इकॉनमी को डूबने से बचाने के लिए मोदी सरकार बना रही है ये प्लान

इकॉनमी को डूबने से बचाने के लिए मोदी सरकार बना रही है ये प्लान
भारत को मंदी से बचाने के लिए मोदी सरकार ने बनाया खास प्लान!

इकॉनमी (Economy) को मंदी की मार से बचाने के लिए वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) एक खास योजना बना रहा है. सरकार एक ऐसा प्लान बना रही है जिससे इंडस्ट्रीज को प्रोत्साहन मिले.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2019, 12:41 PM IST
  • Share this:
भारतीय अर्थव्यवस्था को मंदी की मार से बचाने के लिए वित्त मंत्रालय एक खास योजना बना रहा है. सरकार एक ऐसा प्लान बना रही है, जिससे इंडस्ट्रीज को प्रोत्साहन मिले. सरकार इंडस्ट्रीज को टैक्स छूट, सब्सिडी और अन्य प्रोत्साहन देने की योजना बना रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पैकेज का लक्ष्य ना सिर्फ उद्योगों की लागत घटाना है, बल्कि 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस' को बढ़ावा देने के लिए भी कदम उठाना है.

इसके साथ ही सरकार राजस्व विभाग के साथ मिलकर कुछ ऐसे उपाय करने का प्लान बना रही है, जिससे ईमानदार करदाताओं को प्रताड़ित नहीं किया जा सके, या फिर जिन्होंने मामूली गलती की है, उन्हें उसके लिए परेशान न किया जाए. प्रधानमंत्री ने इकॉनोमिक टाइम्स को हुए इंटरव्यू में इन कदमों के बारे में जानकारी दी है.

ये भी पढ़ें: यहां निवेश करने पर दो साल में डबल हो जाएगा आपका पैसा!



ये सरकार का एक्शन प्लान



भारतीय उद्योग जगत मांग घटने को लेकर लगातार अपनी चिंता जाहिर कर रहा है. उपभोक्ताओं के हाथ में ज्यादा धन पहुंचे, ताकि उपभोग में तेजी आए. इसके लिए अप्रत्यक्ष दरों में कटौती करना का सरकार का प्लान है. एसोचैम के अध्यक्ष बी के गोयनका का कहना है कि अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन पैकेज की जरूरत है. भारतीय उद्योग जगत ने एक लाख करोड़ रुपये के पैकेज की सिफारिश की है.

सूत्रों की मानें, तो वित्तमंत्री ने विभिन्न बिज़नेस के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की है और उनकी चिंताओं के बारे में जानकारी जुटाई है, ताकि मंदी से निकलने के उपाय किए जा सकें. जिसके आधार पर एक पैकेज तैयार किया जा रहा है, जिसकी घोषणा जल्द ही की जाएगी.

ये भी पढ़ें: होटल अब खाने पर नहीं कर पाएंगे ओवरचार्ज, सरकार लेगी एक्शन

इससे पहले ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ऑटो सेक्टर के लिए एक अलग पैकेज बनाने पर काम कर रही हैं. ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पर जीएसटी दर कम करने और नई खरीद को प्रोत्साहित करने वाली स्क्रैप पॉलिसी की शुरुआत की मांग की है. ऐसा इसलिए किया गया है, क्योंकि जुलाई में यात्री कारों की बिक्री में 35.95 प्रतिशत की गिरावट आई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading