Microtech Developers IPO Updates : इश्यू ओपन हुआ, जानिए निवेश के लिए ब्रोकरेज फर्मों की सलाह

IPO की वैल्यू फिस्कल ईयर 2020 की अर्निंग्स का 26.3 गुना है.

IPO की वैल्यू फिस्कल ईयर 2020 की अर्निंग्स का 26.3 गुना है.

मैक्रोटेक डेवलपर्स (MacroTech Developers) (पूर्व नाम लोढ़ा डेवलपर्स, Lodha Developers) का आईपीओ (IPO) 9 अप्रैल को बंद होगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. मैक्रोटेक डेवलपर्स (MacroTech Developers) (पूर्व नाम लोढ़ा डेवलपर्स, Lodha Developers) का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO, आईपीओ) बुधवार को लॉन्च हो गया है. यह 9 अप्रैल तक ओपन रहेगा.
मुंबई की रियल्टी कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स का IPO से 2500 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में है. इश्यू का प्राइस बैंड 483-486 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है. Microtech Developers के आकर्षक वैल्यूएशन को देखते हुए ब्रोकरेज फर्म इसके शेयर खरीदने की सलाह दे रहे हैं. कंपनी इश्यू से जुटाए गए फंड का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में करेगी. ब्रोकरेज फर्म ये भी उम्मीद कर रहे हैं कि रियल एस्टेट सेक्टर में कंसॉलिडेशन होगा और कंपनी का पोर्टफोलियो और मजबूत होगा. रिलायंस सिक्योरिटीज के मुताबिक, "इस IPO की वैल्यू फिस्कल ईयर 2020 की अर्निंग्स का 26.3 गुना है. इस हिसाब से Microtech Developers प्रतिद्वंदी कंपनियों गोदरेज प्रॉपर्टीज और DLF के मुकाबले ज्यादा आकर्षक लेवल पर है.
यह भी पढें : नौकरी की बात :  इंटरव्यू में नई स्किल के बेहतर प्रदर्शन से मिलेगी जॉब की गारंटी, जानिए ऐसे ही अहम मंत्र

इश्यू जारी करने से पहले ही जुटाए 741 करोड़ रुपए
इश्यू जारी करने से पहले कंपनी एंकर इनवेस्टर्स से 741 करोड़ रुपए जुटा चुकी है. कंपनी ने 6 मार्च को जिन एंकर इनवेस्टर्स से फंड जुटाया है उनमें Ivanhoe OP India Inc, Bayvk A2 Fonds, सिंगापुर गवर्नमेंट, ऑक्सबो मास्टर फंड (Oxbow Master Fund), सिटीग्रुप ग्लोबल, अबू धाबी इनवेस्टमेंट अथॉरिटी, प्लैटिनम, सोसायटे जेनराली ( Societe Generale) और मॉर्गन स्टैनली है. कीमत दायरे के ऊपरी स्तर पर मैक्रोटेक का मार्केट कैप 21,470 करोड़ रुपए होगा. मुंबई की डेवलपर, डीएलएफ व गोदरेज प्रॉपर्टीज के बाद तीसरी सबसे बड़ी सूचीबद्ध रियल्टी कंपनी होगी. ओबेरॉय रियल्टी से इसका स्थान थोड़ा आगे होगा.
यह भी पढें : Success Story : लॉकडाउन में सांसद ने नौकरी से निकाला तो राजमा-चावल ने बदल दी इस कपल की जिंदगी



पहले लोढ़ा डेवलपर्स के नाम से जानी जाती थी कंपनी
मैक्रोटेक डेवलपर्स को पहले लोढ़ा डेवलपर्स के नाम से जानते थे. कंपनी की योजना आने वाली तिमाहियों में नेट डेट घटाकर 12,700 रुपए करने की है. दिसंबर 2020 तक कंपनी ने 7.72 करोड़ वर्गफुट में 91 प्रोजेक्ट्स पूरे कर लिए हैं. 36 प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है जबकि 18 प्रोजेक्ट्स अभी प्लान में हैं. वहीं, कंपनी के विवरणिका मसौदे (डीआरएचपी) के मुताबिक, मैक्रोटेक भारत में आवासीय बिक्री वैल्यू (2014 से 2020) के लिहाज से देश की सबसे बड़ी रियल एस्टेट डेवलपर्स में शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज