सस्‍ते में खरीद सकते हैं गोल्ड जूलरी, ये कंपनी कर रही है नीलामी

29 सितंबर 2018 की सुबह 10 बजे से चुनिंदा ब्रांच पर नीलामी होगी. बोली प्रक्रि‍या में हि‍स्‍सा लेने के लिए रिजर्व प्राइस का 2 फीसदी डि‍मांड ड्राफ्ट के जरिए जमा कराना होगा.

News18Hindi
Updated: September 16, 2018, 7:22 AM IST
सस्‍ते में खरीद सकते हैं गोल्ड जूलरी, ये कंपनी कर रही है नीलामी
सस्‍ते में खरीद सकते हैं सोने की ज्वैलरी, ये कंपनी कर रही है नीलामी
News18Hindi
Updated: September 16, 2018, 7:22 AM IST
सोने की कीमतों में गिरावट जारी है, फिलहाल रेट इस समय 31,500 रुपए प्रति दस ग्राम के आसपास चल रहा है. जब सोने की जूलरी खरीदने जाते हैं तो आपको मेकिंग चार्जेज़ भी देने पड़ते हैं. ऐसे में जूलरी के दाम बढ़ जाते हैं. लेकिन गोल्ड लोन देने वाली कंपनी मन्नापुरम फाइनेंस बनी बनाई जूलरी को कम कीमत में नीलाम कर रही है. दरअसल इनके बदले ग्राहक लोन लेते हैं, मगर तय समय तक लोन न चुकाने की वजह से कंपनी से इसे छुड़वा नहीं पाते. आपको बता दें कि फिलहाल, कपंनी कुल 46 शहरों में जूलरी की ऑक्शन कर रही हैं.

नीलामी से पहले नोटिस- नीलामी से पहले ये कंपनियां नोटिस देती है. ग्राहक जब 12 महीने से अपनी ईएमआई नहीं चुकाता है, तो कंपनियां उसे नोटिस भेजती हैं. उसके बाद भी अगर ग्राहक कर्ज नहीं चुकाता है, तो फिर आरबीआई नियमों के मुताबिक कार्रवाई की जाती है. (ये भी पढ़ें-SBI की ये स्कीम पैसे बढ़ाने के अलावा देती है 5 फायदे)

नीलामी रिजर्व बैंक के नियमों के अनुसार होती है. साथ ही आरबीआई का एक पर्यवेक्षक भी मौजूद होता है. अफसर के अनुसार, हमारी कोशिश होती है कि विज्ञापन के जरिये डिफॉल्ट करने वाले ग्राहकों को सतर्क किया जाए कि अगर वह अपनी ज्वेलरी वापस नहीं लेंगे, तो वह नीलाम हो जाएगी. इसका कुछ असर भी होता है, लेकिन इसके बाद अगर ग्राहक नहीं आता है, तो फिर नीलाम करने का ही विकल्प बचता है. (ये भी पढ़ें-दुनिया में इन 10 देशों के पास है सबसे ज्यादा सोना, जानिए भारत के पास कितना)

नीलामी प्रोसेस- नीलामी के लिए 29 सितंबर की तारीख तय की है. कंपनी ने जानकारी दी है कि नीलामी 29 तारीख की सुबह 10 से शुरू होगी. कंपनी ने यह भी बताया कि अगर किसी वजह से नीलामी का वेन्यू बदला जाता है तो उसकी जानकारी कंपनी की वेबसाइट पर मिल जाएगी या फिर जहां पहले वेन्यू फाइनल हुआ था वहां पर नए वेन्यू के लिए नोटिस लगा दिया जाएगा.

SBI की नेट बैंकिंग इस्तेमाल करते हैं तो फॉलो करें ये 8 टिप्स, सेफ रहेगा पैसा


पैन कार्ड देना जरूरी- नीलामी में भाग लेने के लिए बोलीदाता के पास पैन कार्ड और आईडी कार्ड होना जरूरी है. इसके बाद ही वह बोली लगा सकेगा. ऐसा इसलिए किया जाता है कि कोई खरीदार ब्लैकमनी का इस्तेमाल नहीं कर सके. कंपनी नीलामी तारीख या जगह में बिना किसी पूर्व सूचना के बदल सकती है और इसकी जानकारी कंपनी की वेबसाइट और नीलामी सेंटर पर मिल जाएगी.
Loading...
इन ब्रांच में होगी नीलामी- देश के 3 राज्यों के अलग-अलग शहरों में नीलामी के 46 सेंटर चुने गए हैं. झारखंड, हरियाणा और उत्तराखंड में कंपनी ने कुल 46 सेंटर बनाएं हैं, जहां पर नीलामी की जाएगी. झारखंड में बोकारो, धनबाद, हजारीबाग, जमशेदपुर, राची समेत कई सेंटर्स पर नीलामी होगी. हरियाणा में गुरुग्राम, फरीदाबाद, बहादुरगढ़, सोनीपत और रोहतक, वहीं उत्तराखंड में देहरादून और हरिद्वार समेत कई पर जगहों पर नीलामी की जाएगी. (ये भी पढ़ें- VIDEO: आपको भी खरीदनी है सोने की जूलरी तो जान लीजिए मेकिंग चार्जेज के बारे में...)

ये भी पढ़ें-30 साल तक सोने की कीमतों में रहेगी तेजी, भारत-चीन बनेंगी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था: WGC
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर