Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अपना बिजनेस करने वालों के लिए सरकार कर सकती है बड़ा ऐलान, मिलेगी टैक्स पर 2 साल की छूट

    इंडियन स्टार्टअप के लिए जल्द ही बड़ा ऐलान कर सकती है सरकार
    इंडियन स्टार्टअप के लिए जल्द ही बड़ा ऐलान कर सकती है सरकार

    केंद्र सरकार इंडियन स्टार्टअप के लिए जल्द ही बड़ा ऐलान कर सकती है. खबर आ रही है कि अनलिस्टेड स्टार्टअप में निवेश करने वालों को 2 साल तक के लिए टैक्स में छूट मिल सकती है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 27, 2020, 11:41 AM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली: देशभर में फैले कोरना वायरस की वजह से इंडियन स्टार्टअप (Indian startups) को फंडिग के मोर्चे पर काफी परेशानी उठानी पड़ रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार इंडियन स्टार्टअप के लिए जल्द ही बड़ा ऐलान कर सकती है. खबर आ रही है कि अनलिस्टेड स्टार्टअप में निवेश करने वालों को 2 साल तक के लिए टैक्स में छूट मिल सकती है. महामारी के बाद से देशभर की स्टार्टअप कंपनियों को फंडिग की परेशानी का सामना उठाना पड़ रहा है. इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार जल्द ही यह फैसला ले सकती है.

    LTCG टैक्स में मिल सकती है छूट
    आपको बता दें सरकार ने चीन से आने वाले सभी निवेश पर सख्त पाबंदी लगा दी है. इसके बाद से घरेलू इंडियन स्टार्टअप के पास फंडिग के लिए काफी लिमिटेड रिसोर्स बचे हैं. ऐसे में सरकार इस समस्या को दूर करने के लिए एक बड़ा कदम उठा सकती है. CNBC आवाज को सूत्रों से जानकारी मिली है कि जो भी Domestic निवेशक अगर अनलिस्टेड स्टार्टअप में निवेश करते हैं तो उनको दो साल के लिए LTCG टैक्स में छूट मिल सकती है.

    यह भी पढ़ें: PMGKY: तीसरा प्रोत्साहन पैकेज लाने की तैयारी में सरकार, मार्च तक मिल सकता है फ्री में अनाज और कैश!




    निवेशकों को मिलेगा इंसेंटिव
    सरकार का उद्देश्य है कि जो भी Domestic निवेशक अगर अनलिस्टेड स्टार्टअप में निवेश करें उन्हें कुछ इंसेंटिव दिया जाए. ताकि भारतीय स्टार्टअप जो फंडिग की समस्या से जूझ रहे हैं उन्हें फंडिग के लिए नया ऑप्शन खुल सके. दरअसल अभी विदेशी निवेशक वो टैक्स हैवेन कंट्री में रजिस्टर्ड इंडियन स्टार्ट अप में ही ज्यादा दिलचस्पी लेते हैं और उन्ही में निवेश करते हैं.

    लिस्डेट स्टार्टअप में मिलती है टैक्स छूट
    बता दें लिस्टेड स्टार्ट अप में निवेश करने पर ये टैक्स छूट मिलती है, लेकिन अनलिस्टेड स्टार्ट अप में छूट नहीं मिलती है. संसद की स्टैंडिंग कमेटी इस पर राहत देने के लिए सरकार से पहले ही सिफारिश की हुई है. वित्त मंत्रालय इस प्रपोजल पर गंभीरता से विचार कर रहा है और जल्द ही इस बारे में ऐलान किया जा सकता है.

    मिल सकती है ये राहत -
    1. एंजेल इन्वेस्टर्स को भी मिलेगी राहत
    2. अनलिस्टेड स्टार्टअप में हिस्सा खरीदने को बढ़ावा दे रही सरकार
    3. संसद की स्टैंडिंग कमेटी ने की थी सिफारिश
    4. LTCG से राहत देने की सिफारिश की थी
    5. ITAI दिल्ली का भी निवेशकों को राहत देने का फैसला
    6. LTCG टैक्स में 2 साल तक छूट देने पर विचार
    7. घरेलू VC's को निवेश में मिलेगी राहत

    किसे कहते हैं स्टार्टअप
    आम शब्दों में कहें तो स्टार्टअप का मतलब नई कंपनी को शुरू करना होता. ऐसी कंपनियों को युवा बिजनेसमैन स्वयं या दो तीन लोगों के साथ मिलकर शुरू करते है. शुरू करने वाला व्यक्ति ही कंपनी में शुरुआती पूंजी लगाने के साथ कंपनी का संचालन भी करता है. ये कंपनी अपेक्षाकृत नए प्रोडक्ट्स या सर्विस पर काम करती है, ऐसी सर्विसेज जो उस समय बाजार में उपलब्ध नहीं होती है.

    यह भी पढ़ें: दिवाली से पहले हो सकता है तीसरे राहत पैकेज का ऐलान! नौकरियां बढ़ाने पर रहेगा फोकस

    अगर सरकार की परिभाषा के तौर पर कहें तो स्टार्टअप वह कंपनी है जो भारत में बीते 5 साल के अंदर रजिस्टर हुई है और उसका टर्न ओवर किसी भी फाइनेंशियल ईयर में 25 करोड़ से अधिक नहीं रहा है. यह कंपनी इनोवेशन, डेवलपमेंट, डिप्लॉयमेंट, नए प्रोडक्ट्स का काम करती है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज