Home /News /business /

Biodiesel Mobile Unit: अब घर पर रोज बना सकेंगे 20-200 लीटर बायोडीजल, कार-ट्रैक्‍टर में करें इस्‍तेमाल

Biodiesel Mobile Unit: अब घर पर रोज बना सकेंगे 20-200 लीटर बायोडीजल, कार-ट्रैक्‍टर में करें इस्‍तेमाल

अब घर पर भी बायोडीजल बनाया जा सकेगा. देहरादून के आईआईपी में बचे कुकिंग तेल से बायोडीजल बनाने की मोबाइल यूनिट तैयार की गई है.

अब घर पर भी बायोडीजल बनाया जा सकेगा. देहरादून के आईआईपी में बचे कुकिंग तेल से बायोडीजल बनाने की मोबाइल यूनिट तैयार की गई है.

Biodiesel: आईआईपी में तैयार की गई बड़ी मोबाइल यूनिट में एक बार में 50 लीटर जबकि पूरे दिन में करीब 150-200 लीटर बायोडीजल बन जाता है. यह खासतौर पर उन किसानों के लिए बहुत उपयोगी है जो अपना ट्रैक्‍टर और ट्यूबवैल चलाकर खेती करते हैं. बायोडीजल का इस्‍तेमाल डीजल में 50 फीसदी तक मिलाकर वे जेनरेटर, ट्रैक्‍टर और ट्यूबवैल के लिए ईंधन के रूप में कर सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

नई दिल्‍ली. अगर आप डीजल की कार या ट्रैक्‍टर चलाते हैं और लगातार बढ़ती पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel)  की कीमतों से परेशान हैं तो यह खबर आपको राहत दे सकती है. अब आप घर पर इस्‍तेमाल के बाद बचे हुए तेल (Used Cooking Oil) से घर पर ही बायोडीजल (Biodiesel) तैयार कर सकते हैं जिसे न केवल आप अपनी कार और ट्रैक्‍टर (Car and tractor) में ही नहीं बल्कि ट्यूबवैल-जेनरेटर सहित हर उस मशीन में बतौर ईंधन (Fuel) इस्‍तेमाल कर सकते हैं जहां अभी तक डीजल (Diesel) का इस्‍तेमाल करते रहे हैं. इतना ही नहीं घर पर ही बायोडीजल का निर्माण करके और इसे बेचकर भी पैसा कमाया जा सकता है.

घर पर बायोडीजल बनाने के लिए सीएसआईआर-इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ पेट्रोलियम (CSIR-IIP) देहरादून ने दो मोबाइल यूनिट (Biodiesel-Mobile Unit) तैयार की हैं. जिनके माध्‍यम से घर पर इस्‍तेमाल के बाद बचे कुकिंग ऑयल (Used Cooking Oil) या ढढ़ेल को बायोडीजल बनाने में इस्‍तेमाल किया जा सकता है. इतना ही नहीं बेहद कम कीमत पर तैयार होने वाले इस बायोडीजल का इस्‍तेमाल भी बतौर ईंधन किया जा सकेगा. देश में पहली बार है कि इस यूनिट के माध्‍यम से बचे तेल से सिर्फ पांच मिनट की प्रोसेसिंग में बायोडीजल तैयार होगा.

बायोडीजल, घर पर बायोडीजल, आईआईपी मोबाइल यूनिट, बचे कुकिंग तेल से बायोडीजल

आईआईपी के द्वारा बनाई गई बड़ी मोबाइल यूनिट से इस्‍तेमाल के बाद बचा हुआ कुकिंग ऑयल इस्‍तेमाल करके एक दिन में 150-200 लीटर तक बायोडीजल बनाया जा सकता है.

आईआईपी के बायोफ्यूल डिविजन में वरिष्‍ठ प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. नीरज आत्रेय ने न्‍यूज 18 हिंदी को बताया कि इंस्‍टीट्यूट में एक छोटी और एक बड़ी मोबाइल यूनिट तैयार की गई है. छोटी यूनिट में पांच लीटर बायोडीजल एक बार में तैयार किया जा सकता है. इसकी कीमत 40 हजार रुपये रखी गई है. यूनिट में तीन बार इस्‍तेमाल के बाद बचे कुकिंग ऑयल को डालने के बाद मिनट तक हाथ से ही हिलाना होता है. इसके बाद इसे दो घंटे तक छोड़ना होता है और पांच लीटर बायोडीजल बनकर तैयार हो जाता है.

बड़ी यूनिट से बन सकता है 200 लीटर बायोडीजल रोजाना

डॉ. आत्रेय कहते हैं कि आईआईपी में तैयार की गई बड़ी मोबाइल यूनिट में एक बार में 50 लीटर बायोडीजल तैयार हो जाता है. जबकि पूरे दिन में करीब 150-200 लीटर बायोडीजल बन जाता है. इस मोबाइल यूनिट की कीमत पांच लाख रुपये रखी गई है. यह खासतौर पर उन किसानों के लिए बहुत उपयोगी है जो अपना ट्रैक्‍टर और ट्यूबवैल चलाकर खेती करते हैं. बायोडीजल का इस्‍तेमाल डीजल में 50 फीसदी तक मिलाकर वे जेनरेटर, ट्रैक्‍टर और ट्यूबवैल के लिए ईंधन के रूप में कर सकते हैं. घर पर बने सस्‍ते बायोडीजल के इस्‍तेमाल से डीजल की 50 फीसदी खपत बचेगी साथ ही बचा हुआ बायोडीजल बेचा भी जा सकता है.

वे कहते हैं कि केंद्र सरकार ने डीजल में पांच फीसदी की बायोडीजल की मिक्सिंग की अनुमति दे दी है. हालांकि 20 फीसदी तक भी अगर बायोडीजल की डीजल में मिलावट की जाए तो यह फायदेमंद है लेकिन बायोडीजल का उत्‍पादन कम होने के कारण फिलहाल इसकी आपूर्ति कम है. 50 लीटर वाली एक बड़ी यूनिट फिलहाल रायपुर के सीबीडीए में लगाई गई है.

डीजल से काफी सस्‍ता है बायोडीजल

Tags: Cooking, Diesel, Oil ministry, Petrol and diesel

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर