लाइव टीवी

कोरोना संकट पर इंडस्ट्री को मिल सकती है राहत, सरकार कर रही सेक्टोरल पैकेज की तैयारी

News18Hindi
Updated: March 16, 2020, 3:02 PM IST

कोरोना वायरस से इंडस्ट्री पर पड़ने वाले असर को कम करने के लिए सरकार ने सेक्टोरल पैकेज की तैयारी शुरू की है. CNBC-आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार ने अलग-अलग सेक्टर के लिए खास स्कीम की तैयारी की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 16, 2020, 3:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण भारत में फैलने के बाद सरकार भी संकट से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है. कोरोना वायरस से इंडस्ट्री पर पड़ने वाले असर को कम करने के लिए सरकार ने सेक्टोरल पैकेज की तैयारी शुरू की है. CNBC-आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार ने अलग-अलग सेक्टर के लिए खास स्कीम की तैयारी की है. इसके लिए प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO), वित्त मंत्रालय (Finance Minsitry), उद्योग मंत्रालय और नीति आयोग (Niti Aayog) के बीच कई दौर की बैठकें हो चुकी हैं. जल्द की कैबिनेट की तरफ से खास स्कीम की घोषणा हो सकती है.

बल्क ड्रग्स पार्क बनाने के लिए स्कीम संभव
फार्मा इंडस्ट्री के लिए सरकार खास स्कीम बना रही है. दवाइयों को बनाने के लिए कंपनियां एपीआई यानी 75 फीसदी कच्चे माल के इम्पोर्ट पर निर्भर है. इसके लिए सरकार तत्काल कदम उठा रही है. जिन देशों से एपीआई को लाया जा सकता है, उसके लिए फैसला हो सकता है. लॉन्ग टर्म में एपीआई के लिए सरकार जल्द खास स्कीम ला सकती है. एपीआई उत्पादन बढ़ाने के लिए इंसेंटिव्स मिल सकती है. एपीआई का उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए नई कंपनियां लगाने वालों को सरकार विशेष रियायत देगी.

ये भी पढ़ें: Yes Bank ग्राहकों के लिए राहत की खबर! इस बुधवार से शुरू हो जाएंगी सारी बैंकिंग सेवाएं



इलेक्ट्रॉनिक कम्पोरनेंट उत्पादन बढ़ाने पर जोर
इलेक्ट्रॉनिक कम्पोनेंट बनाने वाली कंपनियों पर सरकार का खास फोकस है. यहां पर तीन अलग-अलग स्कीमों को सरकार ने तैयार किया है. प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम (PLI Scheme) पर 5 साल में सरकार 40 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी. इलेक्ट्रॉनिक कम्पोनेंट और सेमीकंडक्टर के लिए खास स्कीम बनाई गई है. इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग कलस्टर के लिए खास स्कीम बनाई गई. इन तीन स्कीम का ड्रॉफ्ट तैयार हो गया है और जल्द ही इन तीनों स्कीम को कैबिनेट की मंजूरी मिल सकती है.

एक्सपोर्ट-इंपोर्ट सेक्टर के लिए खास तैयारी
एक्सपोर्ट-इंपोर्ट सेक्टर के लिए भी सरकार खास तैयारी कर रही है. इसमें गारमेंट, लेदर, केमिकल के एक्सपोर्ट पर सरकार खास फोकस करेगी. चाइना वन प्लस पॉलिसी पर सरकार फोकस कर रही है. यानी जो लोग चीन में उत्पादन करते हैं, वो भारत आकर उत्पादन करें. उनको विशेष रियायत दी जाएगी. बहुत जल्द आर्थिक मोर्चे पर भी सरकार की तरफ से बड़े कदम का ऐलान हो सकता है.

ये भी पढ़ें: इस स्कीम का फायदा ले रहे 5.5 लाख किसान, एक रजिस्ट्रेशन से मिलेंगे कई लाभ, ऐसे जुड़ सकते हैं आप

(लक्ष्मण रॉय, इकोनॉमिक पॉलिसी एडिटर- CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 16, 2020, 3:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,274

     
  • कुल केस

    1,603,428

    +355
  • ठीक हुए

    356,440

     
  • मृत्यु

    95,714

    +22
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर