लाइव टीवी

सरकार ने छोटे कारोबारियों को दी बड़ी राहत, GST रिटर्न फाइल करना हुआ आसान

भाषा
Updated: January 23, 2020, 1:35 PM IST
सरकार ने छोटे कारोबारियों को दी बड़ी राहत, GST रिटर्न फाइल करना हुआ आसान
GST करदाताअें को तीन श्रेणियों में बांटा

फिलहाल GSTR-3B भरने की अंतिम तिथि हर महीने की 20 तारीख है. लेकिन अब तीन अलग- अलग श्रेणी के करदाताओं के लिये 20, 22 और 24 अंतिम तिथि होंगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त मंत्रालय (Finance Minsitry) ने गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) के तहत मासिक रिटर्न फॉर्म जीएसटीआर-3बी (GSTR-3B) भरने की अंतिम तिथि को राज्यों और कारोबार के आधार पर तीन अलग-अलग श्रेणियों में बांट दिया है. इस कदम को उठाने का मकसद अंतिम दिन मासिक रिटर्न भरने को लेकर नेटवर्क प्रणाली पर एक साथ बढ़ने वाले दबाव को कम करना है. फिलहाल GSTR-3B भरने की अंतिम तिथि हर महीने की 20 तारीख है. लेकिन अब तीन अलग- अलग श्रेणी के करदाताओं के लिये 20, 22 और 24 अंतिम तिथि होंगी.

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, अब से पिछले वित्त वर्ष में 5 करोड़ और उससे अधिक का कारोबार करने वाले करदाताओं (Taxpayers) के लिये जीएसटीआर-3बी भरने की अंतिम तिथि हर महीने की 20 तारीख होगी. इससे करीब 8 लाख नियमित करदाता हर महीने की 20 तारीख को बिना विलम्ब शुल्क के रिटर्न भर सकेंगे.

49 लाख व्यापारियों को होगा फायदा
वहीं जिन करदाताओं का कारोबार पिछले वित्त वर्ष में 5 करोड़ रुपये से कम रहा है, उन्हें दो श्रेणियों में बांटा गया है. इसके तहत 15 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेश (छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी, लक्षद्वीप, दादर एवं नागर हवेली, दमन एवं दीव, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह) के इस श्रेणी के व्यापारियों के लिये जीएसटीआर- 3बी रिटर्न भरने की अंतिम तिथि हर महीने की 22 तारीख होगी. इस श्रेणी में करीब 49 लाख व्यापारी जीएसटीआर-3बी फाइल करेंगे.

ये भी पढ़ें: अब बिना डॉक्यूमेंट के आधार में अपडेट कर सकते हैं ये एड्रेस, देनी होगी 50 रुपये फीस

46 लाख टैक्सपेयर्स को राहत
वहीं शेष बचे 22 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पिछले वित्त वर्ष में 5 करोड़ रुपये से कम कारोबार करने वाले करदाताओं के लिये हर महीने की 24 तारीख अंतिम तिथि होगी. इनमें, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, चंडीगढ़, उत्तराखंड, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, सिक्किम, अरूणाचल प्रदेश, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, मेघालय, असम, पश्चिम बंगाल, झारखंड और ओड़िशा के 46 लाख करदाता हर महीने की 24 तारीख तक जीएसटीआर-3बी भर सकेंगे.पूर्व में जीएसटी नेटवर्क पर रिटर्न फाइल करने की प्रणाली में अंतिम दिन तकनीकी खामियों की सूचना मिलती रही है. इसके कारण कंपनियों को समस्याओं का सामना करना पड़ता था. मंत्रालय ने कहा कि उसने जीएसटीआर-3बी और रिटर्न भरने को लेकर करदाताओं की कठिनाइयों और चिंताओं पर गौर किया है.

ये भी पढ़ें: नौकरी जाने पर 2 साल तक मिलती रहेगी सैलरी, आप भी उठा सकते हैं इस स्कीम का फायदा

इंफोसिस कर रही है काम
बयान के अनुसार मामले पर जीएसटीएन ने इन्फोसिस के साथ चर्चा की. इन्फोसिस इस नेटवर्क का प्रबंधन करती है. कंपनी ने प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिये अस्थायी तौर पर उक्त सुझाव दिये. जीएसटीएन फाइलिंग पोर्टल के प्रदर्शन को स्थायी तौर पर बेहतर करने के लिये इन्फोसिस के साथ कई प्रौद्योगिकीय कदम उठाये जा रहे हैं. ये कदम अप्रैल 2020 तक अमल में आएंगे. दिसंबर महीने के लिये 20 तारीख अंतिम दिन तक कुल 65.65 लाख जीएसटीआर-3बी फार्म भरे गये.

ये भी पढ़ें: मिडिल क्लास के लिए खुशखबरी! इनकम टैक्स में जल्द मिल सकती है भारी छूट, इतने लाख की कमाई होगी Tax Free

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 1:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर