चीन से लगा TV के इंपोर्ट पर बैन- चाइनीज कंपनियों को होगा 2000 करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान

चीन से लगा TV के इंपोर्ट पर बैन- चाइनीज कंपनियों को होगा 2000 करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान
मोदी सरकार का चीन के खिलाफ बड़ा फैसला! अब लगाया इस इलेक्ट्रिक चीज पर बैन

केंद्र सरकार (Central Government) के इस फैसले ने एक बार चीन की फिर नींद उड़ा दी है. भारत ने चीन को 2000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान पहुंचाया है. सरकार ने चीन से आने वाले सैकड़ों करोड़ के कलर टीवी के निर्यात (Color TV Import Ban from China) पर रोक लगा दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 31, 2020, 11:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार (Central Government) के इस फैसले ने एक बार चीन की फिर नींद उड़ा दी है. भारत ने चीन को 2000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान पहुंचाया है. केंद्र सरकार (Central Government) के इस फैसले ने एक बार चीन की फिर नींद उड़ा दी है. भारत ने चीन को 2000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान पहुंचाया है. सरकार ने चीन से आने वाले सैकड़ों करोड़ के कलर टीवी के निर्यात (Color TV Import Ban from China) पर रोक लगा दी है. सरकार के इस फैसले से चीन जैसे देशों का बहुत नुकसान होने वाला है. इंडियन टेलिविजन मार्केट में चाइनीज ब्रैंड का शेयर बहुत बड़ा था. लेकिन अब सरकार के इस फैसले से लोकल मैन्युफैक्चरर्स को फायदा मिलेगा.

टीवी आयात पर रोक को लेकर विदेश व्यापार महानिदेशालय (DGFT) ने एक नोटिफिकेशन में कहा, कि रंगीन टेलीविजन की आयात नीति को प्रतिबंधित कैटिगरी में डाल दिया गया है. ऐसे में DGFT की मंजूरी के बिना टीवी नहीं आयात किए जा सकते हैं. DGFT वाणिज्य मंत्रालय के तहत आता है.

चीन से रंगीन टीवी के आयात पर रोक लगाने से चीन हो इतना नुकसान
भारत में हर साल हजारों करोड़ के रंगीन टीवी आते है. इसमें चीन की हिस्सेदारी बहुत ज्यादा है और धीरे-धीरे उसका मार्केट शेयर बढ़ रहा था. वित्त वर्ष 2019-20 भारत ने 78.1 करोड़ डॉलर (करीब 5800 करोड़, वर्तमान मूल्य के हिसाब से) कीमत के रंगीन टीवी आयात किये. इनमें से वियतनाम से 42.8 करोड़ डॉलर (करीब 3100 करोड़ रुपये) और चीन से 29.3 करोड़ डॉलर (करीब 2100 करोड़ रुपये) हुआ. पैनासोनिक इंडिया के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनीष शर्मा ने इस बारे में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अब उपभोक्ताओं को उच्च गुणवत्ता वाले एसेम्बल्ड टीवी सेट उपलब्ध होंगे.
चाइनीज कंपनियां सरकारी खरीद वाले सामान पर बोली नहीं लगा सकती


भारत चीन के खिलाफ आर्थिक कार्रवाई की दिशा में तेजी से बढ़ रहा है. दो दशक बाद फिर से रंगीन टीवी के आयात पर रोक इसी दिशा में एक बड़ी कार्रवाई है. इससे पहले सरकार ने सरकारी खरीद में चाइनीज कंपनियों की एंट्री बैन कर दी थी. मतलब, केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से किसी भी तरह की सरकारी खरीद में चाइनीज कंपनियां बोली में शामिल नहीं हो सकती हैं. चीन से आने वाले FDI के नियम भी बदले जा चुके हैं.

इन देशों से भारत में आते हैं टीवी
यह रोक 36 सेंटीमीटर से लेकर 105 सेंटीमीटर से अधिक की स्क्रीन आकार वाले रंगीन टेलीविजन सेट के साथ ही 63 सेंटीमीटर से कम स्क्रीन आकार वाले एलसीडी टेलीविजन सेट भी प्रतिबंध की कैटिगरी में हैं. भारत को टीवी का निर्यात करने वाले प्रमुख देशों में चीन, वियतनाम, मलेशिया, हांगकांग, कोरिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड और जर्मनी शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading