बजट 2019: किसानों को क्रेडिट कार्ड से मिल सकता है एक लाख रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन!

लोकसभा चुनाव में जीरो परसेंट ब्याज पर एक लाख रुपये तक का कृषि कर्ज देने का बीजेपी ने किया था वादा, मंत्री ने कहा, हमारा विजन है बीजेपी का संकल्प पत्र, जो कहा उसे पूरा करेंगे!

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 11:20 AM IST
बजट 2019: किसानों को क्रेडिट कार्ड से मिल सकता है एक लाख रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन!
सरकार किसानों को ब्याजमुक्त कर्ज दे सकती है.
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 11:20 AM IST
पांच जुलाई को पेश होने वाले मोदी सरकार के बजट में किसानों के लिए बड़ी घोषणा हो सकती है. ऐसा एलान जिससे उन्हें कर्ज के मर्ज से मुक्ति मिले. सरकार किसान क्रेडिट कार्ड पर एक लाख रुपये तक का ब्याजमुक्त कर्ज दे सकती है. बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए बनाए गए अपने संकल्प पत्र में वादा किया था कि वो दोबारा सत्ता में लौटी तो एक से पांच साल तक के लिए जीरो परसेंट ब्याज पर एक लाख का कृषि कर्ज देगी. बजट में इस वादे को पूरा होने की उम्मीद है.

किसान मोदी सरकार के लिए इतने अहम हैं कि पहली कैबिनेट में ही दो बड़े निर्णय खेती-किसानी से जुड़े लिए गए थे. पहला निर्णय पीएम किसान सम्मान निधि के 14.5 करोड़ किसानों तक विस्तार का था और दूसरा उनके लिए पेंशन स्कीम का.

इसलिए किसानों को उम्मीद है कि बीजेपी अपनी सरकार से संकल्प पत्र का वो वादा भी पूरा करवाएगी जिसमें उसने एक लाख रुपये का ब्याजमुक्त कर्ज देने को कहा था. अभी किसान क्रेडिट कार्ड के जरिये खेती के लिए 3 लाख रुपये तक का कर्ज समय पर लौटाने पर 4 परसेंट ब्याज पर मिलता है.

Budget 2019, modi government, interest free agri loan, farmers, kisan, kisan credit card, kcc, bjp, bjp sankalp patra 2019, बजट 2019, मोदी सरकार, ब्याज मुक्त कृषि ऋण, किसान, किसान क्रेडिट कार्ड, kcc, केसीसी, bjp,बीजेपी, bjp sankalp patra 2019, बीजेपी संकल्प पत्र 2019, नरेंद्र मोदी, कृषि मंत्रालय, ministry of agriculture,      इन राज्यों में सबसे ज्यादा कर्ज लेते हैं किसान!

दरअसल, किसानों की सबसे ज्यादा मौत कर्ज के बोझ तले दबकर होती है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ओर से संसद में एनएसएसओ के हवाले से पेश की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के हर किसान पर औसतन 47 हजार रुपये का कर्ज है. जबकि हर किसान पर है औसतन 12130 रुपये का कर्ज साहूकारों का है.

एनएसएसओ के मुताबिक साहूकारों से सबसे ज्यादा 61032 रुपये प्रति किसान औसत कर्ज आंध्र प्रदेश में है. केंद्र सरकार किसानों को कर्ज के इस दुष्चक्र से मुक्त करना चाहती है ताकि उनका जीवन सुधर सके. दूसरे नंबर पर 56362 रुपये औसत के साथ तेलंगाना है और तीसरे नंबर पर 30921 रुपये के साथ राजस्थान है.

 Budget 2019, modi government, interest free agri loan, farmers, kisan, kisan credit card, kcc, bjp, bjp sankalp patra 2019, बजट 2019, मोदी सरकार, ब्याज मुक्त कृषि ऋण, किसान, किसान क्रेडिट कार्ड, kcc, केसीसी, bjp,बीजेपी, bjp sankalp patra 2019, बीजेपी संकल्प पत्र 2019, नरेंद्र मोदी, कृषि मंत्रालय, ministry of agriculture,      किसानों की आय दोगुनी करने पर है मोदी सरकार का जोर!
Loading...

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी का कहना है कि जो बीजेपी के संकल्प पत्र में है वो हमारा विजन है. उसे हम हर हाल में पूरा करेंगे. किसानों के लिए हम इतना कुछ कर देंगे कि उनकी आय दोगुना से भी अधिक बढ़ जाए. अब बजट की बात बजट में ही पता चलेगी. बीजेपी प्रवक्ता राजीव जेटली का कहना है कि बीजेपी किसानों के लिए सबसे संजीदा पार्टी है. वो उनसे किया गया हर वादा निभाएगी.

ये भी पढ़ें:

बांस उगाकर अब चैन की बांसुरी बजाएंगे किसान, ये है मोदी सरकार का बड़ा प्‍लान

मोदी सरकार इस तरह खत्म करेगी किसानों की सबसे बड़ी टेंशन!

आम बजट 2019 की सही और सटीक खबरों के लिए न्यूज18 हिंदी पर आएं. वीडियो और खबरों  के लिए यहां क्लिक करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 9:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...