5 साल में 15 लाख रुपये पाने का आसान तरीका! इसी महीने शुरू करें प्लानिंग!

5 साल में 15 लाख रुपये पाने का आसान तरीका! इसी महीने शुरू करें प्लानिंग!
एक अप्रैल से शुरू हुए वित्त वर्ष में अगर कोई सही ढंग से प्लानिंग करें तो रोज़ाना 500 रुपये लगाकर 5 साल में 15 लाख रुपये बना सकता है. आइए जानें इसके बारे में...

एक अप्रैल से शुरू हुए वित्त वर्ष में अगर कोई सही ढंग से प्लानिंग करें तो रोज़ाना 500 रुपये लगाकर 5 साल में 15 लाख रुपये बना सकता है. आइए जानें इसके बारे में...

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2019, 7:13 AM IST
  • Share this:
अगर आपकी 5 साल बाद बच्चे के हायर एजुकेशन के लिए प्लानिंग, कार खरीदने की प्लानिंग या फिर कोई और बड़ा काम करना है तो बड़ा फंड बनाना मुश्किल नहीं है. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि सेफ फ्यूचर के लिए फाइनेंशियन प्लानिंग सही डायरेक्शन में करना बहुत जरूरी है. अगर बेहतर ढंग से फाइनेंशियल प्लानिंग करते हैं तो थोड़ी थोड़ी रकम भी हर महीने में निवेश कर अपने कई तरह की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं. इसके लिए कैपिटल मार्केट में कई तरह के विकल्प हैं, जिसमें एक अच्छा विकल्प एसआईपी (SIP) के जरिए म्युचूअल फंड में निवेश है. आइए जानें इसके बारे में...

म्युचूअल फंड ही क्यों- घरेलू शेयर बाजार लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहा है. ऐसे में बाजार में कई ऐसे इक्विटी म्यूचुअल फंड हैं जिन्होंने लांच के बाद से या पिछले 15 से 20 साल में 20 फीसदी या इससे ज्यादा की सालाना दर से रिटर्न दिया है. जो निवेशक थोड़ा रिस्क लेने की क्षमता रखते हैं, उनके लिए यह बेहतर विकल्प है. निवेश का नजरिया 5 साल रखने पर बाजार के जोखिम भी कवर हो जाते हैं.





कैसे होंगे 5 साल में 15 लाख रुपये-एसकोर्ट सिक्योरिटी के रिसर्च हेड आसिफ इकबाल कहते हैं कि बेहतर इक्विटी फंड में हर महीने 15 हजार रुपये निवेश करने होंगे. अगर रोज के खर्च से 500 रुपये निवेश के लिए बचाएं तो यह आसान हो जाएगा.यह निवेश 5 साल तक करना होगा. यहां अगर सालाना 20 फीसदी रिटर्न का अनुमान लगाएं तो 5 साल में निवेश बढ़कर करीब 16 लाख रुपये हो जाएगा. यहां 5 साल में आप कुल 9 लाख रुपये निवेश करेंगे जो बढ़कर 16 लाख होगा. आपको कुल 7 लाख रुपये की अतिरिक्त इनकम होगी.


क्या इसमें पैसा लगाना सेफ है- आसिफ इकबाल कहते हैं कि म्यूचुअल फंड में निवेश का बेहतर ऑप्शन हैं. हर महीने का थोड़ा थोड़ा निवेश करके बड़ा फंड तैयार कर सकते हैं. म्यूचुअल फंड में निवेश में रिस्क कुछ कम होता है. अगर आप अपना पूरा पैसा कि‍सी एक कंपनी में निवेश कर दें और कि‍सी वजह से वह कंपनी डूब जाए तो आपका सारा पैसा भी डूब जाएगा. म्यूचुअल फंड का सबसे बड़ा फायदा यही है कि यहां आपके पैसे को अलग-अलग कंपनि‍यों में लगाया जाता है. मतलब साफ है कि अलग-अलग शेयर और बॉन्‍ड्स में आपके पैसे को निवेश कि‍या जाता है. इसका फायदा यह है कि अगर कि‍सी एक कंपनी में लगा पैसा डूब भी जाए तो बाकी जगह से हुआ लाभ उसे कवर कर सकता है.

इन फंड्स ने दिया बेहतर रिटर्न


सुंदरम मिडकैप फंड-लांच के बाद से रिटर्न : 25.64%, मिनिमम SIP : 250 रुपये
HDFC टैक्ससेवर फंड-लांच के बाद से रिटर्न : 24.80%, मिनिमम SIP : 500 रुपये

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज