कैबिनेट की बैठक खत्म, कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 को मिली मंजूरी, हुए कई अहम फैसले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कई अहम फैसले हुए. कैबिनेट कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 को मंजूरी दे दी. ये बिल अगले हफ्ते संसद में पेश हो सकता है.

News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 4:44 PM IST
News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 4:44 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कई अहम फैसले हुए. कैबिनेट कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 को मंजूरी दे दी. ये बिल अगले हफ्ते संसद में पेश हो सकता है. इस विधेयक में कंज्यूमर के हितों की रक्षा करने के लिए नए प्रावधान अंतरराष्ट्रीय मानकों पर आधारित हैं. वहीं इस कैबिनेट बैठक में मोटर व्हीकल अमेंडमेंट बिल को भी मंजूरी दे दी गई है. इसके अलावा चीनी का 20 लाख टन बफर स्टॉक बनाने के लिए कैबिनेट नोट जारी कर दिया गया है.

कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 को कैबिनेट की मंजूरी
सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक केंद्रीय कैबिनेट ने आज कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 को मंजूरी दे दी है. इस विधेयक में कंज्यूमर के हितों की रक्षा करने के लिए नए प्रावधान अंतरराष्ट्रीय मानकों पर आधारित हैं. इसके अलावा इस कैबिनेट बैठक में मोटर व्हीकल अमेंडमेंट बिल को भी मंजूरी दी गई है.

ये भी पढ़ें: भारत में 100 रुपये प्रति लीटर के पार जा सकती हैं पेट्रोल की कीमतें, जानें क्या है वजह?

चीनी का बफर स्टॉक बनाएगी सरकार
वहीं, चीनी का 30 लाख टन बफर स्टॉक बनाने के लिए कैबिनेट नोट जारी कर दिया गया है. अगले हफ्ते कैबिनेट में इस को मंजूरी मिल सकती है. शनिवार को प्रधानमंत्री कार्यालय में इसको लेकर बैठक हुई थी.

बता दें कि मौजूदा चीनी का स्टॉक 30 लाख टन की समय सीमा 30 जून तक है. सरकार मौजूदा स्टॉक की मियाद 1 साल के लिए बढ़ा सकती हैं. सरकार इसके लिए 1100 करोड रुपए की सब्सिडी भी दे सकती है.



एयरपोर्ट इकोनॉमिक रेगुलेटरी अथॉरिटी बिली को CCEA की मंजूरी
बड़े एयरपोर्ट पर टैरिफ चार्जेज तय करने के लिए अलग अथॉरिटी बनाने का प्रस्ताव, सालाना 15 लाख से ज्यादा पैसेंजर्स वाले एयरपोर्ट पर लागू होगा नियम.



कैबिनेट बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, रसायन व उवर्रक मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत चार अन्य मंत्री भी शामिल हुए.

 

ये भी पढ़ें: सऊदी अरब अप्रवासियों को दे रहा है नागरिकता, खर्च करने होंगे इतने रुपये
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...