• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Noida में 125 एकड़ में बनेगा मेडिकल डिवाइस पार्क, यह होगी खासियत

Noida में 125 एकड़ में बनेगा मेडिकल डिवाइस पार्क, यह होगी खासियत

यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे बनने वाला यह मेडिकल पार्क देश में बनने वाले चार मेडिकल पार्क में से एक है.

यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे बनने वाला यह मेडिकल पार्क देश में बनने वाले चार मेडिकल पार्क में से एक है.

देश में बनने वाले कुल चार मेडिकल डिवाईस पार्क में से एक यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे करी 125 एकड़ जमीन में बनेगा. इस मेडिकल डिवाईस पार्क को यमुना एक्सप्रेस डेवलपमेंट अथॉरिटी तैयार करेगी. इस प्रोजेक्ट की कीमत करीब 250 करोड़ रुपये आंकी जा रही है.

  • Share this:

    नोएडा. यह नोएडा (Noida) ही नहीं देश के लिए खुशी की बात है कि देश में चार मेडिकल डिवाइस पार्क (Medical Device Park) बनने जा रहे हैं. इसमे से एक पार्क यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) के किनारे बनेगा. पार्क का निमार्ण 125 एकड़ में किया जाएगा. इसके लिए ज़मीन का चुनाव भी हो गया है. यमुना एक्सप्रेस डवलपमेंट अथॉरिटी पार्क का निमार्ण कराएगी. जल्द ही इसके डिजाइन को समझने के लिए अथॉरिटी की एक टीम विशाखापटनम का दौरा करेगी. इस मेडिकल डिवाइस पार्क से एक और जहां रोजगार के अवसर खुलेंगे, वहीं महंगी से महंगी डिवाइस अब देश में ही सस्ती मिलेगी.

    यमुना अथॉरिटी के अधिकारियों की मानें तो अथॉरिटी खुद इस पार्क का स्ट्रक्चर तैयार कर कंपनियों को देगी. इस योजना का पहला चरण जहां 125 एकड़ का है वहीं दूसरे चरण में यह पार्क 200 एकड़ में तैयार किया जाएगा. इस प्रोजेक्ट की कीमत करीब 250 करोड़ रपये आंकी जा रही है. इस पार्क में देश के साथ-साथ विदेशी कंपनी भी मेडिकल डिवाइस बनाएंगी.

    सेक्टर-128 से होगी शुरुआत
    यह योजना यमुना अथॉरिटी के सेक्टर-28 में शुरु की जाएगी. पहले चरण की 125 एकड़ जमीन पर 1 हजार वर्ग मीटर से लेकर 4000 वर्ग मीटर तक के प्लॉट होंगे. कॉमन फैसिलटी सेंटर और व्यावासयिक सेंटर भी होगा. अथॉरिटी ने योजना के लिए तैयारी तेज कर दी है. अगले महीने यानि मार्च में यह योजना निकाली जाएगी. यह उत्तर भारत का पहला मेडिकल डिवाइस पार्क होगा. गौरतलब रहे इस तरह का मेडिकल डिवाइस पार्क आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में पहले से बना हुआ है.

    भारत से विदेशों में जा रहे हैं 2 लाख रुपये किलो के चिप्स, इंटरपोल हुआ अलर्ट

    मेडिकल पार्क में ऐसे मिलेगा कारोबार का मौका
    मेडिकल डिवाइस पार्क में कारोबार करने के लिए पहले से निर्धारित कुछ शर्तों का पालन करना होगा. शर्त पूरी करने के बाद ही आवेदक को प्लॉट का आवंटन किया जाएगा. सबसे पहले तो यह कि आवेदन करने वाली कंपनी का फार्मा में रजिस्ट्रेशन हो. कंपनी वर्ल्ड लेवल की होनी चाहिए. या फिर कंपनी पहले से ही इस फील्ड में काम कर रही हो. मेडिकल डिवाइस पार्क में इलेक्ट्रोनिक डिवाइस के साथ-साथ रेडियोलॉजिकल डिवाइस भी बनाई जाएंगी. मेडिकल डिवाइस पार्क बनाने के पीछे सरकार की मंशा है कि कोरोना के दौरान हुए अनुभव को देखते हुए भारत इस फील्ड में आत्मनिर्भर बने.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज