मास्टरकार्ड के नेटवर्क पर मिलेगा क्रिप्टोकरंसी में खरीदारी करने का मौका, इस साल शुरू हो सकती है सुविधा

मास्टरकार्ड ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि उसके नेटवर्क सभी क्रिप्टोकरंसी नहीं सपोर्ट करेगी. (Photo: Reuters)

मास्टरकार्ड ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि उसके नेटवर्क सभी क्रिप्टोकरंसी नहीं सपोर्ट करेगी. (Photo: Reuters)

Mastercard ने ऐलान किया है कि इस साल वो अपने नेटवर्क पर क्रिप्टोकरंसी को सपोर्ट करने वाले ऑफर का ऐलान करेगी. हालांकि, कंपनी ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि सभी क्रिप्टोकरंसी को नहीं सपोर्ट करेगी. ब्लैकरॉक इंक और पेपल जैसी कंपनियां पहले ही ऐसे ऑफर का ऐलान कर चुकी हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कार्ड पेमेंट की सुविधा मुहैया कराने वाली कंपनी मास्टरकार्ड (Mastercard) अपने नेटवर्क पर इस साल किप्टोकरंसी सपोर्ट के लिए ऑफर का ऐलान कर सकती है. कंपनी ने बुधवार को इस बारे में जानकारी दी है. इस शुरुआत के मास्टरकार्ड भी उन कंपनियों की लिस्ट में शामिल हो जाएगी, जिन्होंने क्रिप्टोकरंसी को सपोर्ट करने के लिए ऐसे ही कदम उठाए हैं. ध्यान देने वाली बात है कि मास्टर कार्ड की तरफ से यह ऐलान एक ऐसे समय आया है, जब एलन मस्क की टेस्ला ने बिटकॉइन में 1.5 अरब अमेरिकी डॉलर निवेश करने का ऐलान किया है. खबर है कि जल्द ही टेस्ला बिटकॉइन में पेमेंट रिसीव करना शुरू करेगी.

हाल ही में कुछ कंपनियों ने क्रिप्टोकरंसी को लेकर ऐसे ही सपोर्ट का ऐलान किया है. एसेट मैनेजमेंट कंपनी ब्लैकरॉक इंक (BlackRock Inc.) और पेमेंट कंपनियां स्क्वैयर और पेपल (PayPal) इस लिस्ट में शामिल है.

अभी भी क्रिप्टोकरंसी के जरिए लेनदेन की सुविधा देती है मास्टरकार्ड

बता दें कि वर्तमान में भी मास्टरकार्ड एक ऐसी ही कस्टमर कार्ड ऑफर करता है जिससे लोग अपने क्रिप्टोकरंसी के जरिए लेनदेन कर सकते हैं. हालांकि, इसके लिए यह कंपनी अपने नेटवर्क का इस्तेमाल नहीं करती है.
यह भी पढ़ेंः भारत में क्रिप्टोकरेंसी बैन करने की तैयारी, इन देशों में डिजिटल करेंसी से कर सकते हैं खरीदारी

मास्टर कार्ड ने बुधवार को कहा, ‘ऐसा करने से खरीदारी करने वाले लोगों और दुकानों के लिए बहुत सारी संभावनाएं होंगी. वे एकदम नये तरीके से लेनदेन कर सकेंगे. इस बदलाव के बाद कारोबारियों के पास उन खरीदारों को जोड़ने का मौका मिलेगा, जो डिजिटल एसेट्स की ओर तेजी से बढ़ रहे हैं.’

सभी क्रिप्टोकरंसी को नहीं सपोर्ट करेगा मास्टरकार्ड



हालांकि, मास्टरकार्ड ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि उसके नेटवर्क सभी क्रिप्टोकरंसी नहीं सपोर्ट करेगी. कंपनी ने कहा कि हजारों क्रिप्टोकरंसी में से अधिकतर को अपने अनुपालन को पहले से बेहतर करना होगा. बता दें कि अभी भी कई ऐसी क्रिप्टोकरंसी हैं, जिनपर निवेशकों और आम लोगों को भरोसा नहीं है. उन्हें इसके जरिए धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग का डर है.

यह भी पढ़ेंः Dogecoin: एलन मस्क के ट्वीट के बाद क्यों खबरों में है यह क्रिप्टोकरंसी? पढ़ें इसके बारें में हर एक जानकारी

क्या होता है क्रिप्टोकरेंसी?

क्रिप्टोकरेंसी सभी तरह की वर्चुअल करेंसी के लिए एक जेनेरिक नाम है. क्रिप्टोकरेंसी का एक यूनिट बेहद जटिल डिजिटल कोड होता है. इस कोड की नकल नहीं की जा सकती है. आम करेंसी की तरह क्रिप्टोकरेंसी को भी एक्सचेंज मीडियम के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है. इसे डिजिटल एसेट्स के लिए तैयार किया जाता है. आपको यह भी बता दें कि बिटकॉइन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज