Home /News /business /

बैंक ऑफ बड़ौदा में दो बैंकों का विलय अब हुआ पूरा, जानें ग्राहकों पर पड़ेगा क्‍या असर

बैंक ऑफ बड़ौदा में दो बैंकों का विलय अब हुआ पूरा, जानें ग्राहकों पर पड़ेगा क्‍या असर

बैंक ऑफ बड़ौदा में दो बैंकों के विलय के बाद ब्रांच और एटीएम के एकीकरण का काम अब पूरा हुआ है.

बैंक ऑफ बड़ौदा में दो बैंकों के विलय के बाद ब्रांच और एटीएम के एकीकरण का काम अब पूरा हुआ है.

बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) में देना बैंक (Dena Bank) और विजया बैंक (Vijaya Bank) के विलय के बाद ग्राहकों के अकाउंट नंबर (Account Numbers) बदल जाएंगे. वहीं, अब वे बैंक ऑफ बड़ौदा की सभी ब्रांचों और एटीएम (Branches & ATMs) का इस्‍तेमाल बिना किसी अतिरिक्‍त चार्ज के कर सकेंगे. बैंक ने अपनी वेबसाइट पर ग्राहकों के सवालों का जवाब दिया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) के साथ देना बैंक (Dena Bank) और विजया बैंक (Vijaya Bank) का विलय 1 अप्रैल 2019 को हो गया था, लेकिन इनकी सभी 3,898 ब्रांचों का एकीककरण दिसंबर 2020 में पूरा हो पाया है. अब देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहक बैंक ऑफ बड़ौदा के सभी 8,248 ब्रांच तथा 10,318 एटीएम (ATMs) का फायदा उठा सकेंगे. विलय के बाद से ही देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहक ये जानना चाह रहे थे कि क्या उनका अकाउंट नंबर, सीआईएफ नंबर (CIF Number), डेबिट कार्ड व क्रेडिट कार्ड नंबर (Debit & Credit Card Number), आईएफसी कोड (IFSC Code) बदल जाएगा. अब बैंक ने अपनी वेबसाइट पर ऐसे ही तमाम सवालों के जवाब दिए हैं.

    अब ग्राहकों को उपलब्‍ध कराए जाएंगे नए अकाउंट नंबर
    बैंक ऑफ बड़ौदा ने बताया है कि विलय हुए दोनों बैंको के खाताधारकों का अकाउंट नंबर अब बदल जाएगा. दरअसल, डाटा माइग्रेशन के बाद ग्राहकों को नए अकाउंट नंबर दिए जाएंगे. सभी ग्राहकों को रडिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस (SMS) के जरिये इसकी जानकारी दी जाएगी. ग्राहक बैंक ऑफ बड़ौदा के कॉन्टैक्ट सेंटर से भी इस संबंध में जानकारी ले सकेंगे. साथ ही कस्टमर आइडेंटिफिकेशन नंबर (CIF) भी बदल जाएगा. सभी खाताधारकों के अकाउंट को अलॉट किए गए कस्टमर नंबर से लिंक किया जाएगा. देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहकों की ब्रांच अब बदलकर बैंक ऑफ बड़ौदा हो जाएगी. इससे कस्टमर्स का ब्रांच कोड भी बदलेगा.

    ये भी पढ़ें- बुजुर्गों को राहत देने की तैयारी में सरकार, BUDGET 2021 में पेंशनरों के लिए बढ़ाई जा सकती है टैक्‍स छूट की सीमा

    ब्रांच एड्रेस और नेम के अलावा इनमें भी होगा बदलाव
    विलय के बाद ब्रांच एड्रेस और ब्रांच नेम (Branch Address & Name) भी बदल जाएगा. इनमें से अगर किसी में भी बदलाव होगा तो ग्राहको को जानकारी दी जाएगी. इसके अलावा बैंक की वेबसाइट (Website) पर भी इस संबंध में जानकारियां दी गई हैं. बैंक ऑफ बड़ौदा ने बताया है कि कस्टमर्स का आईएफएससी कोड और एमआईसीआर कोड (MICR code) भी बदल जाएगा. हालांकि, जब तक बैंक ऑफ बड़ौदा कस्टमर्स को नया आईएफएससी और एमआईसीआर कोड उपलब्ध नहीं कराती है, तब तक वे पुराने कोड से काम चला सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- PM Kisan Yojna:15 दिन के भीतर किसानों के बैंक खाते में आ जाएंगे 7वीं किस्‍त के 2,000 रुपये

    मौजूदा कार्ड एक्‍सपयर होने तक कर सकते हैं इस्‍तेमाल
    देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहक डेबिट कार्ड के एक्सपायर होने तक मौजूदा पिन के साथ इसका इस्तेमाल कर सकेंगे. हालांकि, बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम में पहली बार डेबिट कार्ड डालने पर कस्टमर्स को पिन बदलने को कहा जाएगा. डेट एक्सपायर होने के बाद कस्टमर्स को नए डेबिट कार्ड के लिए अप्लाई करना होगा. वहीं, सभी तरह की डिजिटल सर्विसेज का लाभ केवल https://www.bobibanking.com. पर उपलब्ध होगा. मोबाइल बैंकिंग का लाभ उठाने के लिए सभी कस्टमर्स को बैंक ऑफ बड़ौदा का M-Connect Plus ऐप अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल करना होगा.undefined

    Tags: Bank account, Bank branches, Bank of baroda, Banking reforms, Banking services, Online banking

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर