बड़ी तैयारी! जम्मू-कश्मीर में मोदी सरकार इस प्रोजेक्ट पर करेगी 5821 करोड़ रुपये का निवेश!

News18Hindi
Updated: August 20, 2019, 2:44 PM IST

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में हाइड्रो प्रोजेक्टस (Hydro Projetcs) की रफ्तार बढ़ाने के लिए सरकार (Government) एक्शन में आ गई है. एनएचपीसी (NHPC) के रातले प्रोजेक्ट (Ratle Project) की फंडिंग का रास्ता साफ हो गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 20, 2019, 2:44 PM IST
  • Share this:
जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में हाइड्रो प्रोजेक्टस (Hydro Projetcs) की रफ्तार बढ़ाने के लिए सरकार (Government) एक्शन में आ गई है. एनएचपीसी (NHPC) के रातले प्रोजेक्ट (Ratle Project) की फंडिंग का रास्ता साफ हो गया है. इस प्रोजेक्ट में सरकार की ओर से 5,281 करोड़ रुपये के निवेश की योजना है. सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इन प्रस्तावों को जल्द कैबिनेट की मंजूरी मिलेगी.

जम्मू-कश्मीर के चेनाब नदी पर एनएचपीसी का रातले प्रोजेक्ट बन रहा है. इसके बनाने पर करीब 5,281 करोड़ रुपये की लागत आएगी. ऊर्जा मंत्रालय ने रातले प्रोजेक्ट में निवेश के लिए अंतिम प्रस्ताव पब्लिक इंवेस्टमेंट बोर्ड को भेज दिया है. उसके बाद एक महीने के अंदर इस पर कैबिनेट मुहर लगाएगी. इसके बाद इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा.

850 मेगा वॉट की क्षमता
रातले प्रोजेक्ट की क्षमता 850 मेगा वॉट का है. NHPC और जम्मू-कश्मीर स्टेट पावर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के बीच ज्वाइंट वेंचर है. इस प्रोजेक्ट में शुरुआत की 5 साल के लिए एनएचपीसी की हिस्सेदारी 51 फीसदी के आस-पास होगी. बाद में इस प्रोजेक्ट को जम्मू-कश्मीर सरकार को सौंप दिया जाएगा. ये भी पढ़ें: डेबिट कार्ड को खत्म करने की तैयारी में SBI, जानें पूरा मामला!



पाकिस्तान सिंधु जल संधि का हवाला देकर इस प्रोजेक्ट का विरोध कर रहा है. लेकिन विरोध के बावजूद सरकार इस प्रोजेक्ट पर तेजी से काम शुरू करना चाहती है. इसको ध्यान में रखते हुए ऊर्जा मंत्रालय ने पब्लिक इंवेस्टमेंट बोर्ड को भेजा है और फिर कैबिनेट इस पर मुहर लगाएगी. इसके बाद इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा.

J&K में 4-5 नए हाइड्रो प्रोजेक्ट्स लगाएगी सरकार
Loading...

मोदी सरकार की योजना जम्मू-कश्मीर में 4 से 5 हाइड्रो प्रोजेक्ट लगाने की है. इन हाइड्रो प्रोजेक्ट्स को बनाने के लिए 20 हजार से 25 हजार करोड़ रुपए की लागत आएगी. इसके लिए सरकार स्पेशल पैकेज की योजना बना रही है. ऊर्जा मंत्रालय ने NTPC-NHPC को 2 महीने में प्रस्ताव तैयार करने के लिए कहा है.

800-1200 मेगावाट्स के हो सकते हैं प्रोजेक्ट
ये सभी प्रोजेक्ट्स 800-1200 MW के हो सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक, इन प्रोजेक्ट्स के लिए निजी कंपनियों को भी आमंत्रित करने की योजना है. बता दें कि जम्मू-कश्मीर में 4 बड़े हाइड्रो प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं. नए प्रोजेक्ट्स के जरिये जल क्षमता के इस्तेमाल की योजना है.

(प्रकाश प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें: SBI ने ग्राहकों को फेस्टिव सीजन पर दिए 3 बड़े तोहफे! अब खत्म किए ये चार्जेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 2:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...