Home /News /business /

38 करोड़ कामगारों के लिए खुशखबरी, मोदी सरकार ने लॉन्च किया e-Shram पोर्टल

38 करोड़ कामगारों के लिए खुशखबरी, मोदी सरकार ने लॉन्च किया e-Shram पोर्टल

ई-श्रम पोर्टल की लॉन्चिंग के मौके पर केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव (फोटो क्रेडिट- twitter.com/byadavbjp/

ई-श्रम पोर्टल की लॉन्चिंग के मौके पर केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव (फोटो क्रेडिट- twitter.com/byadavbjp/

केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय ने गुरुवार को देश भर के असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों के लिए ई-श्रम (e-Shram) पोर्टल लॉन्च किया. इस पोर्टल से कोई भी मजदूर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इसके जरिए उन्हें सरकार की अलग अलग स्कीम से जोड़ा जाएगा और सुविधा दी जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. देश भर में लगभग 38 करोड़ मजदूर ऐसे हैं जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं. इनमें से ज्यादातर दिहाड़ी मजदूर है. इन लोगों की दशा तब नजर आई थी जब कोरोना लॉकडाउन का ऐलान हुआ था. ऐसे मजदूरों के लिए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को एक डेटा बेस तैयार करने को कहा था. इसी क्रम में गुरुवार को केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव (Bhupender Yadav) ने ई-श्रम पोर्टल (e-Shram Portal) लॉन्च किया.

https://register.eshram.gov.in/ पर जाकर कोई भी मजदूर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इसमें उन्हें अपना आधार नंबर मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर देना होगा. इस पोर्टल पर मजदूर को अपना बाकी ब्योरा जैसे घर का पता और काम करने की क्षमता, शिक्षा का स्तर, आमदनी आदि बताना होगा.


मजदूरों को मिलेगा एक श्रम कार्ड और नंबर
रजिस्ट्रेशन होने के बाद मजदूरों को एक श्रम कार्ड और नंबर दिया जाएगा. ये कार्ड और नंबर पूरे देश भर में माना जाएगा. मजदूर चाहे देश की किसी हिस्से में काम करें उन्हें इस कार्ड से मदद दी जाएगी. इस पोर्टल पर मजदूर अपनी शिकायत भी दर्ज करा पाएंगे. पोर्टल के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जिसमे मजदूर मदद मांग सकते हैं.

ये भी पढ़ें- मात्र ₹10 हजार लगाकर शुरू करें यह कारोबार, हर महीने होगा ₹1 लाख से ज्यादा का मुनाफा, जानें कैसे करें स्टार्ट?

असंगठित क्षेत्र के मजदूरों का डेटा बेस होगा तैयार
इस वेबसाइट का मकसद असंगठित क्षेत्र के मजदूरों का एक डेटा बेस तैयार करना है. रजिस्ट्रेशन के बाद सरकार को इस बात की जानकारी मिल जाएगी की देश में कितने ऐसे मजदूर है, उनका स्तर क्या है और उनको किस तरह की मदद की जरूरत है. इसी के आधार पर केंद्र और राज्य सरकारें मजदूरों के लिए योजना बनाएगी और फिर मजदूरों को उन योजनाओं से जोड़ा जाएगा.

ये भी पढ़ें- TRAI की नई सर्विस: आपके Aadhaar से कितने मोबाइल सिम जारी हुए? अब घर बैठे इस तरह करें चुटकियों में पता

केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और मजदूर संगठनों को इस रजिस्ट्रेशन को कामयाब बनाने के लिए आगे आने की अपील की है. जितने ज्यादा मजदूर रजिस्ट्रेशन कराएंगे, योजनाएं भी उसी आधार पर बनाई जाएंगी.

Tags: Daily Wage Workers, Ministry of Labour and Employment, Modi Govt

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर