रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, हादसा मुक्त बनाएंगे सफर, यात्रियों की सुविधा का रखेंगे ख्याल

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: June 1, 2019, 3:06 PM IST
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, हादसा मुक्त बनाएंगे सफर, यात्रियों की सुविधा का रखेंगे ख्याल
रेल मंत्रालय में पीयूष गोयल और सुरेश अंगाड़ी (Photo-News18hindi)

पीयूष गोयल ने कहा कि ट्रैक के रखरखाव और ट्रेनों का समय पालन सुनिश्चित करना हमारे प्रमुख लक्ष्यों में से एक है

  • Share this:
बीजेपी की बंपर जीत के बाद रेल मंत्री के तौर पर पीयूष गोयल ने अपनी दूसरी पारी की शुरुआत कर दी है. शुक्रवार को गोयल ने बतौर रेल मंत्री एक बार फिर से जिम्मा संभाल लिया. कार्यभार संभालने के बाद गोयल ने पीएम नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया और कहा कि रेलवे के कामकाज में निरंतरता बरकरार रहेगी. साथ ही मालभाड़ा और यात्रियों की सुविधा का विशेष ख्याल रखा जाएगा. न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में गोयल और पहली बार रेल राज्य मंत्री बने सुरेश अंगाड़ी ने रेलवे की प्राथमिकताएं गिनाईं.

पीयूष गोयल ने मीडिया के साथ बात करते हुए कहा कि मैं प्रसन्न हूं कि पहली पारी में हमने जो काम शुरू किए थे, उसको जारी रखने का दायित्व भी हमें ही मिला है. मुझे खुशी है कि मोदी जी ने इस काम को आगे बढ़ाने के लिए सुरेश अंगाडी जी को नियुक्त किया है. मैं आशा करता हूं कि यात्रियों की सुविधा और माल ढुलाई की प्रक्रिया में जो सुधार बच गए हैं उसको पूरा करेंगे. (ये भी पढ़ें:  किसानों के अच्छे दिन, खेती-किसानी से जुड़ा है 17वीं लोकसभा का हर चौथा सांसद!)

modi cabinet, improve in accidents and passenger experiences, piyush goyal, suresh angadi, railway ministry, पीयूष गोयल, रेलवे मंत्रालय, पीएम मोदी, मोदी मंत्रिमंडल, सुरेश अंगाड़ी, कर्नाटक,बेलगाम, यात्री सुविधा, मालाभाड़ा      रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगाड़ी (Photo-News18hindi)

गोयल ने अपने पिछले कार्यकाल में रेल हादसों को न्यूनतम स्तर पर ले जाने और रेलवे क्राॅसिंग को पूरी तरह समाप्त करने जैसी उपलब्धियां भी गिनाईं. गोयल ने कहा, 'इस बार हमारा लक्ष्य दुर्घटनाओं को शून्य के स्तर पर लाना होगा. साथ ही हमारी पूरी कोशिश रेलवे द्वारा शुरु किए गए सुधार को जारी रखने की भी होगी. हम इस काम के लिए पारदर्शिता, नई सोच, ईमानदारी के साथ नई ऊंचाइयां हासिल करेंगे.'

गोयल ने कहा कि ट्रैक के रखरखाव और नवीकरण की प्रक्रिया तेज करने के अलावा ट्रेनों का समय पालन सुनिश्चित करना हमारे प्रमुख लक्ष्यों में से एक है. यात्रियों की सुविधा का विशेष ख्याल रखते हुए महामना, हमसफर, वंदे भारत और तेजस जैसी नई उन्नत ट्रेने चलानी होंगी. इसके लिए कोच के उत्पादन में और बढ़ोतरी की दरकार है. रेलवे की आमदनी बढ़ाने के लिए भी माल ढुलाई के अलावा गैर भाड़ा राजस्व में बढ़ोतरी के उपाय तलाशे जा रहे हैं.

कर्नाटक के बेलगाम से चौथी बार सांसद चुने गए और रेल राज्य मंत्री बने सुरेश अंगाडी ने बातचीत में कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मोदी जी ने मुझे रेलवे की जिम्मेदारी दी है. ये मेरे लिए और खुशी की बात है कि मुझे पीयूष गोयल के साथ काम करने का मौका मिला है. मैं अपने राज्य कर्नाटक और भारत की जनता के लिए जो कुछ होगा वह करुंगा. हमारी प्राथमिकता है कि भारत में भी जापान और चीन जैसे 300 किमी की रफ्तार वाली ट्रेनें चलें. हम सभी ट्रेनों की रफ्तार के साथ यात्री सुविधाओं का विशेष ख्याल रखेंगे. बुलेट ट्रेन चलाने का जो लक्ष्य तय किया गया है उसको हम लोग तय समय पर पूरा कर लेंगे.

(साथ में ओम प्रकाश)
Loading...

ये भी पढ़ें: 

क्या अटल-आडवाणी जैसी साबित होगी मोदी-शाह की जोड़ी?

सेना होगी हाईटेक और अपने देश में बनेंगे हथियार, राजनाथ सबसे पहले करेंगे ये 6 काम

PHOTOS: लोकसभा चुनाव 2019 की वो तस्वीरें जिन्हें भुला नहीं पाएंगे आप!
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 1, 2019, 2:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...