• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • मोदी सरकार की ये हैं सबसे हिट योजना! 30 जून तक मिलेगा 8.5 फीसदी मुनाफा!

मोदी सरकार की ये हैं सबसे हिट योजना! 30 जून तक मिलेगा 8.5 फीसदी मुनाफा!

Demo Pic.

Demo Pic.

लोकसभा चुनाव 2019 में मोदी सरकार को मिली बड़ी जीत के बाद अब हर तरफ सरकार की योजनाओं को तारीफ हो रही है. इसीलिए आज हम आपको एक हिट स्कीम की जानकारी दे रहे हैं.

  • Share this:
    लोकसभा चुनाव 2019 में मोदी सरकार को मिली बड़ी जीत के बाद अब हर तरफ सरकार की योजनाओं को तारीफ हो रही है. पिछले 5 साल में सरकार की जिन योजनाओं को लोगों ने हाथों-हाथ लिया उनमें से एक, सुकन्या समृद्धि स्कीम है. इस योजना के तहत आपको बेटी के लिए अकाउंट खोलने का मौका मिलता है और इस पर आपको 8.5 फीसदी ब्याज मिलता है.इसके साथ ही सेक्शन 80सी के तहत इस योजना में निवेश करने पर टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है. यानी सालाना 1.5 लाख रुपये के निवेश पर आप टैक्स छूट का फायदा उठा सकते हैं. स्कीम से मिलने वाला रिटर्न भी टैक्स फ्री है.

    आपको बता दें कि पिछले पांच साल के दौरान इस स्कीम ने किसी भी सरकारी योजना से ज्यादा रिटर्न दिया है.

    इस स्कीम में अब तक दिया गया रिटर्न
    1 अप्रैल, 2014: 9.1%
    1 अप्रैल, 2015: 9.2%
    1 अप्रैल, 2016 -30 जून, 2016: 8.6%
    1 जुलाई, 2016 -30 सितंबर, 2016: 8.6%
    1 अक्टूबर, 2016-31 दिसंबर, 2016 : 8.5%
    1 जुलाई, 2017-31 दिसंबर, 2017 : 8.3%
    1 जनवरी, 2018- 31 मार्च, 2018 : 8.1%
    1 अप्रैल, 2018 - 30 जून, 2018 : 8.1%
    1 जुलाई, 2018 - 30 सितंबर, 2018 : 8.1%
    1 अक्टूबर, 2018 - 31 दिसंबर, 2018 : 8.5%
    1 जनवरी 2019 - 31 मार्च, 2019 : 8.5%

    ये भी पढ़ें: 10 रुपये में खोलें Post Office में ये अकाउंट, सेविंग अकाउंट से ज्यादा मिलेगा ब्याज



    कौन खुलवा सकता है इस स्कीम में खाता- यह खाता बेटी के माता-पिता या कानूनी अभिभावक उसके नाम से खुलवा सकते हैं. इसे बेटी के जन्म से उसके 10 साल का होने तक खुलवाया जा सकता है. नियमों के मुताबिक, एक बच्ची के लिए एक ही खाता खोला जा सकता है और उसमें पैसा जमा किया जा सकता है. यानी एक बच्ची के लिए दो खाते नहीं खोले जा सकते हैं. खाता खुलवाते समय बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट पोस्ट ऑफिस या बैंक में देना जरूरी है. इसके साथ ही बेटी और अभिभावक के पहचान और पते का प्रमाण भी देना पड़ता है. (ये भी पढ़ें-मोदी सरकार के शुरुआती 100 दिनों में आ सकती हैं ये 4 बड़ी योजनाएं)

    क्या मिलता है फायदा- इस स्कीम में किए जाने वाले निवेश पर टैक्स छूट के साथ इससे मिलने वाला रिटर्न भी टैक्स फ्री होता है.

    सुकन्या समृद्धि योजना क्या है, सुकन्या समृद्धि योजना 2018, सुकन्या समृद्धि योजना के नियम 2018, सुकन्या समृद्धि योजना लेटेस्ट न्यूज़, सुकन्या समृद्धि योजना 2019, सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर एक्सेल, सुकन्या समृद्धि योजना फॉर्म, सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट, Sukanya Samriddhi Yojana, योजना, बेटी, सुकन्या समृद्धि योजना, खाता, सरकारी स्कीम, account, government scheme, सेविंग अकाउंट

    जरुरत पड़ने पर खाने से रकम निकालने का क्या नियम है- खाताधारक की वित्तीय जरूरतें पूरी करने के लिए खाते से आंशिक निकासी की जा सकती है. इनमें उच्च शिक्षा और शादी जैसे काम शामिल हैं. इसमें खाते में पिछले वित्त वर्ष के अंत तक जमा रकम का 50 फीसदी निकाला जा सकता है. खाते से यह निकासी तभी संभव है, यदि अकाउंट होल्डर 18 साल की उम्र पार कर ले. अकाउंट से रकम निकालने के लिए एक लिखित आवेदन और किसी शैक्षणिक संस्थान में एडमिशन ऑफर या फीस स्लिप की जरूरत होती है. (ये भी पढ़ें- नई नौकरियों को लेकर मोदी सरकार उठाएगी ये कदम!)

    सुकन्या समृद्धि योजना क्या है, सुकन्या समृद्धि योजना 2018, सुकन्या समृद्धि योजना के नियम 2018, सुकन्या समृद्धि योजना लेटेस्ट न्यूज़, सुकन्या समृद्धि योजना 2019, सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर एक्सेल, सुकन्या समृद्धि योजना फॉर्म, सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट, Sukanya Samriddhi Yojana, योजना, बेटी, सुकन्या समृद्धि योजना, खाता, सरकारी स्कीम, account, government scheme, सेविंग अकाउंट

    खाते में कैसे जमा होते हैं पैसे-  खाते में कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट या ऐसे किसी इंस्ट्रूमेंट से रकम जमा कर सकते हैं, जिसे बैंक स्वीकार करता हो. इसके लिए पैसे जमा करने वाले और खाताधारक का नाम लिखना जरूरी है. खाते में इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर मोड से भी पैसे जमा कर सकते हैं. शर्त यह है कि उस पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम मौजूद हो. अगर खाते में चेक या ड्राफ्ट से पैसे जमा किए जाते हैं तो क्लियर होने के बाद से उस पर ब्याज दिया जाएगा. जबकि ई-ट्रांसफर के मामले में डिपॉजिट के दिन से यह कैलकुलेशन होगा.

    ये भी पढ़ें: मोदी सरकार की मदद से शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी लाखों में कमाई

    खाता ट्रांसफर करने का क्या तरीका है- यह खाता देशभर में कहीं भी ट्रांसफर हो सकता है. शर्त यह है कि जिस बेटी के नाम से खाता खुला है वह एक जगह से कहीं और शिफ्ट हो रही है. ट्रांसफर में कोई फीस नहीं लगती है. इसके लिए अकाउंट होल्डर या उसके माता-पिता/अभिभावक के शिफ्ट होने का सबूत दिखाना पड़ता है. अगर इस तरह का कोई सबूत नहीं दिखाया गया तो अकाउंट ट्रांसफर के लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक को 100 रुपये फीस चुकानी पड़ेगा जहां खाता खोला गया है.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज