आपका सोना कितना खरा है, बताएगी सरकार की ये ऐप, जानिए इसके बारे में सबकुछ

आपका सोना कितना खरा है, बताएगी सरकार की ये ऐप, जानिए इसके बारे में सबकुछ
बीआईएस मानकों को लागू करने के साथ-साथ सत्यता की प्रामणिकता की जांच भी करता है.

केंद्रीय उपभोक्ता एवं खाद्य मामलों के मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने सोमवार को कहा कि ग्राहक (Consumer) अब एक ऐप (App) के जरिए सामान की सत्यता की जांच कर सकेंगे. सामान से जुड़ी कोई भी शिकायत, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन और हॉलमार्क की सत्यता की जांच अब बीआईएस ऐप (BIS App) के जरिए हो सकेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 (Consumer Protection Act 2019) लागू करने के बाद एक और बड़ा ऐलान किया है. केंद्रीय उपभोक्ता एवं खाद्य मामलों के मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने सोमवार को कहा कि ग्राहक अब एक ऐप के जरिए सामान की सत्यता की जांच कर सकेंगे. सामान से जुड़ी कोई भी शिकायत, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन और हॉलमार्क की सत्यता की जांच अब बीआईएस ऐप (BIS App) के जरिए हो सकेगा. पासवान ने सोमवार को बीआईएस केयर ऐप लांच किया. इस ऐप में अगर सामान का लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन और हॉलमार्क नंबर गलत पाया जाता है तो ग्राहक इसकी शिकायत भी तुरंत कर सकता है. इस ऐप के जरिए तुरंत ही ग्राहक को शिकायत दर्ज करने की जानकारी मिल जाएगी.

BIS App पर ग्राहकों के लिए मददगार होगा
बता दें कि बीआईएस मानकों को लागू करने के साथ-साथ सत्यता की प्रामणिकता की जांच भी करता है. पासवान ने सोमवार को बताया कि बीआईएस ने लगभग 37,000 मानक जारी किए हैं, जिनमें गुणता नियंत्रण आदेशों के जारी होने कारण लाइसेंसों की संख्या में तेजी से उछाल आने की संभावना है. बीआईएस की प्रयोगशालाओं के विस्तार और आधुनिकीकरण करने पर जोर दिया जा रहा है. बीआईएस 8 प्रयोगशालाओं हैदराबाद, अहमदाबाद, जम्मू, भोपाल, रायपुर और लखनऊ जैसे कई शाखा कार्यालयों में पेयजल और स्वर्ण आभूषणों के मूल्यांकन की परीक्षण सुविधाएं सृजित की जा रही हैं.'





 हॉलमार्क किए गए उत्पादों की प्रमाणिकता जांच सकते हैं
पासवान ने कहा, 'बीआईएस उपभोक्ता इंगेजमेंट पर एक पोर्टल का विकास कर रहा है, जिसके माध्यम से उपभोक्ता समूहों के ऑनलाइन पंजीकरण, प्रस्तावों के प्रस्तुतिकरण और उनके अनुमोदन तथा शिकायत के मैनेजमेंट में सुविधा होगी. यह मोबाइल एप के माध्यम से उपभोक्ता आईएसआई मुहर लगे और हॉलमार्क किए गए उत्पादों की प्रमाणिकता जांच सकते हैं और इस एक्ट का इस्तेमाल करते हुए उनके खिलाफ शिकायत भी कर सकते हैं.'

BIS App, Modi Government, ram Vilas paswan, hallmarking, gold hallmarking in india, bis, bis centers, gold jewellery purity check, gold hallmarking mandatory next year 1 june 2021, consumers, Gold, business news in hindi, business news in hindi, बीआईएस केयर ऐप्प लांच, बीआईएस एप्प, बीआईएस ऐप्प, उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 , शिकायत, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, हॉलमार्क गोल्ड हॉलमार्किंग, सोने की ज्वैलरी, सोने की ज्वेलरी, सोने के गहनों पर हॉलमार्किंग अनिवार्य, 15 जनवरी 2021 से गोल्ड हॉलमार्किंग अनिवार्य, हॉलमार्क वाली ज्वेलरी ज्वैलरी, गोल्ड ज्वेलरी प्योरिटी चेक, सोने की शुद्धता की चेकिंग, बीआईएस सेंटर, उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय सोना-चांदी, ग्राहक को शिकायत दर्ज करने की जानकारी मिल जाएगीपासवान ने कहा, 'बीआईएस उपभोक्ता इंगेजमेंट पर एक पोर्टल का विकास कर रहा है
पासवान ने कहा, 'बीआईएस उपभोक्ता इंगेजमेंट पर एक पोर्टल का विकास कर रहा है


ये भी पढ़ें: सोना खरीदने का बना रहे प्लान तो जान लें नया अपडेट, सरकार ने दी बड़ी छूट

गौरतलब है कि मंत्रालय के द्वारा बीआईएस को भविष्य के लिए एक रोडमैप तैयार करने के लिए कहा गया था, जो तैयार कर लिया गया है. साथ ही 'एक राष्ट्र एक मानक' की योजना के लागू करने पर जल्द ही फैसला लिया जाएगा. इस योजना पर परीक्षण किया जा रहा है और इसे जल्दी ही लान्च किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading