मोदी सरकार ला रही है नई स्कीम, अब इन लोगों को मिलेगी 24 घंटे बिजली

बिजली चोरी वाले इलाकों में ज्यादा कटौती होगी. लेकिन ईमानदारी से बिजली इस्तेमाल करने वालों को 24 घंटे सप्लाई मिलेगी. मोदी सरकार ईमानदार बिजली कंज्यूमर के लिए नई स्कीम ला रही है.

News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 4:53 PM IST
News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 4:53 PM IST
अब बिजली चोरी वाले इलाकों में ज्यादा कटौती होगी. लेकिन ईमानदारी से बिजली इस्तेमाल करने वालों को 24 घंटे सप्लाई होगी. मोदी सरकार ईमानदार बिजली कंज्यूमर के लिए नई स्कीम ला रही है. इसके तहत ईमानदार कंज्यूमर को अब 24 घंटे बिजली मिलेगी. केंद्र सरकार राज्यों के साथ मिलकर ऐसी प्लानिंग तैयार कर रही है जिसके तहत वैसे एरिया जहां बिजली की चोरी नहीं होती है वहां 24 घंटे बिजली की सप्लाई की जा सके.

इस आधार पर तैयार हुई योजना
सूत्रों के मुताबिक बिजली वितरण घाटा के आधार पर ये योजना तैयार की गई है. जिसके लिए एरिया के आधार पर बिजली घाटे की जानकारी मांगी गई है. इस योजना के तहत 15% से कम घाटा वाले एरिया में 24 घंटे सप्लाई संभव है.

ये भी पढ़ें: एक क्लिक पर मिल जाएगी हेल्थ की जानकारी, मोदी सरकार जारी करेगी ये कार्ड

इस योजना में घाटा वाले इलाके में कंज्यूमर को बिल चुकाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. इन इलाकों में स्मार्ट मीटर लगाने की भी योजना है. ये योजना पावर रिफॉर्म 2.0 का हिस्सा होगी. बता दें कि चुनाव से पहले सरकार ने कंपनियों से इस बारे में जानकारी मांगी थी. अभी 19 राज्यों में बिजली विरतण घाटा 15% से ज्यादा है.

प्वाइंटर्स-

>> बिजली बंटवारे में भी मदद करेगी सरकार -सूत्र
Loading...

>> बिजली वितरण घाटे के आधार पर बिजली सप्लाई की योजना-सूत्र
>> किस क्षेत्र में कितनी बिजली सप्लाई हो इसकी प्लानिंग में मदद की योजना- सूत्र
>> सरकार ने क्षेत्र के आधार पर बिजली वितरण घाटे की जानकारी मांगी-सूत्र
>> जहां 15% से कम घाटा वहां चौबीसों घंटे बिजली की सप्लाई पहले -सूत्र
>> जो कंज़्यूमर ईमानदारी से बिल चुका रहे हैं उन्हें चौबीसों घंटे बिजली की सप्लाई पहले
>> ताकि ज्यादा बिजली चोरी वाले इलाके सप्लाई के फ़र्क़ को समझें
>> जहां 15% से ज्यादा वितरण घाटा वहां कंज़्यूमर को बिल चुकाने को प्रोत्साहित किया जाए
>> ज्यादा घाटे वाले इलाके में स्मार्ट मीटर पहले लगाने की योजना-सूत्र
>> नई योजना पावर रिफार्म 2.0 का हिस्सा होगा -सूत्र
>> चुनावों से पहले भी सरकार ने वितरण घाटे के आधार पर एरिया की जानकारी मांगी थी
>> करीब 19 राज्यों में बिजली वितरण घाटा 15% से ज़्यादा

दिन में तीन तरह के हो सकते हैं बिजली के टैरिफ
केंद्र की मोदी सरकार बिजली सप्लाई को बेहतर कर ग्राहकों को बड़े बिजली कट से बचाने के लिए बड़े कदम उठाने की तैयारी में है. दिन में तीन तरह के पावर टैरिफ हो सकते हैं. वहीं, सुबह, दोपहर और शाम को बिजली की अलग-अलग दर होंगी. रात की बिजली की दर अभी जितनी है उससे ज्यादा नहीं होगी.

ये भी पढ़ें: इन सरकारी कंपनियों को बंद कर सकती है मोदी सरकार, यहां देखें लिस्ट

(प्रकाश प्रियदर्शी- संवाददाता- CNBC आवाज़)
First published: July 18, 2019, 4:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...