लाइव टीवी

Petrol-Diesel के बाद अब CNG की भी होगी होम डिलिवरी, एक कॉल पर मिलेगी ये सुविधा

News18Hindi
Updated: December 25, 2019, 8:29 AM IST
Petrol-Diesel के बाद अब CNG की भी होगी होम डिलिवरी, एक कॉल पर मिलेगी ये सुविधा
मोबाइल डिस्पेंसर के जरिये एक कॉल पर मंगा सकेंगे CNG

सीएनजी स्टेशनों (CNG Stations) पर गैस लेने के लिए लंबी लाइन से जल्द राहत मिल सकती है. पेट्रोलियम मंत्री (Petroleum Minister) के मुताबिक सरकार पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के तर्ज पर सीएनजी की होम डिलीवरी (CNG Home Delivery) की भी योजना बना रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 25, 2019, 8:29 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप सीएनजी (CNG) गाड़ी चलाते हैं लेकिन सीएनजी स्टेशनों (CNG Stations) पर लगने वाली लंबी लाइन से परेशान हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है. दरअसल, सरकार (Government) अब जल्द ही पेट्रोल (Petrol) और डीजल (Diesel) के तर्ज पर सीएनजी की होम डिलिवरी (CNG Home Delivery) शुरू करने की इजाजत देने जा रही है. पेट्रोलियम मंत्री (Petroleum Minister) धर्मेंद्र प्रधान के मुताबिक सरकार कंपनियों को जल्द सीएनजी की होम डिलिवरी की इजाजत देगी. बता दें कि इससे पहले सरकार ने डीजल की होम डिलिवरी की सुविधा शुरू की थी.

पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि सरकार पेट्रोल-डीजल के तर्ज़ पर सीएनजी की होम डिलीवरी की भी योजना बना रही है. इस पर काम शुरू कर दिया गया है और जल्द ही कंपनियों को इसकी इजाजत मिलेगी. सरकारी कंपनी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) सीएनजी की होम डिलिवरी करेगी.

एक कॉल पर मिलेगी ये सुविधा
पेट्रोलियम मंत्री के मुताबिक घर बैठ सीएनजी मंगवाने की सुविधा एक कॉल पर मिलेगी. मोबाइल डिस्पेंसर के जरिए लोगों को डोर स्टेप सीएनजी उपलब्ध कराई जाएगी.

ये भी पढ़ें: म्यूचुअल फंड में आपका पैसा होगा ज्यादा सुरक्षित, SEBI ने लिया बड़ा फैसला

पेट्रोल-डीजल की होम डिलिवरी शुरू
तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOC) ने देश के कई बड़े शहरों में पेट्रोल-डीजल की होम डिलिवरी शुरू कर दी है. जिसमें रीपोज ऐप पर ऑर्डर कर पेट्रोल-डीजल की होम डिलीवरी की जा रही है. इस योजना का सबसे ज्यादा लाभ उन औद्योगिक प्रतिष्ठानों और थोक ग्राहकों को मिल रहा है जहां 200 लीटर से ज्यादा पेट्रोल या डीजल की खपत होती है. अभी औद्योगिक और थोक ग्राहकों को पेट्रोल-डीजल के लिए नजदीकी खुदरा आउट लेट पर जाकर कंटेनरों में भरकर लाना पड़ता है. नई व्यवस्था से पेट्रोल पंप की बजाए डिपो से सीधा ग्राहकों को पेट्रोल डीजल की सप्लाई की जा रही है. इसके लिए कंपनी की ओर से डीजल भरने वाली मशीन को ट्रक में लगाया गया है. साथ ट्रक में अलग से एक टंकी की व्यवस्था भी की गई है.ऐसे मिलेगा सुविधा का लाभ
नई व्यवस्था का लाभ लेने के लिए ग्राहकों को कम से कम 200 लीटर का ऑर्डर करना होगा. इसके लिए Repose app से ऑर्डर करना होगा. वहीं अगर किसी भी प्रतिष्ठान या थोक ग्राहक को 2,500 लीटर से अधिक पेट्रोल, डीजल चाहिए होगा तो उसके लिए ग्राहक के पास पीईएसओ (Petroleum and Explosives Safety Organisation) का लाइसेंस होना जरुरी है.

(प्रकाश प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें:
रेलवे में हुआ आजादी के बाद सबसे बड़ा बदलाव, रेल मंत्री ने बताये इसके फायदे
मोदी सरकार ने अटल भूजल योजना को दी मंजूरी, इन 7 राज्यों के लोगों को होगा फायदा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 25, 2019, 8:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर