डिजिटल पेमेंट को लेकर मोदी सरकार नया ऐलान, जल्द मिलेगी ये बड़ी छूट...

डिजिटल पेमेंट और कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बजट में कई कदम उठाए हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डिजिटल पेमेंट स्वीकार करने वाले कारोबारियों को छूट का प्रस्ताव दिया है.

News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 7:58 PM IST
डिजिटल पेमेंट को लेकर मोदी सरकार नया ऐलान, जल्द मिलेगी ये बड़ी छूट...
डिजिटल पेमेंट को लेकर सरकार ऐलान, कारोबारियों को मिलेगी छूट
News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 7:58 PM IST
डिजिटल पेमेंट और कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बजट में कई कदम उठाए हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डिजिटल पेमेंट स्वीकार करने वाले बड़े कारोबारियों को छूट का प्रस्ताव दिया है. डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सरकार ने हाल ही में कई पहलें की हैं. डिजिटल पेमेंट का जिक्र करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार ने इसे प्रोत्साहित करने के लिए अधिक से अधिक प्रयास किए जा रहे हैं.

50 करोड़ रु का कारोबार करने वालों पर नहीं लगेगा MDR
जिन कारोबारियों का सालाना टर्नओवर 50 करोड़ रुपये या उससे ज्यादा है वो अगर डिजिटल पेमेंट के जरिए अपने ग्राहकों से भुगतान लेते हैं तो उनको पेमेंट पर कोई चार्ज या मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट (MDR) नहीं देना होगा. इसके लिए सरकार आयकर अधिनियम व भुगतान एवं निपटान प्रणाली अधिनियम 2007 में आवश्यक संसोधन कर रही है. ये भी पढ़ें: बैंक खाते में पैसा जमा करने से जुड़ा नियम बदला! फटाफट जानिए



ये हैं डिजिटल पेमेंट मोड
भीम यूपीआई (BHIM UPI), यूपीआई क्यूआर कोड (UPI QR Code), आधार पे (Aadhaar Pay), डेबिट कार्ड (Debit Card), एनईएफटी (NEFT) और आरटीजीएस (RTGS) जैसी कई डिजिटल पेमेंट व्यवस्थाएं हैं.

साल में 1 करोड़ से ज्यादा कैश विदड्रॉल पर लगेगा TDS
Loading...

इसके अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण में यह भी ऐलान की कि एक साल में बैंक खाते से एक करोड़ रुपये से अधिक की नकदी की निकासी पर 2 फीसदी का टीडीएस लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: LIC की खास स्कीम! अब होम लोन की टेंशन जाए भूल, मिलेंगी खास सुविधाएं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 6, 2019, 6:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...