Home /News /business /

Maruti Suzuki फिर बढ़ाएगी अपनी कारों की कीमतें! देखें ऑटो मैन्‍युफैक्‍चरर ने क्‍या दिया जवाब?

Maruti Suzuki फिर बढ़ाएगी अपनी कारों की कीमतें! देखें ऑटो मैन्‍युफैक्‍चरर ने क्‍या दिया जवाब?

मारुति सुजुकी इंडिया अपने वाहनों की कीमतें तय करने के लिए कमोडिटीज के दामों पर नजर रख रही है.

मारुति सुजुकी इंडिया अपने वाहनों की कीमतें तय करने के लिए कमोडिटीज के दामों पर नजर रख रही है.

मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) में मार्केटिंग एंड सेल्‍स के सीनियर एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि दूसरी तिमाही में शुद्ध बिक्री (Net Sales) अनुपात में लागत (Cost) 80.5 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई है. लागत के लिहाज से यह काफी ऊंचा स्तर है. लिहाजा वाहनों की कीमतें तय करने के लिए कमोडिटीज के दाम पर नजर रखना जरूरी होगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. देश की प्रमुख कार मैन्‍युफैक्‍चरर मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) फिर दाम बढ़ा सकती है. दरअसल, कंपनी की नजर कमोडिटी प्राइसेस पर (Commodity Prices) है. कंपनी आने वाले समय में इन्हीं के आधार पर अपनी कारों के दाम (Cars Prices) तय करेगी. वित्‍त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में कमोडिटीज के दामों में काफी बढ़ोतरी हो चुकी है. फिर भी अभी कंपनी ने इस बढ़ोतरी का बोझ अपने ग्राहकों पर नहीं डाला है.

    मारुति सुजुकी इंडिया के सीनियर एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग एंड सेल्‍स) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि दूसरी तिमाही में शुद्ध बिक्री (Net Sales) अनुपात में लागत (Cost) 80.5 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई है. लागत के लिहाज से यह काफी ऊंचा स्तर है. कंपनी को उम्मीद है कि आगे कमोडिटी प्राइसेस में गिरावट आएगी. कई कमोडिटीज की कीमतें अपने सर्वोच्‍च स्तर (All-time High) पर पहुंच चुकी हैं. इसलिए उनके दाम नीचे आने की उम्‍मीद की जा रही है.

    ये भी पढ़ें- Bank Holidays: नवंबर 2021 के दूसरे हफ्ते में 5 दिन बंद रहेंगे बैंक, ब्रांच जाने से पहले देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

    कमोडिटीज के दाम पर तय होंगी कारों की कीमतें
    शशांक श्रीवास्‍तव ने कहा कि ओरिजनल इक्‍वीपमेंट मैन्‍युफैक्‍चरर्स (OEM) के लिए सामग्री की लागत बहुत ज्‍यादा अहमियत रखती है. ओईएम की कुल लागत में सामान्य तौर पर सामग्री का हिस्सा 70 से 75 फीसदी तक रहता है. कंपनी के वाहनों की कीमतों में बढ़ोतरी पर श्रीवास्तव ने कहा कि इसको लेकर सावधानी से निगरानी की जा रही है. कंपनी ने अभी तक कमोडिटीज के दामों में हुई बढ़ोतरी का भार उपभोक्ताओं पर नहीं डाला है. उन्होंने कहा कि कंपनी ने सितंबर 2021 की शुरुआत में अपने वाहनों के दाम 1.9 फीसदी बढ़ाए थे. अब कीमतें तय करने के लिए कमोडिटीज की कीमतों पर नजर रखने की जरूरत होगी.

    ये भी पढ़ें- SBI ग्राहकों को मुफ्त में दे रहा है 2 लाख रुपये का सीधा फायदा, जानें कैसे उठाएं योजना का लाभ?

    ‘ओईएम पर एक तिमाही के बाद दिखता है असर’
    मारुति सुजुकी इंडिया ने कहा कि कमोडिटीज के दाम पहली तिमाही में उच्चस्तर पर थे. मारुति सुजुकी जैसी ओईएम पर इसका प्रभाव एक तिमाही बाद दिखता है. श्रीवास्तव ने कहा कि इसका असर मारुति सुजुकी पर दूसरी तिमाही में ज्‍यादा पड़ा है. बीते एक साल के दौरान कमोडिटीज के दाम तेजी से बढ़े हैं. इस्पात के दाम 38 रुपये प्रति किलोग्राम से 72 रुपये पर पहुंच गए थे. हालांकि, इनमें अब थोड़ी गिरावट आई है. इसके अलावा तांबा 5,200 डॉलर प्रति टन से 10,400 डॉलर प्रति टन हो गया है. बाकी धातुओं के दाम भी पहले के मुकाबले दो से तीन गुना तक बढ़ चुके हैं.

    Tags: Auto News, Autofocus, Automobile, Business news in hindi, Car Bike News, Maruti Suzuki

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर