10 करोड़ों लोगों के खाते में पैसे डालेगी सरकार, इस हफ्ते के अंत में हो सकती है घोषणा

10 करोड़ों लोगों के खाते में पैसे डालेगी सरकार, इस हफ्ते के अंत में हो सकती है घोषणा
आर्थिक पैकेज का ऐलान जल्द

मोदी सरकार कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ाई के लिए 1.50 लाख करोड़ रुपये (19.6 अरब डॉलर) के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा कर सकती है. इस पैकेज के तहत देश के 10 करोड़ गरीब लोगों के खाते में सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. मोदी सरकार कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड के लिए 1.50 लाख करोड़ रुपये (19.6 अरब डॉलर) के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा कर सकती है. इस मामले से जुड़े दो सूत्रों ने रॉयटर्स को यह जानकारी दी. बता दें कि कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा हो चुकी है. सरकार ने अब तक पैकेज को अंतिम रूप नहीं दिया है. सूत्रों के मुताबिक इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) और रिजर्व बैंक (RBI) के बीच चर्चा चल रही है. एक सूत्र ने बताया कि प्रोत्साहन पैकेज 2.3 लाख करोड़ रुपये तक का हो सकता है, लेकिन प्रोत्साहन पैकेज कितने का होगा, इस पर अभी विचार-विमर्श जारी है. इस पैकेज की घोषणा हफ्ते के आखिर हो सकती है.

10 करोड़ों लोगों के खाते में डाले जाएंगे पैसे
सूत्रों ने कहा कि इस पैकेज के तहत देश के 10 करोड़ गरीब लोगों के खाते में सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं. इसके अलावा लॉकडाउन से प्रभावित बिजनेसेज की सहायता का ऐलान भी किया जा सकता है. बता दें कि कोरोना को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया था. देश में संक्रमितों की संख्या 606 हो गई है. इनमें से 11 की मौत हो गई है. वहीं, 42 लोग ठीक होकर अस्पताल से घर जा चुके हैं. हर दिन यह आंकड़ा बढ़ता जा रहा है.

ये भी पढ़ें: LPG रसोई गैस सिलेंडर की किल्लत को लेकर IOC का बयान, ग्राहकों के लिए उठाए बड़े कदम



दोनों सूत्रों ने कहा, सरकार ने 1 अप्रैल से शुरू हो रही वित्त वर्ष 2020-21 के लिए कर्ज में इजाफा कर सकती है. सरकार ने आगामी वित्त वर्ष के लिए 7.8 लाख करोड़ रुपये का कर्ज लेने की योजना बनाई है. उन्होंने कहा कि केंद्रीय बैंक से सरकारी प्रतिभूतियों को खरीदने के लिए कहा गया था, हालांकि महंगाई बढ़ने के डर से पिछले एक दशक से आरबीआई ने ऐसा नहीं किया है. अधिकारी ने कहा, आरबीआई को दुनिया के अन्य केंद्रीय बैंकों की तरह ही बॉन्ड खरीदना पड़ेगा.



ये भी पढ़ें:

कैबिनेट का बड़ा फैसला! 80 करोड़ लोगों को मिलेगा 2 रुपये किलो गेहूं, 3 रुपये किलो चावल

COVID-19: Paytm ने शुरू की नई सर्विस, करोड़ों ग्राहकों को होगा फायदा
First published: March 25, 2020, 7:26 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading