लाइव टीवी

PMC बैंक ग्राहक निकाल सकेंगे 25000 रुपये से ज्यादा कैश, अगर सरकार ने लिया फैसला!

News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 12:00 PM IST
PMC बैंक ग्राहक निकाल सकेंगे 25000 रुपये से ज्यादा कैश, अगर सरकार ने लिया फैसला!
PMC Bank कस्टमर्स को अब सरकार का सहारा

मुश्किल में फंसे पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक के कस्टमर्स को अब सरकार सहारा दे सकती है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) और वित्त मंत्रालय ने को-ऑपरेटिव बैंकों के कामकाज में सुधार के लिए कोशिशें शुरू कर दी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 12:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मुश्किल में फंसे पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (Punjab and Maharashtra Cooperative Bank) के कस्टमर्स को अब सरकार सहारा दे सकती है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) और वित्त मंत्रालय ने को-ऑपरेटिव बैंकों के कामकाज में सुधार के लिए कोशिशें शुरू कर दी हैं. इकॉनोमिक टाइम्स में छपी खबर के अनुसार PMC से पैसा निकालने की लिमिट को बढ़ाया जा सकता है. बता दें कि 3 अक्टूबर को रिजर्व बैंक ने PMC बैंक के ग्राहकों के लिए कैश निकालने की सीमा 10,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दी है. अभी इस बैंक के ग्राहक अपने खातों से 25,000 रुपये तक निकाल सकते हैं जबकि पहले वे 10,000 रुपये ही निकाल सकते थे.

25,000 रुपये के विदड्रॉल की लिमिट भी RBI बढ़ा सकता है. एक वरिष्ट अधिकारी के मुताबिक डिपॉजिटर्स के हित और बैंक का रिवाइवल पहली प्राथमिकता है. RBI और वित्त मंत्रालय ने ऐसे बैंकों की निगरानी के लिए व्यवस्था कड़ी करने पर काम शुरू कर दिया है.

ये भी पढ़ें: हर माह 5 हजार रुपये निवेश कर पाएं 45 लाख, साथ में मिलेगी 22 हजार की पेंशन

सीतारमण इस मुद्दे पर RBI गवर्नर शक्तिकांत दास से भी की बातचीत 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस मुद्दे पर RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास के साथ बातचीत की है. उन्होंने दास के साथ मुलाकात के बाद ट्वीट किया था कि गवर्नर ने मुझे आश्वासन दिया है कि क्लाइंट्स और उनकी आशंकाओं को टॉप प्रायरिटी में रखा जाएगा. मैं दोहराना चाहती हूं कि वित्त मंत्रालय सुनिश्चित करेगा कि कस्टमर्स की आशंकाओं का समाधान किया जाए. हम उनकी परेशानियों को समझते हैं.

PMC बैंक के कुछ डिपॉजिटर्स ने पिछले सप्ताह मुंबई में सीतारमण से मुलाकात कर अपनी मुश्किलों की जानकारी दी थी. RBI के लिए ग्रांट थॉर्नटन की ओर से फोरेंसिक ऑडिट किया जा रहा है. सरकार का मानना है कि कोऑपरेटिव बैंकों और सोसाइटीज के कारण फाइनेंशियल सेक्टर के लिए जोखिमों के मद्देनजर इनकी निगरानी को सख्त करना जरूरी है. RBI ने PMC बैंक को सभी बिजनेस एक्टिविटीज छह महीने के लिए बंद करने का ऑर्डर दिया है.

ये भी पढ़ें: दिवाली-छठ पर घर जाने के लिए आसानी से मिलेगी कन्‍फर्म सीट! अपनाएं ये 7 टिप्‍स
Loading...

PMC बैंक के पास लगभग 200 करोड़ रुपये हैं जमा 
कैश विदड्रॉल की लिमिट तय करने का कारण मैनेजमेंट को बैंक की कैश होल्डिंग्स को बाहर निकालने से रोकना है. RBI के मौजूदा और पूर्व एंप्लॉयीज की दो कोऑपरेटिव सोसायटीज के PMC बैंक के पास लगभग 200 करोड़ रुपये जमा हैं. PMC बैंक के डिपॉजिटर्स कैश विदड्रॉल की लिमिट बढ़ाने की मांग कर रहे हैं. बैंक में फ्रॉड के विरोध में और विदड्रॉल लिमिट बढ़ाने की मांग को लेकर डिपॉजिटर्स ने प्रदर्शन भी किए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 11:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...