Home /News /business /

चीनी निर्यात पर केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, जानिए किसानों पर क्या होगा असर

चीनी निर्यात पर केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, जानिए किसानों पर क्या होगा असर

सरकार एक बार फिर चीनी निर्यात पर सब्सिडी शुरू कर सकती है

सरकार एक बार फिर चीनी निर्यात पर सब्सिडी शुरू कर सकती है

केंद्र सरकार ने शुगर मिलों से मंथली एक्सपोर्ट डाटा मांगा है ताकि जरूरत पड़ने पर एक्सपोर्ट सब्सिडी दी जा सके. अंतरराष्ट्रीय बाजार में अगर चीनी की कीमतें गिरती हैं, तो सरकार एक बार फिर चीनी निर्यात पर सब्सिडी शुरू कर सकती है.

    नई दिल्ली. भारत से एक्सपोर्ट होने वाली चीनी पर अब सब्सिडी हो सकता है जल्दी शुरू हो सकती है. केंद्र सरकार ने शुगर मिलों से मंथली एक्सपोर्ट डाटा मांगा है ताकि जरूरत पड़ने पर एक्सपोर्ट सब्सिडी दी जा सके. अंतरराष्ट्रीय बाजार में अगर चीनी की कीमतें गिरती हैं, तो सरकार एक बार फिर चीनी निर्यात पर सब्सिडी शुरू कर सकती है. इसके लिए सरकार ने सभी चीनी मिलों को हर महीने चीनी निर्यात का डाटा उपलब्ध कराने के लिए कहा है. जरूरत पड़ने पर सरकार कदम उठाएगी.

    इस कारण बंद की गई थी सब्सिडी
    सरकार चीनी निर्यात पर नजर रखेगी. मिलों को कांट्रैक्टेड और निर्यात का डाटा उपलब्ध कराना होगा. जरूरत पड़ने पर सरकार निर्यात सब्सिडी देगी. बता दें कि सरकार ने अगस्त में निर्यात सब्सिडी बंद की थी. अंतरराष्ट्रीय बाजार में ऊंचे दामों के चलते सब्सिडी बंद की गई थी. चीनी मिलों को अधिकतम चीनी निर्यात करने के लिए कहा गया था. पिछले साल चीनी का 72 लाख टन निर्यात हुआ. सरकार ने करीबन 50 लाख टन चीनी के लिए सब्सिडी दी थी.

    ये भी पढ़ें: इस सरकारी स्कीम से मिल सकती है 10 हजार रुपए की मसिक पेंशन, जानिए डिटेल व अन्य फायदे

    खाने के तेल में आई तेजी
    उधर खाने के तेल की कीमतों में जोरदार उछाल आया है. MCX पर CPO का भाव 1110 रुपये के पार चला गया है. रिफाइंड सोया भी करीब 0.50% ऊपर है. मलेशिया पाम ऑयल वायदा में तेजी देखने को मिल रही है. 2 महीने की निचले स्तरों पाम ऑयल में उछाल आया है. मलेशिया पाम ऑयल वायदा MYR 4,700 प्रति टन के पार दिख रहा है. MCX पर CPO 1110 रुपये के पार निकल गया है. NCDEX पर SYOREF भी करीब 0.50% ऊपर है.

    नान एग्री की बात करें तो ओमिक्रॉन पर WHO के बयान और ईरान के बातचीत में पैदा हुए गतिरोध से क्रूड में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है. वहीं बुलियन मार्केट में सोने चांदी दबाव में कामकाज करते हुए नजर आ रहे हैं.

    क्रूड ने दिखाया दम
    ब्रेंट पर लगातार 5वें दिन तेजी दिख रही है. MCX पर भी लगातार तीसरे दिन तेजी है. ब्रेंट क्रूड 5 दिनों में 3.5% चढ़ा है. ब्रेंट पर भाव निकला 73 डॉलर प्रति बैरल के पार चला गया है. WTI का भाव भी करीब 1% ऊपर है. MCX पर कच्चा तेल करीब 1.75% चढ़ा है. ब्रेंट पर लगातार 5 दिनों से कीमतों में तेजी है. ब्रेंट पर कीमतें 5 दिनों में करीब 3.5% चढ़ी हैं.

    ये भी पढ़ें: Jobs Alert: अमेरिका में नौकरी का गोल्डन चांस, HCL देगी हजारों लोगों को जॉब

    क्या हैं तेजी के कारण
    ओमिक्रॉन पर WHO के बयान के बाद ये तेजी आई है. WHO ने कहा है कि ओमिक्रॉन का मरीजों पर हल्के लक्षण दिखे हैं. ओमिक्रॉन का अर्थव्यवस्था पर ज्यादा असर न होने की उम्मीद बढ़ी है. निवेशकों में कोरोना प्रतिबंधों न लगने की उम्मीद बढ़ी है. मांग बढ़ने की उम्मीद से कीमतों में जबरदस्त उछाल आया है. सऊदी की कीमतें बढ़ने से भी उछाल आया है. सऊदी ने एशिया और US के लिए दाम बढ़ाए हैं. परमाणु मुद्दे पर बातचीत में गतिरोध से ईरान से सप्लाई में देरी की संभावना है.

    Tags: Business news in hindi, Modi government, Modi Govt, Sugar, Sugar mill

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर