Home /News /business /

mid cap pharma company pfizer recommends 350 percent dividend for financial year 22 abhs

350% डिविडेंड देने जा रही यह मिड कैप फार्मा कंपनी, जानिए एक्सपर्ट की राय

फार्मा कंपनी फाइजर कंपनी का नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर बढ़ा है.

फार्मा कंपनी फाइजर कंपनी का नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर बढ़ा है.

फार्मा कंपनी फाइजर ने मार्च, 2022 में समाप्त हुए वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में दमदार प्रदर्शन नहीं किया है. बावजूद इसके कंपनी ने अपने शेयरहोल्डर्स को प्रति शेयर 350 फीसदी डिविडेंड की घोषणा की है.

नई दिल्ली. फार्मा कंपनी फाइजर (Pfizer) ने मार्च, 2022 में समाप्त हुए वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही ​के नतीजे पेश किए हैं. शेयर मार्केट में दाखिल दस्तावेजों के मुताबिक, कंपनी की कुल आय यानी टोटल रेवेन्यू सालाना आधार पर प्रभावित हुई है. चौथी तिमाही में कंपनी की कुल आय 566.78 करोड़ रुपये रही, जबकि वित्त वर्ष 2021 में इसी अवधि में कंपनी की कुल आय 571.96 करोड़ रुपये रही थी. इसका मतलब यह हुआ कि मार्च, 2021 की तुलना में फाइजर को हानि उठानी पड़ी है. बावजूद इसके कंपनी ने 35 रुपये के दमदार डिविडेंड की घोषणा की है.

फाइजर लिमिटेड ने बीएसई को जानकारी दी है कि कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 20 मई को हुई बैठक 31 मार्च, 2022 को समाप्त हुए वित्त वर्ष के लिए 35 रुपये प्रति इक्विटी शेयर डिविडेंड की सिफारिश की है. इस कंपनी के शेयर का फेस वैल्यू 10 रुपये है यानी कंपनी प्रत्येक शेयर पर 350 फीसदी डिविडेंड देगी. फाइजर ने कहा है कि एनुअल जनरल बैठक (AGM) में मुहर लगने पर कंपनी 23 सितंबर, 2022 को या उससे पहले इसका भुगतान करेगी.

ये भी पढ़ें- Paytm Q4 Result : पेटीएम को हुआ 762 करोड़ रुपये का घाटा, कंपनी ने कहा- सही रास्ते पर कारोबार

नेट प्रॉफिट बढ़ा
कंपनी का शुद्ध मुनाफा यानी नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर बढ़ा है. मार्च, 2021 में जहां इस कंपनी का नेट प्रॉफिट 100.55 करोड़ रुपये था, वह इस बार बढ़कर 125.79 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. वैसे, तीसरी तिमाही की तुलना में कंपनी को नेट प्रॉफिट में भी घाटा उठाना पड़ा है. तीसरी तिमाही में कंपनी ने का नेट प्रॉफिट 143.91 करोड़ रुपये था. इसका मतलब यह हुआ कि तीसरी तिमाही की तुलना में कंपनी को नेट प्रॉफिट में 12.59 फीसदी का नुकसान उठाना पड़ा.

निवेशक क्या करे?
बाजार विशेषज्ञों का मानना है कि अमेरिकी फार्मा कंपनी की भारतीय इकाई फाइजर ने वित्तीय स्थिति की बहुत अच्छी तस्वीर नहीं की है, इसीलिए इस शेयर को खरीदने से फिलहाल बचना चाहिए. उनका मानना है कि केवल डिविडेंड को देखते हुए, यह शेयर नहीं खरीदना चाहिए. बता दें कि शुक्रवार को बीएसई पर यह शेयर 2.06 उछलकर 4352 रुपये पर बंद हुआ था.

ये भी पढ़ें- विप्रो और टेक महिंद्रा अपने 52 सप्ताह के हाई से 40 फीसदी लुढ़के, क्या अब कर सकते हैं खरीदारी?

(Disclaimer: यहां बताया गया स्‍टॉक ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित है. यदि आप इसमें पैसा लगाना चाहते हैं, तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह के लाभ या हानि के लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Business news in hindi, Pfizer, Share market

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर