लाइव टीवी

भारतीय कंपनियों को राहत दे सकती है सरकार, विदेश से पैसा जुटाने में मिलेगी मदद

भाषा
Updated: January 27, 2020, 1:57 PM IST
भारतीय कंपनियों को राहत दे सकती है सरकार, विदेश से पैसा जुटाने में मिलेगी मदद
सरकार भारतीय कंपनियों को विदेश में सूचीबद्धता की दे सकती है मंजूरी

सरकार भारतीय कंपनियों (Indian Firms) को विदेश में लिस्टिंग की मंजूरी दे सकती है. व्यापार गतिविधियां बढ़ाने को इच्छुक कंपनियों को अतिरिक्त कोष जुटाने का विकल्प मिलेगा, वहीं विदेशों में सूचीबद्धता से देश में और पूंजी लाने में मदद मिलेगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार भारतीय कंपनियों (Indian Firms) को अपने इक्विटी शेयर (Equity Shares) विदेश में सूचीबद्ध (Listing) कराने की मंजूरी देने के बारे में निर्णय कर सकती है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. इससे जहां व्यापार गतिविधियां बढ़ाने को इच्छुक कंपनियों को अतिरिक्त फंड जुटाने का विकल्प मिलेगा, वहीं विदेशों में सूचीबद्धता से देश में और पूंजी लाने में मदद मिलेगी.

अधिकारी ने कहा कि कई कंपनियां इक्विटी शेयर को विदेश में सूचीबद्ध कराने को इच्छुक हैं. फिलहाल कुछ भारतीय कंपनियों के पास ‘अमेरिकन डिपोजिटरी रिसीट’ (ADR) हैं, जिसका कारोबार अमेरिका में होता है. वहीं कुछ अन्य कंपनियों के पास ‘ग्लोबल डिपोजिटरी रिसीट’ (GDR) हैं. ये भी पढ़ें: बजट में घर खरीदारों के लिए हो सकते हैं खास ऐलान, ₹5 लाख तक मिल सकती है इनकम टैक्स छूट



अधिकारी ने कहा कि कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय (Corporate Affairs Ministry) और बाजार नियामक सेबी (Sebi) भारतीय कंपनियों को विदेश में सूचीबद्ध कराने की अनुमति देने के पक्ष में हैं. उसने कहा कि अन्य विभागों और नियामकों के भी इस बारे में सहमत होने की उम्मीद है.

अधिकारी ने कहा कि इस बारे में जल्दी ही निर्णय हो सकता है. घरेलू कंपनियों को विदेश में सूचीबद्ध कराने की मंजूरी देने के लिये कंपनी कानून और सेबी नियमन में बदलाव की जरूरत होगी. उसने कहा कि फिलहाल केवल सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (Public Companies) को विदेश में सूचीबद्ध होने की मंजूरी मिल सकती है.

ये भी पढ़ें: बैंक या पोस्ट ऑफिस में निवेश कर भूल गए हैं आप, ऐसे पता लगाकर निकालें पैसा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 1:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर