपनी अपनी वित्तीय परिणाम से पहले ही कीमतों में 3.1 फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है. 2021 के मुकाबले साल 2022 में इनपुट लागत और बढ़ेगी. ऐसे में उनके पास दाम बढ़ाने के अलावा कोई और रास्ता नहीं है. कंज्यूमर गुड्स कंपनियां पहले भी कच्चे माल, ऊर्जा और श्रम की बढ़ती लागत के कारण उत्पादों के लिए कीमतों में वृद्धि की चेतावनी दे चुकी हैं.

बिक्री के आंकड़े बेहतर
नेस्ले के मुताबिक, पिछले साल कुल बिक्री में 3.3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. इस दौरान उसका शुद्ध लाभ भी 38.2 फीसदी बढ़ा है. कंपनी ने कहा कि महामारी के दौरान कॉफी, घरेलू उत्पाद और हेल्दी फूड प्रोडक्ट्स की बिक्री बढ़ी है.

लगातार रिकॉर्ड तोड़ रही महंगाई
अमेरिका में महंगाई की दर 40 साल के उच्स स्तर पर पहुंच गई है. अमेरिकी फेडरल रिजर्व भी ब्याज दरें बढ़ाने वाली है. इसी तरह, ब्रिटेन में जनवरी में खुदरा महंगाई 5.5 फीसदी पहुंच गई है, जो 30 साल का उच्च स्तर है. बैंक ऑफ इंग्लैंड का अनुमान है कि आने वाले समय में महंगाई 2 फीसदी और बढ़ सकती है.

Tags: Business news in hindi, Inflation, RBI

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें