अपना शहर चुनें

States

विदेश में फंसे लोगों ने भारत आने के लिए विमानन मंत्रालय की वेबसाइट को खूब किया सर्च, डाउन हुई साईट अब मेंटेनेंस का काम जारी

विदेश में फंसे लोगों ने इस मंत्रालय की वेबसाइट को खूब किया सर्च, डाउन हुई साईट
विदेश में फंसे लोगों ने इस मंत्रालय की वेबसाइट को खूब किया सर्च, डाउन हुई साईट

कोरोना वायरस की वजह से विदेश में फंसे लोग भारत के एविएशन मिनिस्ट्री की वेबसाइट को लगातार खंगाल रहे हैं. लिहाजा मंत्रालय की वेबसाइट ठप हो गई है. यानी पेज ओपन नहीं हो रहा है. इस पर मेंटेनेंस का काम तेजी से जारी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की वजह से लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इस समय एक मात्र कारगर सहारा डिजिटल माध्यम है. इसी के जरिए सारे काम हो रहे हैं. वो भी अगर बंद हो जाए तो फिर पूरी दुनिया ही सूनी नजर आएगी. कुछ ऐसा ही समय विदेश में फंसे लोगों के साथ हो रहा है. कोरोना वायरस की वजह से विदेश में फंसे लोग भारत के एविएशन मिनिस्ट्री की वेबसाइट को लगातार खंगाल रहे हैं. लिहाजा मंत्रालय की वेबसाइट ठप हो गई है. यानी पेज ओपन नहीं हो रहा है. इस पर मेंटेनेंस का काम तेजी से जारी है.

एविएशन मिनिस्ट्री ने दोपहर में ट्वीट कर जानकारी दी कि विमानन मंत्रालय (Ministry of Civil Aviation) की वेबसाइट ट्रैफिक अधिक बढ़ने की वजह से बंद हो गई है. NIC की टीम इसके मेंटिनेंस पर काम कर रही है. मंत्रालय ने साफ तौर पर कहा है कि फ्लाइट की पूरी जानकारी जल्द ही शेयर कर दी जाएगी. तब तक आपको होने वाली असुविधा के लिए हमें खेद है.

ये भी पढ़ें:-  4.5 करोड़ लोगों को फ्री में मिला LPG सिलेंडर, आप भी उठा सकते हैं फायदा!



दरअसल विदेश में फंसे लोगों को निकालने के लिए सरकार 7 मई से एक अभियान के शुरुआत करने की घोषणा की है. कुल 12 देशों में तकरीबन 15000 भारतीय लोग फंसे इन्हें निकालने के लिए एयर इंडिया 64 उडानों का परिचालन करेगी. इन सभी लोगों को यात्रा का खर्च स्वयं वहन करना होगा. साथ ही स्वदेश वापसी पर अपने खर्चे पर 14 दिन तक किसी अस्पताल में क्वारंटाइन में रहना होगा.
64 फ्लाइट्स उड़ेंगी और विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाया जाएगा
ये भारतीय कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में लागू लॉकडाउन और यात्रा प्रतिबंधों के चलते विदेश में फंस गए थे. केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने साफ किया है कि नागरिकों को दूसरे देशों से बाहर निकालने का पहला चरण 7 से 13 मई का होगा. इसके दौरान 64 फ्लाइट्स उड़ेंगी और विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाया जाएगा. मौजूदा प्लान के मुताबिक, यूएई से 10 फ्लाइट्स, कतर से 2, सऊदी अरब से 5 और यूके व अमेरिका से 7-7 विमान उड़ान भरेंगे. इसके अलावा बांग्लादेश से 7, और ओमान से 2 फ्लाइट्स भारतीयों को स्वदेश लेकर आएंगी.

ये भी पढ़ें:- लॉकडाउन में मिली बड़ी राहत! आपकी कार से जुड़े डॉक्यूमेंट को लेकर मिली ये छूट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज