Home /News /business /

केंद्र-राज्‍यों के इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी, सरकार ने दी मंजूरी

केंद्र-राज्‍यों के इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी, सरकार ने दी मंजूरी

खुशखबरी! केंद्र और राज्य सरकार के इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी, सरकार ने दी मंजूरी

खुशखबरी! केंद्र और राज्य सरकार के इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी, सरकार ने दी मंजूरी

AICTE के सभी तकनीकी संस्थान को 7वें वेतन कमीशन के अनुसार अब वेतन मिलेगा. केंद्र सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है. इस फैसले से सरकार पर 1242 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा.

    सभी तकनीकी संस्थानों के कर्मचारियों को 7वें वेतन कमीशन के अनुसार अब वेतन मिलेगा. केंद्र सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है. इस फैसले से सरकार पर 1242 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा. बता दें कि केंद्रीय सरकार ने देश के सरकारी/सरकारी सहायता प्राप्त डिग्री स्तर के तकनीकी संस्थानों के शिक्षकों और अन्य शैक्षणिक कर्मचारियों को 7 वें केंद्रीय वेतन आयोग के हिसाब से सैलरी देने का ऐलान किया है.

    सरकार पर पड़ेगा 1241 करोड़ का बोझ- केंद्र की मोदी सरकार ने मंगलवार को ऐलान किया कि शिक्षकों और एकेडमिक स्टॉफ को 7वें वेतन आयोग का फायदा दिया जा रहा है. न्यूज एजेंसी ANI की खबर के मुताबिक, देश के सभी शिक्षकों, एकेडमिक स्टाफ, टेक्नीकल इंस्टीट्यूट के कर्मचारियों को इसका फायदा मिलेगा. हालांकि, शिक्षकों को दिए गए इस तोहफे से केंद्र सरकार के खजाने पर 1241.78 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा.

    (यह भी पढ़ें- सरकारी कंपनियों में हादसे पर मिलेगा 8 लाख का मुआवजा! नई नीति जल्‍द)


    मिलेगा एरियर- शिक्षकों को फायदा देने के अलावा, केंद्र सरकार ने उन संस्थानों को भी राहत दी है, जो कर्मचारियों को एरियर देंगे. सरकार ने एरियर पर होने वाले खर्च का 50 फीसदी भी वहन करने का ऐलान किया है. 1.1.2016 से 31.3.2019 के बीच एरियर पर जो खर्च होगा, सरकार उसका 50 फीसदी संस्थानों को लौटाएगी.

    यह भी पढ़ें- 
    अलर्ट! रेलवे ने कैंसल की 300 से ज्यादा ट्रेने, फटाफट यहां चेक करें अपनी गाड़ी का स्टेट्स

    Tags: Employees salary, Government of India, Jobs news, Narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर