कुछ कर्मचारियों को माइक्रोसॉफ्ट देगी स्थायी तौर पर वर्क फ्रॉम होम की इजाजत

माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी ‘घर से काम’ नीति का विस्तार करने और कुछ कर्मचारियों के लिए इसे स्थायी बनाने का निर्णय लिया है.
माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी ‘घर से काम’ नीति का विस्तार करने और कुछ कर्मचारियों के लिए इसे स्थायी बनाने का निर्णय लिया है.

माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) कर्मचारियों को उनके कामकाजी सप्ताह (Working week) के 50 प्रतिशत से कम समय के लिए घर (Work from Home) से स्वतंत्र रूप से काम करने की अनुमति देगा. इसके साथ ही प्रबंधक दूरस्थ इलाकों से स्थायी रूप से काम करने को मंजूरी दे सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 12, 2020, 1:29 PM IST
  • Share this:
ह्यूस्टन. अमेरिका के सिएटल स्थित दिग्गज प्रौद्योगिकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी ‘घर से काम’ नीति का विस्तार करने और कुछ कर्मचारियों के लिए इसे स्थायी बनाने का निर्णय लिया है. कंपनी ने नयी ‘Macro workplace’ की गाइड लाइन जारी की है. जिसमें एक खाका पेश किया गया है. किस प्रकार कर्मचारी विभिन्न जगहों पर रहते हुए अधिक लचीले तरीके से कामकाज कर सकते हैं, और यहां तक कि वे देश में किसी अन्य स्थान पर भी जा सकते हैं. कंपनी ने कहा है कि, वह महामारी के दौरान बदलती जरूरतों को समायोजित करने के लिए काम करती रहेगी.

सप्ताह के आधे दिन घर से काम करने की मिलेगी सहूलियत
माइक्रोसॉफ्ट कर्मचारियों को उनके कामकाजी सप्ताह के 50 प्रतिशत से कम समय के लिए घर से स्वतंत्र रूप से काम करने की अनुमति देगा. इसके साथ ही प्रबंधक दूरस्थ इलाकों से स्थायी रूप से काम करने को मंजूरी दे सकेंगे.

यह भी पढ़ें: बजाज के बाद अब Parle-G ने 'जहरीले' चैनलों को विज्ञापन किया बंद, सोशल मीडिया पर ट्रेंड होने लगी कंपनी
माइक्रोसॉफ्ट की कर्मचारियों के मामलों को देखने वाली मुख्य अधिकारी कैथलीन होगन ने आधिकारिक माइक्रोसॉफ्ट ब्लॉग पर एक पोस्ट में कहा, ‘हम, कारोबारी जरूरतों को संतुलित करते हुए हर व्यक्ति की कार्य शैली के अनुसार जहां तक संभव होगा, उसका समर्थन करने का प्रयास करेंगे. साथ ही हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि हम अपनी संस्कृति के अनुसार जीवन जीते रहें.'



यह भी पढ़ें: SBI के करोड़ों ग्राहकों के लिए बड़ी खबर! इस तारीख तक YONO ऐप का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे ग्राहक, बैंक ने दी जानकारी

माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्य नडेला ने कहा कि उनका ध्यान तीन प्रमुख विचारों पर केंद्रित हैं कि, महामारी के बीच काम की प्रकृति कैसे बदल रही है. सहयोग में काम कैसे होता है, कंपनियों के अंदर कैसे सीखा जाता है और यह सुनिश्चित करना कि कर्मचारी कैसे बाहर परेशान न हों. कंपनी ने यह भी कहा कि अधिकांश कर्मचारियों के कामकाजी समय में लचीलापन आया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज