होम /न्यूज /व्यवसाय /शेयर बाजार में रिकॉर्ड तोड़ दिन, BSE पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप पहली बार ₹287 लाख करोड़ हुआ

शेयर बाजार में रिकॉर्ड तोड़ दिन, BSE पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप पहली बार ₹287 लाख करोड़ हुआ

मगंलवार को सेंसेक्स और निफ्टी ने छुआ रिकॉर्ड लेवल. (फोटो- न्यूज18)

मगंलवार को सेंसेक्स और निफ्टी ने छुआ रिकॉर्ड लेवल. (फोटो- न्यूज18)

शेयर बाजार में लगातार 6 कारोबारी सत्रों से तेजी जारी है. इस हफ्ते लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में सेंसेक्स और निफ्टी सर् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप पहली बार 287 लाख करोड़ रुपये हुआ.
इससे पिछला रिकॉर्ड 13 सितंबर को बना था जब मार्केट कैप 286.71 करोड़ रुपये था.
बाजार में लगातार 6 सत्रों से तेजी जारी है और आज भी मार्केट रिकॉर्ड लेवल पर बंद हुआ.

नई दिल्ली. बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप मंगलवार को 287 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया. मार्केट में इस तेजी का एक कारण विदेशी निवेशकों की भारी खरीद रही है. जिन्होंने कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के बाद दोबारा खरीदारी शुरू कर दी है. नवंबर में अब तक वे 32000 करोड़ रुपये से अधिक के शेयर खरीद चुके हैं. पिछली बार बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप हाई 286.71 करोड़ रुपये था जो इन्होंने 13 सितंबर को हासिल किया था.

शेयर बाजार में लगातार 6 कारोबारी सत्रों से तेजी जारी है. इस हफ्ते लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में सेंसेक्स और निफ्टी सर्वकालिक उच्च स्तर छुआ और रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए. सेंसेक्स ने आज 62871 का और निफ्टी ने 18662 का ऑल टाइम हाई छुआ. दोनों ही सूचकांक इस साल अब तक 7.5 फीसदी ऊपर जा चुके हैं.

ये भी पढ़ें- RBI ने किया बड़ा ऐलान, आम लोगों के लिए परसों लॉन्च होगा डिजिटल रुपया- जानिए कैसे काम करेगा e₹-R

तेजी के अन्य कारण
विश्लेषकों का कहना है कि चीन और भारत में उपभोक्ता मूल्य आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़ों में कुछ गिरावट के बाद ब्याज दरों पर लगाम की उम्मीद व रेटिंग एजेंसियों द्वारा ग्रोथ के टारगेट में कमी इस तेजी के अन्य कारणों में शामिल है. इसके अलावा सरकार लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए खर्च को बढ़ाएगी जिससे अर्थव्यवस्था को समर्थन मिलने की उम्मीद है.

रिकॉर्ड लेवल पर बंद हुआ बाजार
30 शेयरों वाला सेंसेक्स 177.04 अंक (0.28 फीसदी) बढ़कर 62,681.84 पर बंद हुआ. एनएसई का निफ्टी 55.30 अंकों (0.30 फीसदी) की छलांग लगाकर 18618.05 पर बंद हुआ. ये दोनों इंडेक्स का रिकॉर्ड क्लोजिंग लेवल है. आनंद राठी शेयर्स एंड स्टॉक ब्रोकर्स के नरेंद्र सोलंकी ने कहा, दोपहर के कारोबार में एफएमसीजी तथा टिकाऊ उपभोक्ता सामान बनाने वाली कंपनियों के शेयरों में भारी खरीदारी से बाजार में सकारात्मक रुख बना रहा उन्होंने कहा, ‘‘विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) के सकारात्मक रुख से भी सेंटीमेंट मजबूत हुआ. एफआईआई ने नवंबर महीने में अबतक 32,344 करोड़ रुपये का निवेश किया है और वे नेट बायर्स बने हुए हैं.’’ शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, एफआईआई ने सोमवार को 935.88 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे थे.

ये भी पढ़ें- हैकर्स क्रिप्टोकरेंसी में क्यों वसूलते हैं फिरौती, क्‍या है इसके पीछे का फंडा?

किन कंपनियों ने कराई चांदी
हिन्दुस्तान यूनिलीवर (4.39), जेएसडब्लूय (2.16), सिप्ला (1.85), हीरोमोटोकॉर्प (1.74) और सनफार्मा (1.52) सर्वाधिक मुनाफे वाले शेयर रहे. वहीं, इंडसइंड बैंक (-1.49), कोल इंडिया (-1.44), बजाज फिनसर्व (-1.20), आयशर मोटर्स (-0.91) और पावरग्रिड (-0.81) ने निवेशकों का सर्वाधिक नुकसान कराया. ये सभी संख्याएं फीसदी में हैं.

Tags: Business news, Market cap, Share market, Stock market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें