होम /न्यूज /व्यवसाय /Mkt cap of top 10 firms : शीर्ष 10 से 7 कंपनियों का मार्केट कैप 1.34 लाख करोड़ घटा, किसे हुआ सर्वाधिक नुकसान

Mkt cap of top 10 firms : शीर्ष 10 से 7 कंपनियों का मार्केट कैप 1.34 लाख करोड़ घटा, किसे हुआ सर्वाधिक नुकसान

सेंसेक्स की शीर्ष कंपनियों के मार्केट कैप में आई गिरावट.

सेंसेक्स की शीर्ष कंपनियों के मार्केट कैप में आई गिरावट.

बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 741.87 अंक या 1.26 प्रतिशत के नुकसान में रहा. समीक्षाधीन सप्ताह में हिंदुस ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पिछले हफ्ते सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से 7 कंपनियों ने गंवाएं 1.34 लाख करोड़ रुपये.
इनमें से केवल हिन्दुस्तान यूनिलीवर, आईटीसी और बाजार फाइनेंस का मार्केट कैप बढ़ा.
विदेशी ने भी पिछले हफ्ते घरेलू शेयर बाजारों में निवेश से अधिक निकासी की.

नई दिल्ली. सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से सात कंपनियों के मार्केट कैप में पिछले सप्ताह सामूहिक रूप से 1,34,139.14 करोड़ रुपये की गिरावट आई. सबसे अधिक नुकसान में रिलायंस इंडस्ट्रीज रही. बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 741.87 अंक या 1.26 प्रतिशत के नुकसान में रहा.

समीक्षाधीन सप्ताह में हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, बजाज फाइनेंस और आईटीसी को छोड़कर अन्य 7 कंपनियों के पूंजीकरण में गिरावट आई. रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 40,558.31 करोड़ रुपये घटकर 16,50,307.10 करोड़ रुपये पर आ गया. एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप 25,544.89 करोड़ रुपये घटकर 8,05,694.57 करोड़ रुपये रह गया.

ये भी पढ़ें- एफपीआई ने भारतीय बाजारों पर घटाया भरोसा, बीते हफ्ते निवेश से अधिक की निकासी

अन्य पांच कंपनियों का मूल्यांकन कितना गिरा?
अडानी ट्रांसमिशन का पूंजीकरण 24,630.08 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ 4,31,662.20 करोड़ रुपये पर और आईसीआईसीआई बैंक का 18,147.49 करोड़ रुपये टूटकर 6,14,962.99 करोड़ रुपये पर आ गया. भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का मार्केट कैप 9,950.94 करोड़ रुपये घटकर 4,91,255.25 करोड़ रुपये रह गया. वहीं, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) का मार्केट कैप 9,458.65 करोड़ रुपये घटकर 10,91,421.84 करोड़ रुपये रह गया. इन्फोसिस के बाजार पूंजीकरण में 5,848.78 करोड़ रुपये की गिरावट आई और यह 5,74,463.54 करोड़ रुपये रह गया.

इन कंपनियों का बढ़ा मार्केट कैप
इस रुख के उलट हिंदुस्तान यूनिलीवर का मार्केट कैप 35,467.08 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 6,29,525.99 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. आईटीसी का पूंजीकरण 20,381.61 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,29,198.61 करोड़ रुपये रहा. बजाज फाइनेंस का बाजार पूंजीकरण 13,128.73 करोड़ रुपये की बढ़त के साथ 4,54,477.56 करोड़ रुपये रहा. शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही. उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, इन्फोसिस, एसबीआई, बजाज फाइनेंस, अडानी ट्रांसमिशन और आईटीसी का स्थान रहा.

विदेशी निवेशकों की बिकवाली
बीते हफ्ते विदेशी निवेशकों ने भी भारतीय शेयर बाजार में बिकवाली शुरू कर दी. इससे पहले वे जुलाई के बाद से लगातार खरीदारी कर रहे थे. 16 सितंबर तक जो निवेश 12 हजार करोड़ रुपये था वह घटकर 8000 करोड़ के करीब आ गया. इसका मतलब है कि विदेशी निवेशकों ने पिछले हफ्ते करीब 4,000 करोड़ रुपये के शेयरों की बिकवाली की है. सेंसेक्स पिछले हफ्ते शुक्रवार को 1020 अंक टूटकर 58098 से थोड़ा ऊपर और निफ्टी 302 अंकों की गिरावट के साथ 17327 के स्तर पर बंद हुआ था.

Tags: BSE Sensex, Business news in hindi, FPI, Stock market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें