One Nation One Ration Card योजना का फायदा आज से इन राज्य के करोड़ों लोगों को मिलेगा, जानिए सबकुछ

One Nation One Ration Card योजना का फायदा आज से इन राज्य के करोड़ों लोगों को मिलेगा, जानिए सबकुछ
दो और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख और लक्षद्वीप वन नेशन वन राशनकार्ड योजना का हिस्सा बन गए.

देश में 31 मार्च 2021 तक 81 करोड़ से भी ज्यादा लाभार्थियों को One Nation One Ration Card Scheme से जोड़ने का प्लान है. इस योजना से जुड़ने के बाद देश की आधी से ज्यादा आबादी को मोदी सरकार (Modi Government Scheme) के इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ मिलेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 1, 2020, 4:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आज से दो केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख (Ladakh)और लक्षद्वीप (Lakshadweep) वन नेशन वन राशनकार्ड (One Nation One Ration Card) योजना का हिस्सा बन गए. इन दोनों राज्यों को केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना वन नेशन वन राशनकार्ड योजना के पोर्टिबिलिटी सेवा से जोड़ दिया गया है. केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी. पासवाने अपने ट्वीट में कहा, आज 2 और केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख और लक्षद्वीप प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व में मोदी 2.0 सरकार की महत्वाकांक्षी वन नेशन वन राशनकार्ड योजना में शामिल हो गए हैं.  अब कुल 26 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के बीच राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी उपलब्ध है.'

दो और केंद्र शासित प्रदेश राशन पॉटिबिलिटी सुविधा का हिस्सा बने
बता दें कि पिछले महीने ही सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना में मणिपुर, नागालैंड, जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड को जुड़ने का ऐलान किया था. अब देश में कुल 26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के बीच राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी की सुविधा उपलब्ध हो गई है. देश के इन 26 राज्यों में बाहर के रहने वाले लोग अब इस योजना के जरिए अपने हिस्से का रशन ले सकेंगे.
लक्षद्वीप और लद्दाख में रहने वाले बाहर के लोगों को मिलेगा लाभबता दें कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत अबतक 24 राज्यों के 65 करोड़ से ज्यादा लाभार्थियों को वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत लाभ मिला है. अब 1 सिंतबर 2020 से इन दो केंद्रशासित प्रदेशों में रहने वाले दूसरे राज्य के लोग भी इस योजना का लाभ उठा सकेंगे. इस योजना के जरिए आप कहीं भी निवास करते हों आपको अपने हिस्से का अनाज प्राप्त करने की सुविधा होगी. जिससे दूसरे राज्यों में काम करने वाले लाभान्वित होंगे.
Modi Government, PM MODI, Lakshadweep, Ladakh, one nation one ration card scheme, one nation one ration card in hindi, one nation one ration card states, one nation one ration card news in hindi, Ram Vilas Paswan one nation one ration card latest news, वन नेशन वन कार्ड योजना, लद्दाख, लक्षद्वीप, 1 सितंबर से दो और राज्य जुड़े, वन नेशन वन राशन कार्ड कैसे बनेगा, वन नेशन वन राशन कार्ड अप्लाई ऑनलाइन, रामविलास पासवानअब आप पुराने राशन कार्ड से ही इन दोनों राज्यों में राशन ले सकेंगे.
अब आप पुराने राशन कार्ड से ही इन दोनों राज्यों में राशन ले सकेंगे.
ये भी पढ़ें: सितंबर महीने में आम आदमी मिलेगी राहत! इस वजह से कम हो सकती है सब्जियों की कीमतें31 मार्च, 2021 तक जुड़ेंगे सभी राज्यदेश में 31 मार्च 2021 तक 81 करोड़ से भी ज्यादा लाभार्थियों को इस योजना से जोड़ने का प्लान है. इस योजना से जुड़ने के बाद देश की आधी आबादी से ज्यादा लोगों को लाभ मिलेगा. केंद्र सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि 31 मार्च 2021 तक देश के सभी राज्यों को वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से जोड़ दिया जाए. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत आने वाले सभी 81 करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ फिर से आसानी से मिल सकेगा.




क्या है राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी
जिस तरह मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (MNP) करते हैं, वैसे ही अब राशन कार्ड को भी पोर्ट कराया जा सकेगा. मोबाइल पोर्ट में आपका नंबर नहीं बदलता है और आप देशभर में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इसी तरह, राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी में आपका राशन कार्ड नहीं बदलेगा. मतलब ये कि एक राज्य से दूसरे राज्य में जाते हैं तो अपने राशन कार्ड का इस्तेमाल करके दूसरे राज्य से भी सरकारी राशन खरीद सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज