कोरोना काल में बिना जोखिम पैसा बनाने का मौका, 5000 रुपये से कर सकते हैं शुरुआत

कोरोना काल में बिना जोखिम पैसा बनाने का मौका, 5000 रुपये से कर सकते हैं शुरुआत
मिराए एसेट ने लॉन्च किया मिराए एसेट आर्बिट्रेज फंड

मिराए एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया (Mirae Asset Investment Managers) ने मिराए एसेट आर्बिट्रेज फंड (Arbitrage Funds) लॉन्च की है. यह एक ओपन इंडेड स्कीम है. कंपनी का ऑफर सबस्क्रिप्शन के लिए 3 जून 2020 से खुल गया है और यह 12 जून 2020 को बंद होगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत का तेजी से बढ़ता हुआ फंड हाउस मिराए एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया (Mirae Asset Investment Managers) ने मिराए एसेट आर्बिट्रेज फंड (Arbitrage Funds) लॉन्च किया है. यह एक ओपन इंडेड स्कीम है. कंपनी का ऑफर सबस्क्रिप्शन के लिए 3 जून 2020 से खुल गया है और यह 12 जून 2020 को बंद होगा. इसके तहत आर्बिट्रेज फंड में निवेश का मौका मिलेगा. जिसमें लंबी अवधि में कैश और छोटी अवधि में फ्यूचर में निवेश किया जा सकेगा. आर्बिट्रेज फंड एक ऐसा हथियार है जो निवेशकों को बिना जोखिम कमाने का मौका देता है.

कोविड-19 महामारी (COVDI-19 Pandemic) के चलते पिछले कुछ महीनों से भारतीय इक्विटी बाजार काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है. देशव्यापी लॉकडाउन के पिछले साल से अब तक निफ्टी 50 में 24% गिरावट देखी गई है. जिसमें मार्च में केवल 23% की गिरावट रही है. हालांकि अप्रैल में 14% का उछाल भी देखा गया है. बाजार के हालात को देखते हुए करीब-करीब सभी म्यूचुअल फंड कैटेगरी लाल निशान में है. केवल आर्बिट्रेज फंड को छोड़कर. जब बाजार में उठापटक हो रही हो तो ऐसे में आर्बिट्रेज फंड एक ऐसा हथियार है जो निवेशकों को कमाने का मौका देता है वो भी बिना जोखिम के. खासकर जो इक्विटी में निवेश करना चाहते हैं और बाजार की उठापटक के बगैर बिना जोखिम के लाभ कमाना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें :- यहां सेविंग बैंक खाते में मिलेगा एफडी से ज्यादा ब्याज, घर बैठे खाता खोलकर उठाए फायदा



आर्बिट्रेज क्या होता है?



आर्बिट्रेज एक रणनीति के तहत बाजार के विभिन्न तरह के इंश्ट्रूमेंट के मूल्य अंतर से लाभ कमाता है. ये कैश और डेरिवेटिव मार्केट में कीमतों के अंतरों का फायदा उठाकर रिटर्न पैदा करते हैं. म्यूचुअल फंडों की ये स्कीमें कैश सेगमेंट में शेयरों को खरीदती हैं और साथ-साथ उसी कंपनी के डेरिवेटिव सेगमेंट में फ्यूचर बेचती हैं. यह तभी किया जाता है जब फ्यूचर उचित प्रीमियम पर कारोबार करते हैं.

मान लिजिए यदि एक ही वस्तु की कीमत अलग-अलग बाजारों में अलग-अलग होती है, तो आप उस वस्तु को बाजार से खरीदकर जोखिम मुक्त मुनाफा वहां से कमा सकते हैं. जहां कीमत कम होती है और साथ ही साथ उस बाजार में बेची जाती है जहां कीमत अधिक होती है. यह महत्वपूर्ण है कि लेनदेन को खरीदने और बेचने दोनों को एक साथ निष्पादित किया जाता है ताकि आप मुनाफे को लॉक किया जा सकें और कीमत जोखिमों के संपर्क में न आने पाए. आर्बिट्रेजर्स का मुख्य उद्देश होता है कि बिना जोखिम के 100 खरीद-बिक्री की जा सके या उसे हेज किया जा सके.

आर्बिटेज फंड की मुख्य बातें
>> इसका एक छोटा हिस्सा आर्बिट्रेज के दूसरे फंडों (कार्पोरेट्स) में निवेश किया जा सकेगा.
>> इक्विटी बाजार के जोखिमों को देखते हुए रिस्क फ्री रिटर्न मुहैया हो सकेगा.
>> आर्बिट्रेज में निवेश करने के सीमित मौके होगें. स्कीम के तहत छोटा पार्ट उच्च क्वालिटी के डेट सिक्योरिटीज में औऱ मनी मार्केट के दूसरे जगहों पर निवेश किया जाएगा.
>> इसमें निवेश के तहत पैसे को टर्म डिपॉजिट, कैश और कैश के दूसरे संभागों मे लगाया जाएगा.
>> इस फंड का जिग्नेश एन राव और जिगर सेथिया (इक्विटी), महेंद्र जाजू (विभाग) मैनेज करेंगे.

ये भी पढ़ें :- भूल जाएं नौकरी की टेंशन! लॉकडाउन में इस बिजनेस से हर महीने होगी 1.5 लाख रुपये की कमाई

इस मौके पर मिराए एसेट के इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (इंडिया) प्रा. लिमिटेड के सीईओ स्वरूप मोहंती ने कहा, 'मिराए एसेट आर्बिट्रेज फंड का उद्देश्य रिस्क फ्री रिटर्न देने का है. जो कि इक्विटी बाजार में ज्यादा होता है. बाजार के उतार-चढ़ाव को देखते हुए आर्बिट्रेज को इस तरह से मैनेज किया जाएगा कि यह बेहतर रिटर्न प्रदान कर सके. यह छोटी से मध्यम अवधि में निवेश करने वाले के लिए बेहतर विकल्प होगा. इक्विटी और डेड साइड को देखते हुए मिराए के अनुभव के आधार पर इस फंड का एलोकेशन किया जाएगा.'

कितना करना होगा निवेश?
इस स्कीम में शुरुआती निवेश 5000 रुपये का होगा जो 1 रुपये के मल्टीप्लायर में होगा. यूनिट प्राप्त होने के बाद बाकी पैसा निवेशकों को रिटर्न कर दिया जाएगा. मिराए एसेट आर्बिट्रेज फंड निवेशकों को रेगुलर और डायरेक्ट प्लान दोनों में निवेश करने का मौका देता है. वहीं इसमें ग्रोथ के साथ डिविडेंड का भी ऑप्शन उपलब्ध रहेगा. यह स्कीम रिपर्चेज और बिक्री के लिए 22 जून को दोबारा खोला जाएगा.

ये भी पढ़ें :- लॉकडाउन के बीच इन बैंकों में कराएं FD! जल्दी होगा आपका पैसा डबल, सरकारी बैंकों से दोगुना मिल रहा है ब्याज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading